छींक को बीच में रोकने से आपको हो सकता है ये बड़ा नुकसान

By Lekhaka
Subscribe to Boldsky

छींक आना भी एक समस्या है। बार-बार छींक आने पर आप अपने काम पर फोकस नहीं कर पाते हैं। कई बार ऐसा होता है छींक बीच में ही अटक जाती है।

वास्तव में ऐसी स्थिति काफी परेशानी वाली होती है। छींक आने पर नाक से पानी की छींटें भी आती है, जो तीस फुट तक जा सकती हैं।

 Why You Shouldn’t Control Your Sneeze
5 way to sleep with mouth closed and avoid problems | इन 5 तरीकों से सोएं मुंह बंद करके | Boldsky

इसकी गति प्रति घंटे 20-40 मीटर के बीच है। हम आपको बता रहे हैं कि छींक को क्यों रोका जाना चाहिए और क्यों दूसरे लोगों को छींक से प्रभावित नहीं किया जाना चाहिए।

छींक को क्यों नहीं रोकना चाहिए

जब आप लोगों के आसपास होते हैं और छींक आती है, तो आप इसे नियंत्रित करते हैं क्योंकि आप सार्वजनिक रूप से छींकना नहीं चाहते। लेकिन आप जानते हैं कि क्या छींक को रोकना आपके लिए हानिकारक है और छींक दूसरों के लिए हानिकारक है।

क्या इससे नुकसान हो सकता है

कुछ मामलों में तेज छींक को रोकने से आपके इयरड्रम को नुकसान हो सकता है। यह कहीं न कहीं आंख में किसी ब्लड वेसल को प्रभावित कर सकती है।

अन्य नुकसान

छींक को रोकने के कारण खतरनाक हो सकता है छींक का दबाव अन्य क्षेत्रों जैसे खोपड़ी या साइनस की तरह बढ़ जाता है।

बॉडी रिकवर हो सकती है

बेशक, छींक को रोकने के कारण नुकसान को स्वाभाविक रूप से शरीर की मरम्मत के रूप में ठीक किया जा सकता है। लेकिन अभी भी शोधकर्ताओं का कहना है कि यह तेज छींक को रोकना उचित नहीं है।

भीड़ में छींक आने पर क्या करें

ऐसे मामले में आप मुंह पर रुमाल रखकर छींक सकते हैं। इससे आपको संक्रमण को फैलाने से रोकने में मदद मिलेगी।

इससे क्या रोग हो सकते हैं

फ्लू, इन्फ्लूएंजा और आम सर्दी मुख्य रोग हैं जो आसानी से छींक के माध्यम से फैल सकती हैं।


For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    छींक को बीच में रोकने से आपको हो सकता है ये बड़ा नुकसान | Why You Shouldn’t Control Your Sneeze

    A sneeze is strange. A sneeze is a forcible blow of air and water droplets from the mouth. Do you know what happens if you control your sneeze?
    Story first published: Tuesday, August 1, 2017, 10:30 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more