ट्रैफिक के शोरगुल से बढ़ जाता है हार्ट अटैक का खतरा

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

हाईवे के नजदीक रहना, आपके दिल के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। हाल ही में किए गए एक अध्‍ययन के अनुसार, ट्रैफिक शोर के कारण हार्टअटैक पड़ने का खतरा बढ़ जाता है। सड़क पर होने वाला शोर, रेल ट्रैफिक शोर, हवाईयात्रा के दौरान होने वाले शोर से व्‍यक्ति के दिल पर गहरा असर पड़ता है।

NOW I SAVE 25% On Every Beauty Product I Purchase! But How? Click To Know

अध्‍ययन के लिए, जर्मनी के प्रौद्योगिकी के ड्रेसडेन विश्‍वविद्यालय से एंड्रियास सीडलर और उनके मित्रों ने पूरे जर्मनी में कई वर्षों तक मूल्यांकन सांविधिक स्वास्थ्य बीमा कंपनियों से जानकारी को प्राप्‍त किया और अध्‍ययन किया।

traffic

सेकेंडरी डेटा के इस केस-कंट्रोल स्‍टडी में, इन अध्‍ययनकर्ताओं ने पाया कि जो लोग राइन-मुख्‍य क्षेत्र में रहते थे, जहां शोर बहुत ज्‍यादा होता था, ऐसे लोगों की तादाद हार्टअटैक से मरने के कारण काफी ज्‍यादा है। यह 2005 के आंकडों के आधार पर निष्‍कर्ष निकाला गया था।

जब ऐसे सिर्फ ऐसे रोगियों पर ही 2014 और 2015 में अध्‍ययन किया गया जिनकी मृत्‍यु हार्टअटैक से हुई थी, तो शोर और दिल के दौरे का गहरा सम्‍बंध, शोधकर्ताओं को नज़र आया। इस बारे में एंड्रियास सीडलर और उनके साथियों का मानना है कि ध्‍वनि प्रदूषण का प्रभाव, सबसे ज्‍यादा व्‍यक्ति के कानों और दिल पर पड़ता है। हवाई यातायात के दौरान भी 65 डेसीबल से अधिक का शोर नहीं होना चाहिए, वरना यात्रियों को दिक्‍कत हो सकती है।

traffic1

उन लोगों से इस बात के भी संकेत देखें है कि यातायात का प्रभाव, व्‍यक्ति के स्‍वास्‍थ्‍य पर भी गहरा असर डालता है। हालांकि, शोधों में अब तक सिर्फ शोर और दिल के दौरे के बारे में ही पता लगाया गया है।

यह अध्‍ययन, यूरोप भर में फैले, नोरा ((शोर-संबंधित झुंझलाहट, अनुभूति, और स्वास्थ्य) द्वारा करवाये गए एक अध्‍ययन का हिस्‍सा है।

(आईएएनएस से जानकारी के अनुसार)

English summary

Traffic Noise Increases Heart Attack Risk: Study Reveals

Living near the highway could cost your heart dear as researchers have found that risk of heart attack goes up with the amount of traffic noise to which you are exposed.
Please Wait while comments are loading...