For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

कार्तिक पूर्णिमा के दिन इन चीजों का दान करने से मिलेगा मनचाहा फल

|

कार्तिक माह की पूर्णिमा भगवान विष्णु को समर्पित है। इस बार कार्तिक पूर्णिमा 8 नवंबर को पड़ने वाली है। हर साल कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष को कार्तिक पूर्णिमा मनाई जाती है। कहते हैं इस दिन विष्णु जी के मत्सयावतार का भी जन्म हुआ था। कार्तिक पूर्णिमा को बेहद महत्वपूर्ण पूर्णिमा माना जाता है। इस पूर्णिमा को गंगा स्नान भी कहा जाता है। इसके अलावा इसे त्रिपुरा पूर्णिमा भी कहते हैं, क्योंकि इस दिन भगवान शिव ने त्रिपुरासुर नामक राक्षस का वध किया था। कहते हैं त्रिपुरासुर के अंत के बाद सभी देवी देवता बेहद प्रसन्न थे इसलिए उन्होंने काशी में दिये जलाए थे। यही वजह है कि इस दिन देव दिवाली भी मनाई जाती है।

कार्तिक पूर्णिमा के दिन लोग मणिकर्णिका घाट पर स्नान करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है। इसके अलावा इस दिन दान करना भी बेहद शुभ माना जाता है।

कार्तिक पूर्णिमा शुभ मुहूर्त

07 नवंबर शाम 04 बजकर 15 मिनट से कार्तिक पूर्णिमा तिथि की शुरुआत हो जाएगी। 08 नवंबर की शाम 04 बजकर 31 मिनट पर इसका समापन होगा। उदयातिथि के अनुसार, कार्तिक पूर्णिमा इस बार 08 नवंबर को ही पड़ेगी।

कार्तिक पूर्णिमा पर इन चीजों का करें दान

कहते हैं कार्तिक पूर्णिमा के दिन बैल का दान करने से शिव पद प्राप्त होता है। वहीं गाय, हाथी, घोड़ा, रथ और घी आदि का दान करने से आर्थिक पक्ष मजबूत होता है। ग्रहयोग के कष्टों के नाश के लिए भेड़ का दान करना चाहिए। आप गरीबों को भोजन भी करा सकते हैं और अपनी क्षमता अनुसार उन्हें दान भी कर सकते हैं।

कार्तिक पूर्णिमा के दिन दीपदान

कार्तिक पूर्णिमा के दिन दीपदान का बहुत ही महत्व होता है। कहते हैं इस दिन जो भी तुलसी जी के आगे दीपक जलाता है देवी लक्ष्मी उससे बेहद प्रसन्न होती हैं और उसके जीवन से दुख दरिद्रता दूर हो जाती है। कार्तिक पूर्णिमा के दिन है तुलसी जी का अवतरण हुआ था।

ऐसे पाएं विष्णु जी की कृपा

चूंकि कार्तिक पूर्णिमा भगवान विष्णु को समर्पित है, इसलिए इस दिन उनकी विशेष कृपा प्राप्त करने के लिए आप उनकी पूजा-अर्चना करें। इसके अलावा गंगा नदी में भी स्नान करें। कहते हैं कार्तिक पूर्णिमा के दिन गंगा नदी में स्नान करने से सारे कष्ट दूर हो जाते हैं और मनोकामनाएं भी पूरी होती है।

यदि आप गंगा नदी में स्नान करते हैं तो अपने हाथ में कुश लेना न भूलें। ऐसा करने से सौभाग्य और अच्छे स्वास्थ्य का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

कार्तिक पूर्णिमा का महत्व

कार्तिक पूर्णिमा के दिन गरीबों की मदद करने से ईश्वर का आशीर्वाद प्राप्त होता है। इस दिन आप गरीबों को भोजन कराएं या फिर आप उन्हें कपड़े, वस्त्रों आदि का दान भी कर सकते हैं। इस दिन दान करने से ईश्वर बेहद प्रसन्न होते हैं।

यह दिन गुरु नानक देव जी की जयंती का भी प्रतीक है। सिख समुदाय के लोग इसे गुरुपर्व के रूप में मनाते हैं। इस वजह से इस पूर्णिमा का महत्व और बढ़ जाता है।

English summary

Kartik Purnima 2022 is on 8th november in Hindi

Kartik Purnima 2022 Puja Vidhi, Mantra, Vrat Katha, Puja Samagri and Importance in hindi.
Story first published: Tuesday, November 8, 2022, 12:43 [IST]
Desktop Bottom Promotion