जहरीले होते है ये फल और सब्‍जी, इस तरह बचे पेस्टिसाइड्स भरे फूड से

Subscribe to Boldsky

आप कोई भी सब्‍जी या फल जब बाजार से खरीदकर लाते है तो क्‍या इसे पकाकर या धोकर खाते है। अगर नहीं तो आप अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं क्‍योंकि आजकल खतपतवार और कई तरह के जहरीले कीड़ों से बचाने के ल‍िए फलों और सब्जियों में भारी तादाद में पेस्टिसाइड्स का छिड़काव किया जाता है। आज हम आपको कुछ ऐसे ऐसे ही कुछ फलों और सब्जियों के बारे में बता रहे है। जिनमें ढेर सारे पेस्टिसाइड्स शामिल होते है।

What fruits and vegetables have the most pesticides?

इसके अलावा हम आपको कुछ ऐसे टिप्‍स भी देंगे। जिनकी मदद से आप पेस्टिसाइड्स वाली सब्‍जी और फल खाने से बचेंगे।

सेब

क्या आप सेब खाने से पहले उसे धोते हैं? अगर नहीं तो सेब के साथ ढेर सारे पेस्टिसाइड्स भी आपके पेट में पहुंच रहे हैं। जी हां, सेब की फसल पर कई तरह के पेस्टिसाइड्स (कीटनाशक) का छिड़काव किया जाता है।



पीच

पीच या आड़ू के फलों को बचाने के लिए फसल से पहले और फसल तैयार होने के बाद ढेर सारे कीटनाशकों और केमिकल का प्रयोग किया जाता है।

अंगूर

अंगूर को कीटाणुओं से बचाने के लिए समय-समय पर कीटनाशकों का छिड़काव किया जाता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि अंगूर के एक दाने पर लगभग 15 प्रकार के पेस्टिसाइड्स होते हैं।



स्ट्राबेरी

एक स्ट्राबेरी पर लगभग 13 पेस्टिसाइड्स हो सकते हैं। इसीलिए खाने से पहले उन्हें अच्छी तरह साफ करें।



पालक

पालक में आयरन की भरपूर मात्रा मौजूद होती है। लेकिन इन्‍हें बिना धोएं खाना आपके ल‍िए खतरनका साबित हो सकता है क्‍योंकि पालक को खतपतवार से बचाने के ल‍िए पेस्टिसाइड्स का इस्‍तेमाल किया जाता है।

शिमला मिर्च

क्या आप जानते हैं कि एक शिमला मिर्च में 15 अलग-अलग तरह के पेस्टिसाइड्स हो सकते हैं? तो अब आप समझ गए ना कि ऑर्गैनिक शिमला मिर्च खरीदना ही बेहतर होगा।

चेरी टोमैटो

एक छोटे चेरी टोमैटो में 13 तरह के पेस्टिसाइड्स हो सकते हैं। इसलिए अगर आप इन्हें खरीदना चाहती हैं तो ऑर्गैनिक तरीके से उगाए गए चेरी टोमैटो खरीदें।

आलू

सभी सब्ज़ियों की तुलना में सबसे अधिक पेस्टिसाइड्स आलू में होते हैं। आलू में कीटनाशकों के अवशेष होते हैं जो आपके नर्वस सिस्टम या तंत्रिका तंत्र के लिए हानिकारक हो सकते हैं।

मटर के दाने

स्‍ट्रोबेरी और चैरी टॉमेटो की तरह आपके मटर की एक फली में कम से कम 13 तरह की पेस्टिसाइड का इस्‍तेमाल किया जाता है।

ऐसे करें डैमेज कंट्रोल

धोकर खाएं

फल और सब्जियों को पानी में दो से तीन बार धोएं। इससे उनके ऊपर लगे पेस्टिसाइड्स और इन्सेक्टिसाइड्स हट जाएंगे। बर्तन धोने वाले डिटर्जेंट की कुछ बूंदे एक लीटर पानी में मिलाएं और उसमें फल व सब्जी धोने के बाद उन्हें हल्के गुनगुने पानी में धोएं। इससे उन पर लगा वैक्स और कलर हट जाएगा।

छिलके उतार कर ही खाएं

फल और सब्जियों को छीलकर ही खाएं। अगर ऐसा नहीं कर रहे हैं तो खाने से पहले उन्हें ब्रश से रगड़कर पानी में अच्छे से धो लें। बंदगोभी और ऐसी ही दूसरी पत्तेदार सब्जियों के ऊपरी हिस्से के पत्ते जरूर उतार दें।

दूध उबालकर ही पीएं

दूध को अच्छी तरह से उबालने के बाद ही पीएं। चाहे फिर वह पैकेज्ड मिल्क ही क्यों न हो।



रातभर न भिगोएं सब्‍जी

कुछ लोग सब्जियों में कीटनाशकों का असर कम करने के लिए उन्हें रात भर पानी में भिगोकर रख देते हैं। इससे भले ही पेस्टिसाइड्स का असर कम होता हो, लेकिन साथ सब्जी के न्यूट्रिएंट्स भी कम हो जाते हैं। इससे सब्जी का पूरा फायदा शरीर को नहीं मिल पाता।

सीजनल फूड खाएं

सीजनल चीजें खाने से भी नुकसान कम होता है, क्योंकि उनमें पेस्टिसाइड्स का इस्तेमाल न के बराबर होता है।बाजार से फल और सब्जी खरीदते वक्त उसकी सुंदरता पर न जाएं, बल्कि नेचरल दिखने वाली चीजों को ही खरीदें। मसलन अगर गोभी का फूल एकदम सफेद और चमकदार न होकर थोड़ा पीला है तो उसे ही लें। इसी तरह भिंडी डार्क हरी नहीं हैं तो उसे खरीदें। इसी तरह सीजनल और प्राकृतिक दिखने वाले फलों को ही खरीदें।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    What fruits and vegetables have the most pesticides?

    More than 98 percent of samples of strawberries, spinach, peaches, nectarines, cherries and apples tested positive for residue of at least one pesticide.
    भारत का अब तक का सबसे बड़ा राजनीतिक पोल. क्या आपने भाग लिया?
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more