मानसून ने दी दस्तक, डॉक्टरों ने बाहर की चीजें खाने-पीने को किया मना

By Staff
Subscribe to Boldsky

मानसून के दस्तक देते ही डॉक्टरों ने स्ट्रीट फूड ना खाने-पीने की चेतावनी दी है। उनका मानना है कि इस मौसम में बाहर की गंदी चीजें खाने से टाइफाइड, डायरिया, पैराटिफ़ॉइड, हैजा और गैस्ट्रोएन्टेरिटिसिस आदि का खतरा हो सकता है।

जगह-जगह जल भराव के कारण इन्फेक्शन फैलने का अधिक खतरा होता है। डॉक्टरों का यह भी कहना है कि सावधानी बरतने पर मॉनसून की बीमारियों से निपटा जा सकता है।

किल्पोक मेडिकल अस्पताल के डीन डॉक्टर पी वसंतहानी के अनुसार, मौसम में बदलाव होने से डेंगू बुखार और कोल्ड होना आम है। मानसून के दौरान लोगों को मलेरिया, डायरिया और हैजा को लेकर अतिरिक्त सावधान रहने की आवश्यकता होती है। पीने और खाना पकाने के लिए उबले पानी का इस्तेमाल कर इन समस्याओं से बचा जा सकता है।

 Doctors warn against eating outside food

डॉक्टर के अनुसार, फल और सब्जियां स्वास्थ्य के लिए अच्छे हैं, लेकिन उन्हें गर्म पानी में धोया जाना चाहिए। डॉक्टरों ने सड़क के किनारे खाने और पेय की खपत के बारे में चेतावनी दी है, जो न सिर्फ पेट और पेट दर्द का कारण बनते हैं बल्कि इनसे विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं का भी खतरा है।

डॉक्टर एसोसिएशन फॉर सोशल वेलफेयर के सदस्य डॉक्टर एआर शांति के अनुसार, सड़क किनारे मिलने वाले पेय पदार्थों को पीने से बचना चाहिए। क्योंकि इनमें बर्फ मिला होता है। ज्यादातर बर्फ साफ पानी में तैयार नहीं होता है, जिससे इन्फेक्शन का खतरा होता है।

अपोलो स्पेशलिटी अस्पताल के डॉक्टर डॉक्टर अनीता रमेश ने कहा, पानी जमा होने से उसमें मच्छर तेजी से पैदा होते हैं और इससे आपको मलेरिया, डेंगू और अन्य प्रकार के बुखार का अधिक खतरा होता है।

उन्होंने कहा कि बारिश के पानी के कारण बच्चों में लेप्टोस्पायरोसिस के बढ़ने के अधिक खतरा होता है। बच्चे बाहर खेलते हैं जिस वजह से उन्हें इन्फेक्शन का खतरा होता है। इसलिए पेरेंट्स उनका ध्यान रखें और अगर बच्चा बारिश के पानी में खेलता है, तो उसे उन्हें गर्म पानी से नहलाएं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    मानसून ने दी दस्तक, डॉक्टरों ने बाहर की चीजें खाने-पीने को किया मना | Doctors warn against eating outside food

    With seasonal changes and the onset of monsoon, doctors warn against consumption of roadside food and drinks saying that they would heighten chances of typhoid, diarrhea, paratyphoid, cholera and gastroenteritis.
    Story first published: Tuesday, June 20, 2017, 7:00 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more