छोटे बच्चों को गाय का दूध पिलाने से हो सकती हैं पाचन समस्याएं- स्टडी

By Lekhaka
Subscribe to Boldsky

रैपिड सर्वे ऑन चिल्ड्रेन (आरएसओसी) बताता है कि एक साल से कम उम्र के स्तनपान से वंचित शिशुओं को अच्छे स्वास्थ्य के लिए गाय का दूध दिया जाता है।

लेकिन चिकित्सकों का मानना है कि छोटी उम्र में बच्चों को यदि गाय का दूध दिया जाए तो उन्हें सांस लेने में दिक्कत होने से साथ पाचन संबंधि समस्याएं हो सकती हैं।

दरअसल गाय के दूध में मौजूद प्रोटीन बचाने में उस उम्र के बच्चे सक्षम नहीं होते हैं। इसलिए उन्हें बार-बार दस्त होने जैसी समस्या पैदा हो सकती है।

 Pay attention! Cow's milk may be harmful to infants: study

भारत में 42 फीसदी शिशु ऐसे हैं जिन्हें किसी कारणवश मां का दूध नहीं मिल पाता है। कभी-कभी मां में लैक्टेशन की समस्या के चलते पर्याप्त दूध नहीं निकलता और शिशु को ऊपरी दूध भी देना पड़ता है।

ऐसे में बच्चे का उचित पोषण बनाए रखने और पेट भरने के लिए गाय का दूध सर्वोत्तम माना जाता है। शिशु रोग विशेषज्ञों का कहना है कि अगर गाय का दूध बहुत छोटी उम्र में दिया जाए जैसे नवजात या 3 से 6 माह की अवधि तो इस उम्र में लौह तत्व की सांद्रता कम होने से बच्चों में एनीमिया का खतरा भी हो सकता है। साथ ही यह दूध बच्चों की अपरिपक्व किडनी पर भी असर डालता है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    Read more about: baby milk
    English summary

    छोटे बच्चों को गाय का दूध पिलाने से हो सकती हैं पाचन समस्याएं- स्टडी | Pay attention! Cow's milk may be harmful to infants: study

    Babies who are not able to get the mother's milk for a reason has an alternative choice which is cow's milk.
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more