न्‍यूली मैरिड कपल को 'शगुन' में कंडोम और गर्भनिरोध‍क देगी यूपी सरकार

Subscribe to Boldsky

यूपी सरकार ने परिवार नियोजन को बढ़ावा देने के लिए व बढ़ती हुई जनसंख्‍यां को रोकने के लिए एक नई पहल शुरु की है, जिसमें सरकार नए नवेले शादी शुदा जोड़े को शगुन किट दे रही है। इस किट में मैरिड कपल को कंडोम ओर गर्भ निरोधक गोलियां उपहार में दिया जाएगा। इस काम के लिए सरकार ने आशा वर्कर्स को चुना है। जो घर-घर जाकर नवविवाहित जोड़े को किट देगी।

शगुन की इस किट में स्वास्थ्य विभाग की तरफ से एक पत्र भी होता है, जिसमें परिवार नियोजन के फायदों के बारे में लिखा होगा। इस पत्र का उद्देश्य नवविवाहित जोड़ों को जनसंख्या नियंत्रण के लिए सचेत करने के साथ 2 बच्चों तक ही परिवार को सीमित रखने के लिए प्रोत्साहित करना है। विश्व जनसंख्या दिवस 11 जुलाई को इस योजना की शुरुआत हो गई हैं।

Boldsky

ये होंगे किट में

इस योजना का उद्देश्य नवविवाहित जोड़ों को पारिवारिक और वैवाहिक जीवन के दायित्वों के लिए तैयार करना है। नए जोड़ों के लिए नई पहल किट में पति और पत्नी के लिए आपातकाल में प्रयोग की जाने वाली गर्भनिरोधक गोलियां, सामान्य गर्भनिरोधक गोलियां और कॉन्डम होंगे।
किट में स्वास्थ्य और सफाई के लिए जरूरी कुछ सामान भी होंगे। किट में एक शीशे और कंघी के साथ कुछ रुमाल और तौलिये होंगे। साथ ही सामान्य भाषा में गर्भनिरोध से जुड़े सवाल-जवाब भी होंगे।

आशा वर्कर्स करेंगी ये काम

आशा वर्कर्स हेल्थ किट नवविवाहितों को देंगी। खासकर ये किट ऐसे जोड़े को उपलब्‍ध करवाना है जो गांव ढाणियों में रहते हैं और जो पढ़-लिख नहीं सकते उनको आशा वर्कर्स पूरी जानकारी देंगी।

सामुदायिक स्‍वास्‍थय केंद्र में फ्री में होंगी अल्‍ट्रासांउड

इस स्‍क्रीम की सफलता के लिए यूपी सरकार ने सामुदायिक स्‍वास्‍थय केंद्र में फ्री में अल्‍ट्रासाउंड करने की सुविधा का भी ऐलान किया था।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    Newly weds to get condoms as 'shagun' from UP govt

    The population control initiative from the Centre is to be implemented across 145 districts with High Fertility rates.
    Story first published: Wednesday, October 4, 2017, 15:00 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more