For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

कान की सफाई से जुड़ी है ये गलतफहमियां, जाने क्‍या है सच

|

शरीर की बाकी हिस्‍सों की सफाई की तरह कान और नाक की सफाई बहुत जरुरी होती है। गर्मी और उमस की वजह से कान में बैक्‍टीरिया पनपने लगते है इसल‍िए समय-समय पर कान की सफाई होती रहनी चाह‍िए। हालांकि लोग कान की सफाई की ओर ज्यादा ध्यान नहीं देते और हल्‍की सी खुजली होने पर खुद ही कान में तिली डालकर उसका इलाज करते हैं। लेकिन वहीं दूसरी तरफ कान के मैल व सफाई को लेकर कई तरह की गलत धारणाएं व भ्रांतियां लोगों में हैं। जानते हैं सच्‍चाई क्‍या है।

कान में वैक्‍स नहीं होना चाहिए, यह नुकसानदायक है

कान में वैक्‍स नहीं होना चाहिए, यह नुकसानदायक है

वास्‍तविकता : इयरवेक्‍स (जिसे सामान्‍य बोलचाल में मैल कहा जाता है) जो कान में कुदरती तरीके से बनता है और कई तरह से फायदेमंद होता है। यह धूल-मिट्टी और कण जैसे बाहरी अवयवों को कान में प्रवेश करने से रोकता है और ये कान को अधिक संक्रमण से बचाता है।

रोजाना कान साफ करना चाह‍िए

रोजाना कान साफ करना चाह‍िए

वास्‍तविकता : कान में वेक्‍स खुद-ब-खुद बाहर न‍िकलता है। कभी-कभी कान की गुहा पतली या टेड़ी-मेड़ी होने पर यह अंदर जा रह जाता है। या फिर पानी जाने से फूल जाता है जब व्‍यक्ति असहज महसूस करता है। ऐसे में विशेषज्ञों की मदद लेनी चाह‍िए।

 इयरबड से करनी चाह‍िए कान की सफाई?

इयरबड से करनी चाह‍िए कान की सफाई?

वास्‍तविकता : तीली या इसी प्रकार की अन्‍य वस्‍तुएं वेक्‍स के केवल बाहरी सतही भाग को छूकर निकाल पाते हैं। लेकिन साथ ही मुख्‍य भाग को और अंदर धकेल देते हैं। कान के पर्दे के पास वैक्‍स के फंसने का मुख्‍य कारण इन चीजों का इस्‍तेमाल करना ही है। इन वस्‍तुओं से कान के पर्दे में चोट और संक्रमण का खतरा रहता है।

 गरम तेल फायदेमंद होता है?

गरम तेल फायदेमंद होता है?

दर्द होन, सुन्‍न होने आदि पर कान में गरम तेल डालने से कान में फंगल इंफेक्‍शन व अन्‍य समस्‍या पैदा कर सकता है।

ध्‍यान रखें

ध्‍यान रखें

सड़कों पर कान साफ करने वालों को घूमते देखा होगा, जो हाथ में सलाई पकड़कर कान की सफाई करते हैं, जिनसे कान की सफाई कराना बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। ये लोग एक ही सलाई का इस्तेमाल कई लोगों के कानों में करते हैं, इससे भी इंफेक्शन तेजी से फैलता है। इसके साथ ही यह लोग कानों के अंदर तक सिलाई डालते हैं, जिससे कान के पर्दे फट सकते हैं। ऐसे कई केस अस्पताल में आते हैं, जिसमें कान की गलत तरीके से सफाई के दौरान पर्दे फट जाते हैं।

English summary

Popular Misconceptions about Safe Ear Cleaning and Earwax

Here are 5 common myths about ear cleaning; now that you know the truth, you can start to practice smart habits and safe ear care.
Story first published: Friday, May 10, 2019, 14:36 [IST]
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more