For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

जानें श‍िशु को कहां लगती है सबसे ज्यादा ठंड, जानें कैसे सर्दियों में रखें को गर्म

|

मौसम बदलने के साथ ही कुछ जगहों पर ठंड ने दस्तक देना भी शुरू कर दिया है। मौसम में होने वाले इस अचानक बदलाव को महसूस करके वयस्‍क ठंड से बचने के सारे प्रयत्‍न करते हैं। लेक‍िन नवजात श‍िशु की समस्‍या बढ़ने लगती है। क्‍योंकि दूधमुंहे बच्‍चें चाहकर भी अपनी पीड़ा क‍िसे को बता नहीं सकते हैं। मौसम की ठंड और हवा से बचाने के लिए शिशु को सही तरह से ढकना या कपड़े पहनाना जरूरी होता है। इसके लिए आपको इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि शिशु को सबसे ज्यादा ठंड किन अंगों में लगती है, ताकि आप उन अंगों को विशेष तौर पर मोटे कपड़े से ढकें या उनमें मोटा कपड़ा पहनाएं।

सिर को ढकना है जरूरी

सिर को ढकना है जरूरी

नवजात शिशु के सिर को हर समय ढककर रखना चाहिए। इसका कारण यह है कि सिर का तापमान अगर कम होता है, तो इसका असर पूरे शरीर पर पड़ता है। इसलिए बच्चे को ठंड से बचाने के लिए टोपी पहनाएं या सिर को किसी कपड़े से ढककर रखें। यह भी ध्यान रखें कि शिशु की टोपी ज्‍यादा टाइट न हो और मुलायम कपड़े की हो।

तलवों से भी लग सकती है ठंड

तलवों से भी लग सकती है ठंड

हमारे शरीर का तापमान कंट्रोल करने में तलवे बड़े महत्वपूर्ण होते हैं। नन्हे शिशु भले ही सारे समय बिस्तर पर लेटे रहते हैं और जमीन पर पैर नहीं रखते हैं, फिर भी उन्हें तलवों से ठंड लग सकती है। इसलिए शिशु को मोजा पहनाना या पैरों की तरफ कपड़ा लपेटना जरूरी है। मोजा पहनाने से शिशु के तलवों के साथ-साथ पूरे शरीर का तापमान नियंत्रित रहता है।

नाक को गर्म रखें

नाक को गर्म रखें

नाक एक महत्वपूर्ण अंग है। ज्यादातर जर्म्स, बैक्टीरिया और हानिकारक धुंआ आदि शिशु के नाक के रास्ते ही उसके शरीर में प्रवेश करते हैं। इसलिए शिशु के नाक की सुरक्षा करनी भी जरूरी है। मगर इसके लिए आपको शिशु की नाक को ढकना नहीं है, क्योंकि बहुत महीन कपड़ा भी उसको सांस लेने में तकलीफ पैदा कर सकता है। इसके बजाय यह करें कि शिशु की नाक को बीच-बीच में गर्म हाथों से सिंकाई करें या गर्म तेल से मसाज करें। कोशिश करें कि कमरे का तापमान बहुत कम न हो।

हाथों से ठंड

हाथों से ठंड

ठंड के मौसम में शिशु को कई बार हाथों से भी ठंड लग जाती है। इसलिए शिशु को हाथों में मुलायम दस्ताने पहनाएं और पूरी बांह के कपड़े पहनाएं। लेकिन ध्यान रखें कि रात में सुलाते समय शिशु के शरीर को (मुंह नहीं) कंबल से ढकें, तब दस्ताने न पहनाएं, अन्यथा शिशु की नींद प्रभावित हो सकती है।

शरीर को गर्म रखने के लिए मसाज करें

शरीर को गर्म रखने के लिए मसाज करें

शिशु के शरीर को गर्म रखने के लिए तेल की मसाज बहुत फायदेमंद होती है। ठंडे मौसम में शिशु की मसाज के लिए सरसों का तेल बेस्ट होता है। अगर आपके शिशु को हल्की जुकाम या सर्दी लगने के लक्षण हैं तो आप सरसों के तेल में ही अजवायन और कटे हुए लहसुन के टुकड़े गर्म करके उस तेल से मालिश करें। दिन में कम से कम 1 बार मालिश करना जरूरी है। लेकिन इसके लिए बहुत सुबह या बहुत रात का समय न चुनें। सबसे अच्छा समय है कि आप धूप में शिशु को लेकर उसके सारे कपड़े उतारकर मालिश करें, ताकि उसे ठंड भी न लगे और शरीर की मालिश भी हो जाए।

English summary

How to Keep Baby Warm in Winter

let’s find out some wonderful ways to make sure that your newborn isn’t uncomfortable during winters and stays warm and healthy.