बॉडी को डिटॉक्स करने और बीमारियों से बचने के लिए ट्राई करें ये 7 जड़ी-बूटी

By Lekhaka
Subscribe to Boldsky

टॉक्सिन लगभग हर जगह होते हैं। हवा से सांसे लेते समय और खाने के जरिये आपके शरीर में पहुंचते हैं। टॉक्सिन आपके शरीर को गंभीर नुकसान पहुंचाता है।

इससे आपको थकान, मूड स्विंग, कब्ज या दस्त, सूजन और विभिन्न त्वचा संबंधी परेशानियां हो सकती हैं।

चूंकि पूरी तरह से टॉक्सिन को अनदेखा करना संभव नहीं है, इसलिए आप समय-समय पर उनमें से छुटकारा पाने का प्रयास कर सकते हैं। एक डिटॉक्स डायट लेकर आप अपने सिस्टम को साफ कर सकते हैं।

Detoxify

हम आपको कुछ ऐसी जड़ी-बूटियों के बारे में बता रहे हैं, जो टॉक्सिन को कम करने में मदद कर सकती हैं।

Boldsky

पुदीना

इसे भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं, जो पाचन में मदद करता है। आप अपने सिस्टम को साफ करने के लिए पुदीने की चाय पी सकते हैं।

इसका कूलिंग इफेक्ट पड़ता है और त्वचा की जलन दूर करता है। इसके अलावा यह खून को साफ करता है और सांस की बदबू से लड़ता है।

त्रिफला

त्रिपला को हीलिंग और पौष्टिक गुणों के लिए जाना जाता है। रात में खाने के एक घंटे बाद त्रिफला ड्रिंक पीने से आपको फायदा होता है।

एक चम्मच त्रिफला पाउडर के साथ बराबर मात्रा में अमलाकी, बिभातीकी और हरिताकी लें और एक कप पानी में मिक्स करके पी लें। इससे आपका पेट साफ होता है।

धनिया

इसमें जीवाणुरोधी, डेटोक्सीफाई और प्रतिरक्षा बढ़ाने वाले तेल शामिल हैं। यह पाचन में मदद करता है, मतली से बचाता है, पेट में ऐंठन और रक्त शर्करा को भी संतुलित करता है।

यह लीवर से पित्त को छोड़ देता है जो पाचन में मदद करता है और विषाक्त पदार्थों को नष्ट करने के लिए महत्वपूर्ण है।

बॉडी से टॉक्सिन कम करने के लिए आपको रोजाना पुदीने का पानी पीना चाहिए।

नीम

नीम के पत्ते लीवर के लिए वाकई अच्छे हैं और पाचन में सहायता भी करते हैं।

दैनिक आधार पर नीम के पत्तों का सेवन से आंत्र पथ में बैक्टीरिया और कई अन्य हानिकारक सूक्ष्मजीवों को नष्ट कर सकता है, और पाचन में सुधार भी करता है।

मिल्क थिसल

इसे आमतौर पर "सिल्मारिन" कहा जाता है। भूमध्यसागरीय देशों में पाए जाने वाले एक जड़ी बूटी है, लेकिन अब दुनिया के अन्य भागों में उपलब्ध है।

इस जड़ी-बूटी के बीज और पत्तियों से शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर निकाला जा सकता है।

इसे भोजन से पहले खाली पेट खाया जाता है। आप एक चम्मच गर्म पानी के कप में मिल्क थिसल के बीज मिक्स करके पी सकते हैं।

तुलसी

एंटी-बैक्टीरियल और एंटीइंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर तुलसी के पत्ते शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालने के लिए एकदम सही हैं।

आप इसका रस पी सकते हैं या हर्बल चाय बना सकते हैं। आप तुलसी और नीम के पत्तों का साथ-साथ उपयोग कर सकते हैं।

अपनी पानी की बोतल में दोनों जोड़ें और पूरे दिन पीते रहें।

सिंहपर्णी

यह जड़ी-बूटी शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है। इसकी मूत्रवर्धक प्रकृति गुर्दे और मूत्राशय को शुद्ध करती है।

इसमें उच्च मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट्स और फ्लैनोनोइड्स होते हैं जो कि जिगर साफ करने की प्रक्रिया के लिए बहुत उपयोगी होते हैं।

वे पित्त के उत्पादन में मदद करते हैं और शरीर के बाहर विषाक्त पदार्थों को निकालते हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    Toxins cause acne: Here are 7 herbs to detox your body

    Toxins are almost everywhere. When you take respiration from the air and eat it in your body. Toxin causes serious damage to your body. This can cause fatigue, mood swings, constipation or diarrhea, swelling and different skin problems.
    Story first published: Friday, October 6, 2017, 8:30 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more