सर्दियों में जोड़ों की अकड़न और दर्द से कैसे करें बचाव

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

सर्दियों में मौसम में जोड़ों की समस्‍या जोर पकड़ लेती है। दर्द और जकड़न से अक्‍सर लोग परेशान रहते हैं। जिन लोगों को गठिया आदि की समस्‍या होती है उनके लिए सर्दी का मौसम बेहद कष्‍टदायी होता है क्‍योंकि इस दौरान जोड़ों में सूजन आ जाती है और नसों में सिकुड़न आती है, साथ ही सूजन भी होने लगती है।

READ: गठिया रोग के दर्द को भगाने के 10 घरेलू उपाय

ऐसे में कई बार दर्द की दवाईयां खाना जरूरी हो जाता है। लेकिन यदि परिवार में किसी को ऐसी समस्‍या हर साल होती है तो आप आसान उपायों से उनके दर्द और जकड़न को कम कर सकते हैं। अगर आपको ही ये समस्‍या है तो बोल्‍डस्‍काई के इस आर्टिकल को ध्‍यान से पढ़ें।

1. संतुलित खुराक लेना:

1. संतुलित खुराक लेना:

शरीर को फिट रखना बेहद आवश्‍यक है, इसके लिए संतुलित आहार लें। विटामिन डी और के से भरपूर खाद्य सामग्री का सेवन अवश्‍य करें। विटामिन सी के लिए इस मौसम में संतरा और पालक, बंदगोभी व टमाटर का सेवन करें। ऐसे फलों और सब्जियों को खाएं कि शरीर में कैल्शियम की कमी न होने पाएं।

 2. पर्याप्‍त मात्रा में पानी पीना:

2. पर्याप्‍त मात्रा में पानी पीना:

दिन में कम से कम 8 गिलास पानी पिएं। इससे शरीर में डिहाईड्रेशन नहीं होता है। साथ में ओमेगा 3 एसिड की खुराक भी लें, जो कि मछलियों में पाया जाता है।

3. एक्टिव रहें:

3. एक्टिव रहें:

आलस्‍य न करें। चलें, टहलें। हमेशा बैठे या लेटे न रहेंं। इससे जोड़ों में जकड़न और महसूस होगी। डॉक्‍टर्स भी यही सलाह देते हैं।

 4. सूर्य की रौशनी में बैठें:

4. सूर्य की रौशनी में बैठें:

धूप में बैठने से शरीर को विटामिन डी मिलता है। इसलिए, जोड़ों की समस्‍या वाले लोगों को दिन में 10 मिनट धूप में बैठना चाहिए। सर्दियों में 45 मिनट तक बैठने से काफी राहत मिलती है।

5. गर्म रहें:

5. गर्म रहें:

हीटिंग पैड, गर्म पानी से सेंक, गर्म तौलिया आदि को दर्द वाली जगह पर लपेट कर रखें। ऐसा सिर्फ 20 मिनट तक ही करें, वरना ऊतकों को नुकसान पहुंच सकता है। बॉडी को वॉर्म बनाएं रखने वाली एक्‍सरसाइज भी कर सकते हैं।

English summary

सर्दियों में जोड़ों की अकड़न और दर्द से कैसे करें बचाव

Many tend to ignore the pain or take painkillers, and postpone a visit to the doctor. Though it is best to consult a doctor if there is recurring pain, tweaking your lifestyle can help ease symptoms and cope better.
Please Wait while comments are loading...