For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

    जानिए कौन कौन से देशों में बैसाखी को धूमधाम से मनाया जाता है।

    By Super Admin
    |

    हममें से अधिकतर लोग जानते हैं कि बैसाखी का उत्सव खालसा की वर्षगांठ है, जिसका प्रतिनिधित्व गुरु गोविंद सिंह करते हैं। हालांकि इसकी स्थापना भारत में होने से यहां इसका खास महत्व है। 

    क्‍या है इस रंग-रंगीले त्‍योहार बैसाखी का महत्व

    लेकिन जितना म‍हत्‍व इस त्‍योहार का भारत में है उतने ही चाव से दुनिया के कोने-कोने में सिख समुदाय इस शानदार और पवित्र त्योंहार को अपने तरीके से मनाते हैं। आइए जानते है कि बैसाखी की धूम दुनिया के कौन कौन सी जगह देखने को मिलती है। 

     पाकिस्तान

    पाकिस्तान

    बैसाखी का त्योंहार बड़े स्तर पर पाकिस्तान में पश्चिमी पंजाब में सिख समुदाय द्वारा मनाया जाता है। यह त्योंहार हसन अब्दल में पंजा साहिब कॉम्प्लेक्स में, ननकाना साहिब के कई गुरुद्वारों में और लाहौर के कई एतिहासिक स्थानों पर मनाया जाता है।

    Image Source

     मलेशिया

    मलेशिया

    पहले मलेशिया में इसे सार्वजनिक अवकाश नहीं माना जाता था, जब तक कि यहां सिख समुदाय को अल्पसंख्यक नहीं माना जाने लगा। फिर भी प्रधानमंत्री नजीब रजाक ने सिख सरकारी कर्मचारियों के लिए इस दिन छुट्टी का प्रावधान रखा। मलेशिया में यह उत्सव ‘ओपन हाउस' के रूप में मनाया जाता है।

    यूनाइटेड स्टेट्स

    यूनाइटेड स्टेट्स

    लॉस एंजिल्स और मैनहट्टन में खास तौर पर वैशाखी का त्योंहार मानाया जाता है। मैनहट्टन के सिख इस दिन खाना और मेहनत का काम दूसरों के लिए करके ‘सेवा' करते हैं। गुरुद्वारे में पूरे दिन कीर्तन भी होता है और साथ ही जुलूस भी निकाला जाता है।

    यूनाइटेड किंग्डम

    यूनाइटेड किंग्डम

    बर्मिंघम में अधिक संख्या में सिख होने कारण यहां यह त्योंहार बड़े स्तर पर मनाया जाता है। हैंड्सवर्थ पार्क में 1 लाख से अधिक लोग इस त्योंहार को मनाते हैं। इस साल यह त्योंहार और भी बड़ा होगा क्यों कि बर्मिंघम सिख गुरुद्वारा काउंसिल (सीएसजीबी) अपनी वर्षगांठ मनाती है। इस उत्सव के दौरान ‘सिमरन' भी होगा जिसमें आध्यात्मिक ध्यान के दौरान भगवान के नाम का जाप किया जाएगा। इंग्लैंड में भी यह त्योंहार साउथहॉल, ग्रेव्सेंड, और विलनॉल में मनाया जाता है।

    कनाडा

    कनाडा

    सिखों की संख्या बहुत अधिक होने के कारण यहां इस त्योंहार का नज़ारा देखते बनता है। एक बड़ी परेड होती है जिसमें लगभग 2 लाख लोग भाग लेते हैं। शानदार परफ़ोर्मेंस होने के कारण इसे देखने के लिए कई समुदायों के लोग इकट्ठे होते हैं। इस साल कनाडा में 13 अप्रैल को एक लिमिटिड एडिशन चांदी का सिक्का निकाला गया है जिससे इस त्योंहार का रंग और भी जमेगा।

    Image Source

    English summary

    Dynamic celebrations of Vaisakhi around the world

    Sikh communities all around the world engage in an overwhelming festivity to mark this auspicious day.
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more