For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

इन देशों में बच्चों का ये नाम रखने पर है पाबंदी, एक बार जरुर देख लें लिस्ट

|

जब भी हमारे घर में किसी बच्चे का जन्म होता है तो पूरा परिवार उसके नाम को लेकर काफी एक्साइटेड हो जाता है। घर का हर एक सदस्य उसके लिए नाम ढुंढने में लग जाता है। हर कोई अपने आस-पास या इंटरनेट की मदद से बच्चे के लिए एक प्यारा सा नाम ढुढने में लगे रहते है। पूराने जमाने के नाम से लेकर मॉडर्न टाइम के नामों के सुझाव उनके जहन में आते हैं। भारत में वैसे कानूनी तौर पर आप बच्चे का कुछ भी नाम रख सकते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि कुछ ऐसे भी देश हैं जहां बच्चों के नाम रखने को लेकर उनके माता-पिता को जेल तक हो सकती है। जी हां कई देशों में बच्चों के कुछ नाम रखने पर बैन है। वहां बच्चों के नाम रखने को लेकर सरकार ने कुछ दिशा-निर्देश जारी किए हैं। जिसका पालन करना वहां के नागरिकों के लिए जरुरी है। अगर आप अपने परिवार के साथ विदेश जाकर रहने की सोच रहे हैं, तो अपने बच्चों का भूलकर भी ये नाम न रखें। आज हम इस लेख के जरिए आपको उन देशों के बारे में बताएंगे, जहां बच्चों के कुछ नाम रखने पर पाबंदी हैं।

फ्रांस

फ्रांस

फ्रांस का न्यायालय अपने बच्चों और वहां के नागरिकों का बहुत ध्यान रखता हैं। फ्रांस में कोर्ट ने बच्चों के उन नामों को बैन किया है, जिनकी वजह से बच्चों का मजाक उड़ाया जा सकता है। अगर बच्चे का नाम ऐसा हो जिसके चलते बच्चे का जीवनभर मजाक उड़ सकता है, तो कोर्ट उस नाम को बैन करने का फैसला ले सकती है। वहां बैन नामों में स्ट्रोबेरी, न्यूटिला, डेमोन, प्रिंस विल्यिम, मिनी कॉपर ये नाम शामिल हैं।

जर्मनी

जर्मनी

जर्मनी में बच्चों के नाम रखने को लेकर बहुत सख्त नियन, कानून बनाए गए हैं। इन नियमों के मुताबिक लड़कों और लड़कियों के नाम एक जैसे नहीं होने चाहिए। किसी खाद्य पदार्थ या सामान के आधार पर बच्चों का नाम रखने पर पूरी तरह पाबंदी है। जिन नामों पर बैन है उनमें कुछ नाम माटी, ओसामा बिन लादेन, एडोल्फ हिटलर ये हैं।

स्विट्ज़रलैंड

स्विट्ज़रलैंड

स्विट्ज़रलैंड में भी बच्चों का नाम रखने के लिए बहुत ही कड़े नियम बनाए गए हैं। यहां बच्चों के नाम सिविल रजिस्ट्रार की तरफ से अप्रूव करवाना अनिवार्य होता है। कोर्ट के बनाए नियमों के मुताबिक बच्चे को ऐसा कोई भी नाम न दिया जाए जिससे उसे किसी तरह का नुकसान हो। या किसी और की भावनाओं को उस नाम से ठेस पहुंच सकें। खासकर बाइबिल में मौजूद किसी बुरे व्यक्ति के नाम पर, किसी ब्रांड, जगह या सरनेम के नाम पर बच्चे का नाम नहीं रखा जा सकता है। स्विट्जरलैंड में जुडस, चैनल, पेरिस, मर्सिडिज नामों पर बैन है।

डेनमार्क

डेनमार्क

डेनमार्क में माता-पिता अपनी मर्जी से अपने बच्चे का नाम नहीं रख सकते हैं। वहां की सरकार ने पहले से ही बच्चों के नाम की एक लिस्ट तैयार कर रखी है। अगर किसी पेरेट्स को बच्चे का अपनी मर्जी से नाम रखना है, तो उन्हें सरकार से उसके लिए अनुमति लेनी पड़ती है। इस देश में हर साल एक हजार नाम रिन्यू किए जाते हैं। यहां जेकब, ऐशली, एनस, मंकी, प्लूटो नाम बैन किए गए हैं।

मलेशिया

मलेशिया

मलेशिया में जानवरों, गाली, संख्या, शाही व्यक्तियों के नाम और भोजन के नाम पर बच्चों के नाम रखने पर सख्त पाबंदी है। इस देश में ऐसे नामों को गैर-कानूनी माना जाता है। इन नामों में वोटी, चो तो, सोर चाय शामिल है।

मेक्सिको

मेक्सिको

मेक्सिको देश के सोनोरा में बच्चों के 61 नामों पर पाबंदी है। ये सभी वो नाम हो जिनका कोई अर्थ नहीं है, या तो ये अपमानजनक हैं, या फिर ये चिढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकते हैं। इन नामों में फेसबुक, रामबो, हेरमोनी, बेटमैन नाम शामिल हैं।

English summary

List of countries that are banned naming certain baby names in hindi

In our country parents can name their child whatever they want. But there are many countries where the government has banned some names of children. Even the parents can be jailed for naming the ban. Through this article, we are telling you about those countries and the banned names there.
Story first published: Monday, September 19, 2022, 11:35 [IST]
Desktop Bottom Promotion