हफ्ते में कितनी बार बाल धोना चाहिए?, रोजाना शैम्‍पू करने से क्‍या होगा

By Deeksha Mishra
Subscribe to Boldsky

बालों को हफ्ते में कितनी बार शैम्‍पू करना चाहिए? इस सवाल का कोई स्‍पष्‍ट जवाब शायद नहीं है। यहां, हम आपको बताएंगे कि आपको अपने बालों को अक्सर शैंपू क्यों करना चाहिए या नहीं। शैम्पूइंग करने को लेकर लोगों के अलग-अलग मत है। कुछ लोगों को मानना है कि रोज शैम्पूइंग करने से बाल सूखे और निर्जीव बन जाते हैं, वहीं जिनका स्कैल्प ऑयली होता है वे अपने बालों को रोजाना धोते हैं।

शैम्पूइंग करना आपके स्कैल्प पर निर्भर करता है। अगर आपके बाल प्राकृतिक रूप से तैलीय होते हैं, तो शैंपू एक एम्‍लसिफायर के रूप में कार्य करता है, जो खोपड़ी और बालों पर अतिरिक्त तेल, गंदगी और अन्य अवशेषों को हटा देता है। जबकि लोग कहते हैं कि कम शैंपू या अपने बालों को शैम्पूइंग करना सप्ताह में एक बार अच्छा होता है। हालांकि, कोई विशेष सबूत नहीं है जो बताता है कि आपके बालों को कितनी बार शैंपू की आवश्यकता होती है।

what-will-happen-if-you-do-not-shampoo-every-day

तो हम आज बता रहे हैं कि आपको अपने बालों को शैम्पू कब और कितनी बार करना चाहिए।


शैंपू  करना

यदि आपके बाल मध्यम प्रकार के हैं, तो यह सामान्यरूप से ऑयली होते होंगे। ऐसे में आप कुछ दिन या कभी-कभार बिना शैंपूइंग के रह सकते हैं। मध्यम प्रकार के बालों पर शैंपूइंग बालों को सूखा और निर्जीव बना सकता है। यह पता लगाने के लिये कि आपके बाल मॉइस्चराइज्ड दिखते हैं, तो आपको कुछ प्राकृतिक तेल बरकरार रखने की आवश्यकता होगी। यह प्राकृतिक तेल भी रक्षक घेरे के रूप में कार्य करता है।
हालांकि, अगर आपका स्कैल्प ऑयली है तो आपको रोजाना बाल धुलते होंगे। नहीं तो बाल चिपचिपे और चिकने दिखने लगते होंगे।आपकी खोपड़ी से आपके कंधों पर गिरने वाली सफेद रूसी का मतलब यह नहीं है कि आपके बाल सूखे है। बल्कि, इस सिचुएशन में आपके बाल कई बार शैंपूइंग मांगते हैं।

आपको रोजाना शैंपू क्यों करना चाहिए?

शैंपू आपकी खोपड़ी और बालों से तेल निकाल देता है और शैंपूइंग करने से आपके बाल सूखे और फ्रिजी दिखने लगते हैं।  जिनके बाल पतले होते है या जो अधिक शारीरिक परिश्रम करते है जिससे ज्यादा पसीना आता हो या जो लोग उमस भरे वातावरण में रहते हो, उनके द्वारा अपने बालों को रोज शैम्‍पू करना ठीक है। यदि स्कैल्प ज्यादा ऑइली हो, तो रोज़ शैम्‍पू करना जरूरी व फायदेमंद होता है। 

सप्ताह में एक बार अपने बालों को धोना आपके बालों को स्वस्थ रखने के लिए ठीक है। नियमित ब्रशिंग और पाउडर का इस्तेमाल आपके बालों को सुंदर और टेंगल-फ्री दिखाता है। कम शैंपूइंग आपके बालों की गुणवत्ता को बनाए रखने में मदद करता है, खासकर अगर आप उन गतिविधियों से बचें जो आपके बालों को नुकसान पहुचां सकती हैं। कई बार आप अपने बालों को स्टाइलिश दिखाने के लिये बालों में कर्लिंग, फ्लाइंग, ड्रायर और आयर्निंग का इस्तेमाल करते होंगे, लेकिन इसका उपयोग सीमित ही करें।

