ज्यादा खीरा खाने से आपको हो सकती हैं ये 3 खतरनाक समस्याएं

By Lekhaka
Subscribe to Boldsky

इसमें कोई शक नहीं है कि खीर खाने से आपके अनगिनत स्वास्थ्य फायदे होते हैं। गर्मियों में कूल रहने के लिए आप इसे सलाद के रूप में अपनी डायट में शामिल कर सकते हैं।

कम कैलोरी होने की वजह से वजन घटाने वालों के लिए इससे बेहतर विकल्प कुछ नहीं है। कहते हैं किसी भी चीज का अधिक सेवन नुकसानदायक होता है, खीरे के मामले में भी कुछ ऐसा ही है।


Boldsky

1) टॉक्सिसिटी

खीरे में कुकुर्बिटाइन्स नामक यौगिक शामिल होते हैं जो बड़ी मात्रा में अत्यधिक विषैले होते हैं। इन विषाक्त पदार्थों के कारण लीवर, अग्न्याशय, पित्त मूत्राशय और गुर्दा सहित अन्य अंगों में सूजन हो सकती है। गंभीर मामलों में यह मल्टी-आर्डर डिसफंक्शन रोग पैदा कर सकता है और यह घातक भी हो सकता है।

2) जल विषाक्तता

खीरे में 96 फीसदी पानी होता है और इसके अधिक सेवन से जल विषाक्तता का खतरा होता है। इससे आपका इलेक्ट्रोलाइट असंतुलन बिगड़ सकता है। यह एक ऐसी स्थिति जिसे आमतौर पर पानी की जहर के रूप में जाना जाता है।

3) डायरिया और पेट में ऐंठन

खीरे का अधिक सेवन करने से आपको डायरिया, पेट में ऐंठन, पेट फूलना आदि की समस्या हो सकती है। कुकुर्बिटाइन्स नामक यौगिक केवल खीरे के छिलकों में होता है। आपको कड़वे खीरे का सेवन करने से बचना चाहिए। इतना ही नहीं अगर अगर खीरे में इस यौगिक की मात्रा अधिक भी नहीं है, तो भी आपको इसका अधिक सेवन नहीं करना चाहिए।

एक दिन में कितने खीरे खाने चाहिए?

वैसे इसके लिए कोई तय नियम नहीं है लेकिन आपको एक दिन में दो से चार खीरे ही खाने चाहिए। कई लोग वजन कम करने के लिए इसे बेहतर समझकर इसका अधिक सेवन करने लगते हैं, जिससे उन्हें खतरा हो सकता है।

English summary

ज्यादा खीरा खाने से आपको हो सकती हैं ये 3 खतरनाक समस्याएं | What Happens If You Eat Too Many Cucumbers? How Much Is Too Much?

Cucumbers are a healthy food as long as you eat them in moderation. Cucumbers contain fiber and water which means that consuming them in moderation will help to prevent digestive disorders.
Story first published: Saturday, August 5, 2017, 12:00 [IST]
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more