OMG..इस गांव में 10 रुपए के स्‍टाम्‍प पर मुहर लगाकर बेच दी जाती है लड़कियांं

Subscribe to Boldsky

जमाने बदल गए, सरकारे बदल गई, ना बदला तो महिलाओं पर होने वाला शोषण। जहां एक तरफ सरकार महिलाओं के विकास के लिए कई सारी योजनाएं संचलित कर रहे है वहीं गांवों कूचो में आज भी महिलाएं छोटी सी उम्र में यातनाओं और शोषण का शिकार हो रही हैं।

इस बाजार में बिकती है नई नवेली दुल्‍हनें, लाखों रुपए में बिकती है यहां वर्जिन टीनएजर दुल्‍हन

सरकारी प्रयासों के बावजूद कन्या भ्रूण हत्या के मामले अब तक थमे नहीं है। देशभर में आलम ये है कि एमपी में लिंगानुपात में अंतर लगातार बढ़ता जा रहा है। इसके भयावह परिणाम अब तक हम सुनते ही थे, इन्हें देखना हो, तो एमपी के शिवपुरी में जाना होगा।

इस जनजाति में बेटी को करना पड़ता है अपने पिता से शादी और बनना पड़ता है अपनी ही मां की सौतन

जहां बेटियों की कमी ने ऐसी कुप्रथा को जन्म दिया है, जो सामाजिक परिवेश के ढांचे को ही हिलाकर रख देती है। 10 रुपए से लेकर 100 रुपए के स्टाम्प पर पहले एक को फिर मियाद खत्म होने पर पर किसी और के हाथों बेच दी जाती हैं बेटियां।

Boldsky

धड़ीचा नामक कुप्रथा

मध्यप्रदेश के शिवपुरी में प्रचलित है यह कुप्रथा और ये फल-फूल भी रही है। धड़ीचा नामक यह प्रथा औरतों की खरीद फरोख्त की इसी प्रथा है। जिसकी शिकार युवतियों के पति स्टाम्प पर साइन होते ही बदल जाते हैं।

ऐसे होती है सौदेबाजी

इस प्रथा में सौदा तय होने के बाद बिकने वाली औरत और खरीदने वाले पुरुष के बीच अनुबंध किया जाता है। यह अनुबंध 10 रुपए से लेकर 100 रुपए तक के स्टाम्प पर किया जाता है।

मियाद पूरी होते ही , फिर नया सौदा

रकम ज्यादा होने पर संबंध लंबे समय स्थाई रहते हैं और कम राशि होने पर जल्द ही खत्म हो जाते हैं। फिर अनुबंध खत्म होने के बाद लौटी महिला का दूसरे के साथ सौदा कर दिया जाता है।

अस्तित्‍व में है ये कुप्रथा

एक महिला ने बताया कि इस कुप्रथा को खत्म करने के लिए कई बार सरकार ने भरसक प्रयास भी किए है। लेकिन कभी भी आज तक कोई भी इस प्रथा को समाप्‍त करने के लिए सामने नहीं आया इसलिए आज भी ये कुप्रथा आस्तित्‍व में इसे सरकार के सामने भी उठाया गया। लेकिन, जब तक पीडि़त महिलाएं खुद सामने नहीं आएंगी, खुद विरोध नहीं करेंगी। तक तक इस प्रथा पर रोक नामुमकिन है।
ये स्टाम्प पर बेटी के सौदे वाली ये प्रथा इशारा है कि घटते लिंगानुपात के कारण हम फिर से एक सदियों पुरानी कुरीति के दलदल में फंसने की शुरुआत कर चुके हैं।

    English summary

    OMG..इस गांव में 10 रुपए के स्‍टाम्‍प पर मुहर लगाकर बेच दी जाती है लड़कियांं | Girls in this village are sold on Rs 10 stamp paper

    in Shivpuri,the 'deed of divorce' is prepared on a Rs 10 stamp paper, and the marriage is formalised on Rs 100 stamp paper. You Can Buy Girl On 10 Rupees Stamp.
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more