हर रात अपने बालों को कंघी करने के लिए एक बोअर ब्रिस्टल ब्रश का प्रयोग करें। इससे आपके बालों में सेबम को फिर से फैलने में मदद मिलेगी। रोजाना शैंपूइंग करना आपके बालों के लिए नुकसानदेह हो सकता है, क्योंकि शैंपू में कई तरह के कैमिकल्स पाए जाते हैं। कई शैंपू में सुंगध लाने के लिये carcinogen and hormone disrupter diethyl phthalate (DEP) का इस्तेमाल किया जाता है। साथ ही शैंपू में झाग लाने के लिये इसमें सोडियम लॉरिल सल्फेट (एसएलएस) मिलाया जाता है। हालांकि, इससे आपकी त्वचा में जलन हो सकती है और कैंसर का खतरा भी बढ़ सकता है।

कैसे जानें कि आपका ऑयली स्कैल्प है?

यदि आपका बाल बहुत चिकना हो जाता है, तो इसके लिये एक दिन छोड़कर शैंपूइंग करते रहें। लेकिन सवाल यह उठता है कि क्या आपके बालों के लिये हर दूसरे दिन शैंपू करना पर्याप्त होगा? खैर इसका जवाब काफी आसान है, इसके लिये आपको हर सुबह शीशे में देखकर अपने बालों पर उंगलियां चलानी होंगी और आपको इसका जवाब मिल जाएगा। 

इसके अलावा, ऑयली स्कैल्प आपकी खोपड़ी में खुजलाहट पैदा करता है। हर बार जब आप खुजलाने के लिए अपने बालों में उंगलियां डालते हैं तो वे सेबम की एक फिल्म को खींच लेती हैं। ऑयली स्कैल्प वालें लोगों की स्किन भी ऑयली होती है। इसके अलावा, यदि आपको बहुत पसीना आता हैं, तो कम से कम पानी से अपने बाल धोते रहिए।


हेयर केयर एक्सपर्ट्स क्या कहते हैं?


विशेषज्ञों का मानना है कि हर किसी को हर तीसरे दिन बालों को शैंपू करना चाहिए और रोजाना हल्के कंडीशनर का उपयोग करना चाहिए। जब आप शैंपूइंग नहीं करेंगे, तो उन दिनों में कंडीशनर आपके बालों से तेल को हटाने में मदद करेगा।
जब आप शैंपू के बाद कंडीशनर का इस्तेमाल करते हैं तो यह बालों को फिर से खराब कर देता है। यदि शैंपूइंग की दूसरी सुबह आपको अपने बालों में तेल दिखता है तो आप ड्राय शैंपू से अपने बालों को धो लें और इसे हवा में सूखने दें। यह अतिरिक्त तेल को अवशोषित करेगा। यह आपके बालों के खोए हुए टेक्स्चर और वॉल्यूम को दुबारा वापस लाएगा। शुष्क शैंपू का इस्तेमाल पूरे तेल को अवशोषित नहीं करेगा, लेकिन यह अतिरिक्त तेल को अवशोषित जरूर करेगा।

संक्षेप में, हर दिन शैंपूइंग ठीक नहीं है। शैंपू का सीमित इस्तेमाल करने से शैंपू के हानिकारक कैमिकल्स आपकी खोपड़ी और बालों को प्रभावित नहीं करेंगे। सप्ताह में एक बार अपने बालों को शैंपू करें और यह आपके बालों को स्वस्थ रखने के लिए पर्याप्त होगा। आप हर रात अपने बालों को ब्रश करें ताकि सेबम आपके बालों में फिर से फैल जाए, जिससे आपके बालों में प्राकृतिक नमी बनी रहे।
बालों को स्टाइलिश दिखाने के लिये जैल न लगाएं। ये लंबे समय तक आपके बालों को नुकसान पहुंचाते हैं। यदि आपके बाल ऑयली है तो हल्के शैंपू का इस्तेमाल करें ताकि आप हर दूसरे दिन अपने बाल धुल सकें। हमेशा अपने बालों और खोपड़ी की सफाई रखें। और यकीन माने कि आपके स्वस्थ बाल सुंदर, चमकदार और डैमेजफ्री दिखेंगे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    हफ्ते में कितनी बार बाल धोना चाहिए?, रोजाना शैम्‍पू करने से क्‍या होगा | What Will Happen If You Do Not Shampoo Every Day?

    The talk on how often should you shampoo is something that no one has yet got the ideal and technically correct answer to. Here we are to understand the reason of why you should or should not shampoo your hair often. So, how often should you wash your hair?
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more