शरीर को ठंडा रखना है तो जरुर खाएं ज्‍वार

Posted By:
Subscribe to Boldsky

ज्‍वार की रोटी को अगर गर्मी में छाछ या साग के साथ खाया जाए तो शरीर को ठंडक पहुंचती है, इसलिये आपको यह पौष्टिक ज्‍वार का आटा अपने घर पर जरुर रखना चाहिये। यह गेहूं की रोटी का सबसे बेहतर विकल्‍प बन सकता है। ज्‍वार में काफी सारा पोटेशियम, फास्‍फोरस, कैल्‍शियम और आयरन होता है। क्‍या आप जानते हैं कि ज्वार की खेती भारत में बहुत प्राचीन काल से होती आई है । पर यह चारे के लिये बोई जाती थी, अन्न के लिये नहीं।

ज्‍वार बहुत ज्‍यादा पौष्टिक होता है और स्‍वास्‍थ्‍य के लिये बहुत ही लाभकारी मान जाता है। इसमें बहुत सारा फाइबर होता है। ज्‍वार को खाने से वजन नहीं बढ़ता, किसी प्रकार का हृदय रोग नहीं होता, मधुमेह और कब्‍ज को दूर रखता है। ज्‍वार हमारी हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाए रखता है। यह आटा गेहूं के आटे से कई गुना बेहतर होता है। ज्वार के आटे में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। यह ग्लुटेन रहित और नॉन एलर्जिक होता है।

बाजरा या रागी के स्वास्थ्य सम्बन्धी लाभ

 Sorghum Health Benefits

ज्‍वार खाने के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ-

1. ज्वार बवासीर और घावों में लाभदायक है।

2. ज्वार विटमिन बी कॉम्प्लेक्स का अच्छा स्त्रोत है। शाकाहारी लोगों के लिए ज्वार का आटा प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत है।

3. शोध बताते हैं कि यह कुछ खास प्रकार के कैंसर के खतरों को भी कम करता है। साथ ही यह हृदय और मधुमेह रोगियों के लिए आटे का अच्छा विकल्प है।

4. ज्वार के दानों की राख बनाकर मंजन करने से दांतो का हिलना, उनमें दर्द होना बंद हो जाता है तथा मसूढ़ो की सूजन भी समाप्त हो जाती है।

5. ज्वार के कच्चे दाने पीसकर उसमें थोड़ा कत्था व चूना मिलाकर लगाने से चेहरे के मुंहासे दूर हो जाते हैं।

6. अगर गर्मी की वजह से शरीर में जलन है, तो ज्‍वार का आटा पानी में घोल लें, फिर उसका शरीर पर लेप करे।

7. यह पेट की जलन को मिटाता है। भुनी ज्वार बताशो के साथ खाने से पेट की जलन, अधिक प्यास लगना बंद हो जाते है।

English summary

Sorghum Health Benefits

New molecular evidence confirms that sorghum is completely gluten-free, and reports that the grain provides health benefits that make it a worthy addition to any diet.
Story first published: Monday, May 12, 2014, 15:34 [IST]
Please Wait while comments are loading...