For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

ओमिक्रॉन से बचने के ल‍िए पहने N95 मास्‍क, सीडीसी के अनुसार 2500 घंटे की बढ़ जाती है सुरक्षा

|

कोविड के नए संस्करण ओमिक्रोन के मामले दुनिया भर में बेकाबू होते जा रहे हैं। तेजी से फैल रहे इस वैरिएंट को लेकर वैज्ञानिक चिंतित हैं और कोरोना की तीसरी लहर की आशंका जता रहे हैं। चूंकि ओमिक्रोन तेजी से फैलता है, इसलिए यह हमारी पहली जिम्मेदारी है कि हम ऐसा मास्क पहनें जो नाक और मुंह को वायरस से दूर रहने के लिए सुरक्षित रखे।

वैज्ञानिकों ने बताया है कि कपड़े से बने मास्क, जिनका इस्तेमाल हम सभी आमतौर पर वायरस से बचने के लिए कर रहे हैं, पूरी तरह से सुरक्षित नहीं हैं। यहां तक ​​कि उन्होंने सर्जिकल मास्क के साथ सिंगल लेयर क्लॉथ मास्क या कोरोनावायरस के नए संस्करण ओमिक्रोन से बचाने के लिए अधिक प्रभावी रेस्पिरेटर मास्क का उपयोग करने की भी सलाह दी है।

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) के महानिदेशक बलराम भार्गव का कहना है कि घर पर इलाज करा रहे एक कोविड रोगी को N95 मास्क की आवश्यकता होती है और देखभाल करने वाले को ट्रिपल लेयर मास्क पहनने की आवश्यकता होती है। ऐसे में डॉक्टर कपड़े के सिंगल लेयर वाले मास्क को छोड़कर कम से कम दो या तीन लेयर का फेस मास्क चुनने की गुजारिश कर रहे हैं ताकि दूसरों को संक्रमण से बचाया जा सके।

कपड़े के मास्क के नीचे डिस्पोजेबल मास्क पहनना जरूरी

कपड़े के मास्क के नीचे डिस्पोजेबल मास्क पहनना जरूरी

सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन द्वारा अमेरिका स्थित सीडीसी के नए दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। इसके अनुसार, दो वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग जिनका पूर्ण टीकाकरण नहीं हुआ है, उन्हें सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना अनिवार्य है। सीडीसी में कहा गया है कि 'कपड़े के मास्क के नीचे डिस्पोजेबल मास्क पहनें। दोबारा इस्तेमाल किए गए मास्क को गंदे होते ही या दिन में कम से कम एक बार धोना चाहिए। अगर आपके पास डिस्पोजेबल फेस मास्क है, तो उसे एक बार पहनने के बाद फेंक दें।

क्या N95 मास्क Omicron वेरिएंट से सुरक्षा करेगा?

क्या N95 मास्क Omicron वेरिएंट से सुरक्षा करेगा?

N95 मास्क मददगार हो सकता है। यह मास्क सर्जिकल मास्क से ज्यादा असरदार होता है। ये मल्टीपल लेयर फिल्टर्स से लैस हैं और फिटिंग में भी टाइट हैं। ये मास्क छोटे और बड़े संदूषकों से 95 प्रतिशत तक रक्षा करते हैं। इनके फिट होने की वजह से इनके लीकेज होने की संभावना बहुत कम होती है। इस मास्क में तीन परतें होती हैं, जो छोटे से छोटे प्रदूषण और कणों को दूर रखती हैं।

एन-95 मास्क हवा से वायरस को फिल्टर करता है

एन-95 मास्क हवा से वायरस को फिल्टर करता है

स्वास्थ्य विशेषज्ञ और द कोरोनावायरस बुक के लेखक स्वप्रिल पारिख बताते हैं कि जब SARS-CoV-2 वायरस फैलता है, तो कमजोर प्रतिरक्षा वाला व्यक्ति संक्रमित व्यक्ति द्वारा उत्पादित एरोसोल को अंदर लेता है। ये एरोसोल बंद जगह में तेजी से फैल सकते हैं। एन95 जैसे हाई फिल्ट्रेशन मास्क सांस लेते ही हवा से वायरस को फिल्टर कर देते हैं। ये मास्क पहनने वाले को वायरस से सांस लेने से बचाते हैं और संक्रमित व्यक्ति के आसपास के अन्य लोगों की भी रक्षा करते हैं। जबकि कपड़े का मास्क उतनी सुरक्षा प्रदान नहीं करता है।

N95 मास्क पहनने से बढ़ जाता है ढाई घंटे तक की सुरक्षा

N95 मास्क पहनने से बढ़ जाता है ढाई घंटे तक की सुरक्षा

सीडीसी के अनुसार, एक असंक्रमित व्यक्ति को बिना चेहरे को ढके किसी संक्रमित व्यक्ति के करीब आने से संक्रमित होने में केवल 15 मिनट लगते हैं। अगर दोनों कपड़े का मास्क पहने हैं, तो संक्रमित होने में 27 मिनट का समय लगता है। दोनों द्वारा पहना जाने वाला सर्जिकल मास्क 30 मिनट तक सुरक्षा प्रदान करता है। लेकिन जब दोनों ने N95 मास्क पहना है तो सुरक्षा का समय ढाई घंटे तक बढ़ जाता है।

15 मिनट में हो सकते है संक्रमित

15 मिनट में हो सकते है संक्रमित

सीडीसी के अनुसार, एक असंक्रमित व्यक्ति को बिना चेहरे को ढके किसी संक्रमित व्यक्ति के करीब आने से संक्रमित होने में केवल 15 मिनट लगते हैं। अगर दोनों कपड़े का मास्क पहने हैं, तो संक्रमित होने में 27 मिनट का समय लगता है। दोनों द्वारा पहना जाने वाला सर्जिकल मास्क 30 मिनट तक सुरक्षा प्रदान करता है। लेकिन जब दोनों ने N95 मास्क पहना है तो सुरक्षा का समय ढाई घंटे तक बढ़ जाता है।

​N95 मास्क वालों को मिलती है 2500 घंटों की सुरक्षा

​N95 मास्क वालों को मिलती है 2500 घंटों की सुरक्षा

ACGIH's Pandemic Response Task Force के अनुसार, कोविड-19 संक्रमण को बिना फिटिंग वाले N95 मास्क पहनने वालों के बीच पहुंचने में 25 घंटे लगते हैं। यदि N95 मास्क कसकर सील किया गया है, तो कण के उन तक पहुंचने की संभावना मात्र 1 प्रतिशत है। इसका मतलब है कि इन लोगों के पास 2500 घंटों की सुरक्षा होगी। हेल्थकेयर एक्सपर्ट कहते हैं कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में मास्क और वैक्सीन दोनों बहुत अच्छी तरह से काम कर सकते हैँ।

क्लॉथ मास्क N-95 मास्क की तुलना में कम सुरक्षा प्रदान करता है। हालांकि मास्क को चुनते समय लागत को भी ध्यान में रखना चाहिए। जो लोग भीड़-भाड़ वाली जगह पर नहीं जाते और सामाजिक दूरी बनाए रखते हैं, उनके लिए कपड़े का मास्क ठीक है।

English summary

CDC recommends to wear n95 or surgical mask than cloth mask to protect from omicron variant

New guidelines have been issued by the Center for Disease Control and Prevention. wear a disposable mask under a cloth mask. Re-used masks should be washed as soon as they become dirty or at least once a day.
Story first published: Monday, January 10, 2022, 13:24 [IST]