दिल्‍ली हुई जहरीली: जानें स्‍मॉग से कैसे करें खुद और परिवार का बचाव

Subscribe to Boldsky
Smog, स्मोग | क्या है स्मोग और कैसे है खतरनाक, जानें | Boldsky

आज कल वायु प्रदूषण भला किस शहद में नहीं है, लेकिन अगर दिल्‍ली की बात करें तो वह जहरीले स्‍मॉग के चपेट में आ कर खतम होती हुई नज़र आ रही है। यदि आप सोंच रहे हैं कि दिल्‍ली में ठंड बढ़ने की वजह से ऐसी धुंध छाई हुई है तो आप गलतफहमी में जी रहे हैं।

आज यहां जहां भी नज़र डालो, लोग प्रदूषित हवा में रुमाल या मास्क के सहारे बचते हुए नज़र आ रहे हैं। आखिर यह स्‍मॉग है क्‍या और इससे बचने के लिये हम क्‍या कर सकते हैं, इसकी पूरी जानकारी हम अपको देंगे।

 Delhi air turns toxic: Causes, effects and what you need to do

स्‍मॉग क्या है?

स्‍मॉग वायु प्रदूषण का एक रूप है। यह धुआं और कोहरे का एक मिश्रण है। यह स्मोक और फॉग से मिलकर बना है जिसका मतलब है स्मोकी फॉग, यानी कि धुआं युक्त कोहरा। इस तरह के वायु प्रदूषण में हवा में नाइट्रोजन ऑक्साइड्स, सल्फर ऑक्साइड्स, ओजोन, स्मोक और पार्टिकुलेट्स घुले होते हैं। हमारे द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले वाहनों से निकलने वाला धुआं, फैक्ट्रियों और कोयले आदि के जलने से निकलने वाला धुआं इस तरह के वायु प्रदूषण का प्रमुख कारण होता है।

air pollution

स्मॉग का कारण क्या है?

राजधानी दिल्‍ली का बॉर्डर हरियाणा और उत्तर प्रदेश जैसे कृषि राज्‍यों से जुड़ा हुआ है। यहां के लोग फसल कटने के बाद उसके अवशेषों को जला देते हैं जिससे स्मॉग की समस्या उत्पन्न होती है। इसके अलावा एक और यह भी कारण है कि दिल्‍ली में सुप्रीम कोर्ट से बैन होने के बावजूद राजधानी के बहुत से इलाकों में भारी मात्रा में पटाखे आदि फोड़े गए। इसके अलावा बढ़ती कारें, ट्रक्‍स, बस आदि भी प्रदूषण पैदा करने में पीछे नहीं हैं। दिल्‍ली में यह दूसरी बार ऐसा हो रहा है कि प्रदूषण का लेवल इतना हाई चला गया है।

 1. कम से कम निकलें घर से

1. कम से कम निकलें घर से

यदि आप सुबह मॉनिंग वॉक पर या फिर किसी अन्‍य काम से घर से बाहर निकलते थे, तो अब ऐसा करना थोड़ा कम कर दें। आप चाहें तो घर पर ही व्‍यायाम कर सकते हैं और प्रदूषित हवा से बच सकते हैं। बाहर जाने का प्रोग्राम तभी बनाएं जब ओजोन का स्तर कम हो।

2. अपने आप को ढंक कर रखें

2. अपने आप को ढंक कर रखें

वायु प्रदूषण हमारी स्‍किन के लिये काफी नुकसानदायक है। इसलिये जब भी घर से बाहर निकले तो पूरे शरीर को ढंक कर निकलें। इसके बाद अगर घर वापस आएं तो नहाएं जरुर।

3. स्‍मॉग से बचने के लिए यह खाएं

3. स्‍मॉग से बचने के लिए यह खाएं

यदि आप खुद और अपने परिवार को इस स्‍मॉग से बचाना चाहता हैं तो गुड़ का सेवन करें। जी हां, अपनी डाइट में गुड़ को शामिल करके आप स्मॉग से होने वाली परेशानियों से बच सकते हैं। क्योंकि गुड़ में एंटी एलर्जिक गुण शामिल होते हैं, जिस वजह से ये अस्थमा रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होता है।

4. शहद से अपनी इम्‍यूनिटी बढाएं

4. शहद से अपनी इम्‍यूनिटी बढाएं

स्‍मॉग की मोटी परत आपको कई तरह की बीमारियां जैसे सर्दी, गले में खराश, निरंतर खांसी और अन्य श्वसन समस्याएं दे सकती है। इस दौरान खुद को हाइड्रेट रखें और इम्‍यूनिटी बढाने के लिये शहद खाएं। इसमें विटामिन, मिनरल्‍स और एंटीऑक्‍सीडेंट होते हैं जो कि आपके गले को आराम पहंचाएंगे। आधे इंच अदरक को घिस कर उसमें शहद मिलाएं और सेवन करें।

 5. नीम का प्रयोग करें

5. नीम का प्रयोग करें

नीम, खून से गंदगी को बाहर निकालती है। साथ ही यह शरीर की इम्‍यूनिटी को भी बढाती है। इसमें एंटी बैक्‍टीरियल और एंटी फंगल गुण होते हैं जो स्‍किन का साफ और हेल्‍दी रखने में फायदेमंद होते हैं।

6. ओटमील जरुर खाएं

6. ओटमील जरुर खाएं

अपने शरीर को पूरा पोषण देने के लिये अपने नाश्‍ते में ओटमील शामिल करें। इसमें ढेर सारा फाइबर तथा प्रोटीन होता है जो कि आपके ब्‍लड शुगर लेवल को कंट्रोल करेगा और इम्‍यूनिटी बढाएगा।

7. खाना बनाने के लिये जैतून के तेल का प्रयोग करें

7. खाना बनाने के लिये जैतून के तेल का प्रयोग करें

ऑलिव ऑइल यानी की जैतून का तेल शरीर की इम्‍यूनिटी बढाने के लिये जाना जाता है। इसको अपने खाने में यूज़ करें।

8. तुलसी और अदरक की चाय पिएं

8. तुलसी और अदरक की चाय पिएं

दिन में रोज़ दो बार तुलसी और अदरक की चाय पिएं। इससे आपकी इम्‍यूनिटी बढेगी। इसके साथ ही अगर आपको तुलसी की पत्‍तियों का रस मिल जाए तो रोजाना 10-15 ml उसे भी पिएं।

9. हल्‍दी वाला दूध पिएं

9. हल्‍दी वाला दूध पिएं

रोजाना रात को सोने से पहले गुनगुना हल्‍दी वाला दूध जरूर पिएं।

 10. लहसुन का प्रयोग करें

10. लहसुन का प्रयोग करें

अपने खाने में लहसुन का प्रयोग करें क्‍योंकि यह आपके रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाएगी और बीमारियों को दूर रखेगी। इसके अलावा रोजाना एक लहसुन और कुछ ताजी नीम की पत्‍तियों को मिला कर खाएं।

 11. सिट्रस फलों को डाइट मे शामिल करें

11. सिट्रस फलों को डाइट मे शामिल करें

नींबू, आंवला, संतरे जैसे फलों में ढेर सारा विटामिन सी होता है,जिसे खाने से आपकी इम्‍यूनिटी बढेगी और आप कभी बीमार नहीं पड़ेंगे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    Delhi air turns toxic: Causes, effects and what you need to do

    Try to stay indoors as much as possible. Here are some home remedies to protect yourself from deadly air pollution.
    Story first published: Thursday, November 9, 2017, 12:02 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more