For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

सिर्फ किडनी में ही नहीं, शरीर के इन 6 अंगों में हो सकती है पथरी

|

शरीर के अलग अलग हिस्से में स्टोन या पथरी की समस्या हो सकती है। कई लोगों में पथरी की परेशानी इस हद तक बढ़ जाती है कि उन्हें इससे निजात पाने के लिए सर्जरी करानी पड़ती है। आमतौर पर लोगों को यही लगता है कि स्टोन सिर्फ हमारी किडनी (गुर्दे) में होती है लेकिन ऐसा नहीं है। किडनी के अलावा शरीर के दूसरे अंगों में भी स्टोन हो सकता है। ये जानकार आपको हैरानी हो सकती है लेकिन ये सच है। जानते हैं कि शरीर के किन किन अंगों में पथरी बन सकती है।

गुर्दे (किडनी)

गुर्दे (किडनी)

जब आपके मूत्र मार्ग में कैल्शियम जैसे मिनरल्स बनने लगते हैं तब पथरी के रूप में इनका आकार बनने लगता है। जब इनका आकर इतना बढ़ जाता है कि ये मूत्र त्याग करते समय बाधा उत्पन्न करने लगे, तब ये असहनीय पीड़ा देने लगते हैं। ये खासतौर से कूल्हों और पसलियों के पास पीठ में दर्द का कारण बनते हैं। कई मौकों पर पेशाब में रक्त या पत्थर का टुकड़ा भी नजर आता है।

Most Read: शराब के साथ क्या लिया जा सकता है फीमेल वियाग्रा, जानें क्या कहती है रिसर्च

गला (थ्रोट)

गला (थ्रोट)

आप गौर करेंगे तो आपके टॉन्सिल आपके गले के पीछे टिश्यू के दो लंप्स होते हैं। इनका काम कीटाणुओं को बाहर निकालने में सहायता करना है। कई बार खाना, डेड स्किन या अन्य प्रकार के अपशिष्ट उस जगह पर इकठ्ठा हो जाते हैं और ये पथरी का रूप ले लेते हैं। इस टॉन्सिलोलाइट्स कहा जाता है। ये समस्या होने पर व्यक्ति के गले में खराश, सांस में बदबू और सफेद धब्बों के साथ सूजन हो सकती है। इस प्रकार की पथरी को आप अपने टूथब्रश या रुई की मदद से साफ़ कर सकते हैं लेकिन समस्या बढ़ जाने पर डॉक्टर से बात करना बेहतर होता है।

मुंह

मुंह

बहुत ही कम लोगों को इस बात की जानकारी होगी कि मुंह के अंदर भी स्टोन हो सकता है। इसकी वजह से दर्द और सूजन की समस्या पैदा होती है। ये भोजन के दौरान बनने वाली लार को अवरुद्ध कर सकता है। कई बार ये जीभ के नीचे सफेद पथरी के रूप में देखे भी जा सकते हैं। ये ज्यादा गंभीर नहीं होते हैं और ज्यादा से ज्यादा पानी पीकर इससे राहत पायी जा सकती है। अगर समस्या ज्यादा हो तो डॉक्टर से संपर्क करना बेहतर है।

Most Read: क्या सच में दांतों का पीलापन दूर करने का सबसे सस्ता और आसान उपाय है बर्फ?

नाक

नाक

नाक में स्टोन काफी दुर्लभ है और ये तब बनता है जब लकड़ी, बटन, बीज या इस तरह की कोई चीज नाक में फंस जाती है। सामान्यतः ऐसा बचपन में होता है। समय बीतने के साथ इसमें कैल्शियम, मैग्नीशियम और आयरन जैसे खनिज आकर्षित होते हैं और धीरे धीरे इसका आकार बढ़ता जाता है। आखिर में ये इतना बड़ा हो जाता है जो आपकी दर्द की वजह बनने लगता है और इससे नाक का एक हिस्सा भी बंद हो सकता है। डॉक्टर अपने खास टूल से इसे बाहर निकालते हैं या फिर इसकी सर्जरी की सलाह देते हैं।

मूत्राशय (ब्लैडर)

मूत्राशय (ब्लैडर)

पेशाब सही तरीके से ना होना मूत्राशय में पथरी का कारण है। आपके पेशाब में कुछ मिनरल्स बहुत अधिक तथा दूसरे बहुत कम होने की स्थिति में भी ये समस्या हो सकती है। इस स्थिति में पथरी अपने आप बन जाती है या फिर कई बार गुर्दे की पथरी का टुकड़ा मूत्राशय में जाकर बड़ा आकार ले लेता है। ये समस्या होने पर पेशाब में झाग या फिर खून भी आ सकता है। डॉक्टर इसका इलाज सर्जरी, दवा या फिर ध्वनि तरंगों और लेजर की मदद से करता है।

Most Read: झड़ते बालों की वजह से बढ़ रहा है गंजापन तो ये तिब्बती आयुर्वेदिक नुस्खा दे सकता है राहत

पित्ताशय (गॉलब्लैडर)

पित्ताशय (गॉलब्लैडर)

पित्ताशय आपके दाएं ओर पेट के ऊपर स्थित छोटा अंग है जो पित्त नामक एक पाचक रस एकत्रित करता है। कोलेस्ट्रॉल और पित्त में मौजूद बिलीरूबिन नाम का एक कंपाउंड पथरी का कारण बन सकता है। आमतौर पर इनकी वजह से दर्द नहीं होता है। मगर समस्या बढ़ जाने पर डॉक्टर पित्ताशय की थैली को बाहर निकालने के लिए सर्जरी की सलाह देते है।

नोट: किसी भी तरह की दर्द या परेशानी होने पर डॉक्टर से संपर्क करें और खुद अपना इलाज करने से बचें।

English summary

Stones Can Be Formed In These 6 Parts Of Your Body

There is a problem of stones in different parts of the kidneys and the body. Th problem of appendicitis becomes so large in some cases that the patient may need to undergo surgery.
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more