सुडौल स्‍तनों और पीरियड के दर्द से छुटकारा के लिए पीएं मेथी की चाय

Subscribe to Boldsky

ब्‍लड शुगर के मरीजों के लिए मेथी को किसी वरदान से क‍म नहीं माना गया है। मेथी ब्लड में ग्लूकोज को कम करने वाले गुणों के लिए जाना जाता है। इसलिए, लोग मेथी को सब्जी या लड्डू में मिलाकर खाते हैं।

सर्दियों में तो भारत में लोग खास तौर से मेथी के लड्डू बनाकर इसका सेवन करते है ताकि उनका इम्‍यून सिस्‍टम बरकरार रहें। मेथी न केवल डायबिटीज़ के मरीज़ों के लिए अच्छी है, बल्कि यह महिलाओं के लिए कई मायनों में फायदेमंद साबित हो सकती है। मेथी ब्रेस्टफीड कराने वाली महिलाओं में दूध ज़्यादा बनाता है। यह शरीर में आयरन की मात्रा को बढ़ाने और मेनोपॉज के लक्षणों को कम करने के लिए भी जाना जाता है।

हालांकि, कई महिलाओं को पता नहीं होगा कि मेथी की चाय पीने से पीरियड्स के दौरान पेट में होने वाले दर्द से राहत मिलती है। जी हां! आपको बस इतना ही करना है कि, पीरियड्स के दौरान दर्द कम करने के लिए पीरियड्स से कुछ दिनों पहले से एक कप मेथी की चाय पीनी है।

Boldsky

मेथी है जादुई औषधी

भारतीय रसोई में मेथी को कई तरह से यूज में लिया जाता है। कहीं तड़का लगाने के लिए तो कई इसके पत्‍तो की सब्जियां बनाई जाती है। मेथी का अचार भी लोगों को खूब भाता है, थेपला या मेथी के परांठे बनाकर भी खाए जा सकते हैं। मेथी में खूब सारा फाइबर और विटामिन्‍स पाए जातो है। सर्दियों में तो इसके लड्डू भी बनाए जाते है। इसके अलावा पीरियड्स के दौरान मेथी चाय पीने से काफी राहत मिलती है।

इम्युनिटी बढ़ाने और खांसी से आराम पाने के लिए पिएं अदरक, शहद और नींबू ड्रिंक

वजन कम करने के लिए

एक कप ग्रीन टी में शहद और नींबू का जूस मिलाएं और ऊपर से पिसी हुई मेथी पाउडर डालें। इसे रोजाना सुबह खाली पेट पीने से वजन जल्दी कम होता है।

स्‍तनों के विकास के लिए

मेथी की चाय उन लड़कियों के लिए भी काफी फायदेमंद है जिन्‍होंने यौवन की दहलीज पर कदम रखा ही है। मेथी की चाय पीने से लड़कियों के स्‍तन सुडौल बनते है।

यूरिन प्रॉब्‍लम से बचाता है

अगर यूरिन पास होने में कोई दिक्‍कत है तो मेथी की चाय पीने से यूरिन नियमित रुप आने लगता है और इसे नियमित पीने से बुखार भी नहीं आता है।

मुंह के छाले भगाएं

अगर आप मुंह के छालों से परेशान है तो दिन में दो बार इस चाय से गरारे करें, नियमित रुप से गरारे करने से मुंह के छाले भी चले जातो हैं, साथ ही मेथी के चाय पीने से मुंह के कीटाणु मरते है और सांसों की बदबू से भी राहत मिलती है।

मां का दूध बढ़ाता है

मेथी की चाय महिलाओं के लिए एक तरह से हर्बल चाय है, इसमें मौजूद गुणकारी तत्‍व महिलाओं के लिए किसी वरदान से कम नहीं है, यह महिलाओं में एस्‍ट्रोजन हार्मोन को बढ़ाने के साथ ही ब्रेस्‍टफीड करवाने वाली महिलाओं के दूध को बढ़ाता है। इसके अलावा मेथी की चाय पीने से लेबर पेन को प्रेरित करता है।

किडनी स्‍टोन से राहत

मेथी की चाय उन लोगों के लिए भी काफी फायदेमंद है जिन्‍हें घुटनों या एडि़यों में दर्द रहता है। इसके सेवन से किडनी स्‍टोन से भी राहत मिलती है।

मेथी की चाय बनाने की विधि:

  • एक बर्तन में, 4 कप पानी लें। इस पानी में उबाल आने तक मध्यम आंच पर इसे गरम करें।
  • जैसे ही पानी में उबाल आ जाए, आंच कम कर दें और एक चम्मच मेथी के बीज या पाउडरइसमें मिलाएं।
  • ढक्कन के साथ पैन को कवर करें और कम आंच पर 5 मिनट के लिए इसे उबलने दें।
  • थोड़ी देर में पानी में मेथी का रंग घुलने लगेगा और पानी का रंग थोड़ा पीला होना शुरु हो जाएगा। अब आंच बंद कर दें और इसे शांत होने दें।
  • अब इस पानी को छान लें।
  • मेथी के बीजों से तैयार इस पानी को किसी बोतल में भरें और पीरियड्स के समय तकलीफ को कम करने के लिए दिनभर यही पानी पीएं।
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    Methi Tea for Treating Menstrual Cramps and Increasing Breast Milk

    Fenugreek tea is useful for girls entering puberty. It helps in the healthy development of breasts. This is because it stimulates water retention and growth hormones.
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more