Ayurveda: सुबह उठने से लेकर सोने तक इन नियमों को अपनाएं, बीमारियों से छुटकारा पाएं

Posted By:
Subscribe to Boldsky
Ayurvedic herbs to increase Stamina | Ayurvedic Tips & Remedies | Boldsky

प्राचीन समय में उठने से लेकर सोने तक हर चीज का एक नियम हुआ करता था, जिस वजह से उस दौरान लोग काफी फिट और हेल्‍दी रहा करते थे और उनके आसपास बीमारियां मंडराती भी नहीं थी। इन सारे नियमों के बारे में आयुर्वेद में इसका उल्‍लेख मिलता है। अगर आज भी हम इन नियमों को फॉलो करे तो बीमारियों से कोसो दूर रह सकते हैं।

lifestyle according to ayurveda

आयुर्वेदिक तरीके से स्वास्थ्य को बीमारियों से बचाया जा सकता है। हालांकि नए तरीकों को अपनाना आसान नहीं होता है फिर भी अगर आप आयुर्वेद की दिनचार्या पद्धति अपनाने की कोशिश करें तो आपको स्‍वास्‍थ्‍य में कई तरह के परिवर्ततन दिखेंगे। इनके बारे में आयुर्वेद में काफी विस्तार से बताया गया है। अगर हम डेली लाइफ में इन बातों को फॉलो करें तो कई बीमारियों के खतरे से पहले ही बच सकते हैं।

सूर्यादय से पहले उठे

सूर्यादय से पहले उठे

आयुर्वेद कहता है कि अपने दिन को शुरूआत सूरज के उगने से पहले ही करने की कोशिश करेँ। नहीं तो सूरज के साथ ही करें। इस तरीके से आप पूरे दिन को सही तरीके से मैनेज कर पायेंगे। आयुर्वेद में खुद जल्दी उठने वालों को वात कहा जाता है वहीं उठने के लिए अलार्म की जरूरत जिन्हें पड़ती है वो काप होते हैं।

खूब सांस लें

खूब सांस लें

ब्रेकफास्ट करने से पहले आप खाली पेट व्यायाम या योगा करें। ये आपके शरीर को नई ऊर्जा देने के साथ आपके रक्त संचरण को भी बढ़ाता है। खुली हवा में खड़े होकर 5 से 10 मिनट तक पूरे लंग्‍स फुलाकर सांस लें। इससे बॉडी में ऑक्‍सीजन की मात्रा बढ़ेगी। साथ ही फेफड़े सही और स्‍वस्‍थ बनें रहेंगे।

गुनगुना पानी पीएं

गुनगुना पानी पीएं

रोज एक या दो गिलास गुनगुना पानी पीएं, इससे डाइजेशन सुधरेगा और हार्ट डिजीज का खतरा कम होगा।

नाश्‍ता जरुर करें

नाश्‍ता जरुर करें

आयुर्वेद के अनुसार कभी नाश्‍ता लेना भूलें, क्‍योंकि नाश्‍ता करना हमारी सुबह के हिसाब से पहली प्राथमिकता हैं। नाश्‍ता 7 से 9 बजे के बीच कर लें। इससे ब्रेन एक्टिव रहेगा और एनर्जी लेवल बना रहेगा।

सही लंच करें

सही लंच करें

रोज सही समय पर लंच करें। लंच में खाने की वैरायटी पर खास ध्‍यान दें। एक बार में एक ही तरह के चीज लें। कई चीजें जैसे दूध और दही मिलाकर खाना ऐसी चीजें न खाएं।

खाने के बाद पानी न पीएं

खाने के बाद पानी न पीएं

खाना खाने के लगभग 40 मिनट तक पानी न पीएं, ऐसे में खाने का डाइजेशन सही तरह से होगा।

खाना खाने के बाद न नहाएं

खाना खाने के बाद न नहाएं

खाना खाने के तुरंत बाद मेहनत का काम और नहाना न करें। इसके अलावा खाना खाने के बाद एकदम से सोना भी नहीं चाहिए।

धूप में बिताएं कुछ समय

धूप में बिताएं कुछ समय

रोजाना 30 मिनट धूप में बिताएं, इससे आपको विटामिन डी मिलेगा। साथ ही दर्द खत्‍म होगा और ब्‍लॉक हटेंगे।

सीधी कमर करके बैठे

सीधी कमर करके बैठे

अगर आप ताउम्र पीठ के दर्द से नहीं गुजरना चाहते है तो आप सीधी कमर करके बैठे। इससे आगे चलकर आपको कमर दर्द की या रीढ़ की हड्डी की समस्‍या नहीं होगी।

एक अच्‍छी नींद जरुर लें

एक अच्‍छी नींद जरुर लें

रोजाना 8 से 9 घंटे की नींद जरुर लें। बेडरुम में हवा के लिए सही वेंटिलेशन हो या एग्‍जॉस्‍ट फेन का यूज करें।

English summary

Tips For A More Healthy Life With Ayurveda

lifestyle according to ayurveda, living ayurvedic lifestyle, ayurvedic health tips weight loss, health tips ayurveda home remedy, आयुर्वेद के अनुसार कैसी हो डेली रुटीन, आयुर्वेदिक स्‍वास्‍थय के उपाय, आयुर्वेद टिप्‍स दिनचर्या के लिए
Story first published: Tuesday, February 13, 2018, 15:08 [IST]