त्योहारों में अपना हाजमा दुरुस्त रखने के लिए अपनाएं ये टिप्स

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

गणेश चतुर्थी हिन्दुओं का अहम त्यौहार है इसमें हम सब भगवान गणेश की पूजा करते हैं और उन्हीं की तरह खाते भी हैं। इस त्यौहार में हम लोग अपने घरों मे कई तरह के स्वादिष्ट पकवान और मिठाइयां बनाते हैं और खाते हैं।

गणेश चतुर्थी के इस मौके पर कई बार लोग इतनी ज्यादा मिठाइयाँ और पकवान खा लेते हैं कि उसके कारण उनका पेट खराब हो जाता है।

लगभग हर त्योहारों के बाद ही कुछ लोगों का पेट खराबी हो जाता है और उन्हें डॉक्टर के चक्कर लगाने पड़ते हैं।

ways to prevent indigestion
Ayurvedic Tips For Digestion problems, अगर पाचन रखना है दुरुस्‍त तो आजमाए यें आयुर्वेदिक उपाए | Boldsky
ऐसे में अगर आप कुछ ख़ास टिप्स आजमायें और परहेज करें तो त्योहारों के बाद होने वाली इन दिक्कतों से बच सकते हैं।

हम आपको इस लेख के जरिये बताएँगे कि इस त्यौहार में पेट संबंधी समस्यायों से बचने के लिए आपको क्या करना है।

फाईबरयुक्त खाद्य पदार्थ खाएं :

फाईबरयुक्त खाद्य पदार्थ खाएं :

याद रखें फाईबर युक्त चीजों का इस्तेमाल करने से आपको इन त्योहारों पर कभी भी पेट की समस्या नहीं होगी और आप इस त्यौहार पर कई तरह की चीजें भी आसानी से खा सकते हैं। इसके लिए डाइट में फल, हरी सब्जियों इत्यादि का सेवन बढ़ा दें।

चबाकर खाएं :

चबाकर खाएं :

कई बार आप लोग ज्यादा खाने के चक्कर में उस चीज को चबाते नहीं हैं और सीधे निगल जाते हैं इससे भी आपको कई तरह की पेट की समस्या हो सकती है। इसलिए जो भी खायें उसे धीरे धीरे चबाकर खाएं।

उस दिन व्यायाम भी करें :

उस दिन व्यायाम भी करें :

त्यौहार होने का ये मतलब बिल्कुल भी नहीं कि हम उस दिन काम ही ना करें क्योंकि इससे भी आपको कब्ज़ और कई तरह की समस्या हो सकती है। शारीरिक मेहनत से हमारा पाचन तंत्र ठीक रहता है और हम कई स्वादिष्ट चीजों का स्वाद आसानी से ले सकते हैं इसलिए आप उस दिन व्यायाम करना ना भूलें। व्यायाम करने से भी पाचन सही रहता है और अपच जैसी समस्याएं नहीं होती हैं।

एन्टाएसिड्स का अधिक इस्तेमाल ना करें :

एन्टाएसिड्स का अधिक इस्तेमाल ना करें :

हमारे पेट के लिए एसिड बहुत महत्वपूर्ण होता है क्योंकि यह कई तरह के हानिकारक बैक्टीरिया को मारता है और पेट का पाचन ठीक रखता है। आप लोगों को जब यह लगता है कि आपने ज्यादा खा लिया है तो आप एन्टाएसिड का अधिक इस्तेमाल करने लगते हैं जिससे एसिड कम होता है और बैक्टीरियल इन्फेक्शन होने के आसार बढ़ जाते है इसलिए आप इसका अधिक इस्तेमाल न करें।

पाचन संबंधी एंजाइम लें :

पाचन संबंधी एंजाइम लें :

पाचन संबंधी एंजाइम कई तरह के औषधीय पौधों से बनाए जाते हैं ये हमारी पाचनक्रिया को एकदम ठीक रखते हैं। यह कब्ज़ और कई तरह की पेट की समस्यायों को दूर करने के सबसे अच्छे तरीकों में से एक है। अगर हाजमा ठीक नहीं है तो इसका सेवन कर सकते हैं।

English summary

Ganesh Chaturthi Special; Ways To Prevent Indigestion After The Festival

Know about the ways to prevent indigestion naturally this festive season. Read to know now to prevent indigestion.
Story first published: Monday, August 28, 2017, 11:00 [IST]
Please Wait while comments are loading...