इस अनोखे देश में लड़किया नहीं चला सकती है गाड़ियां

Posted By:
Subscribe to Boldsky

आज के दौर मे जहां लड़कियां हर कहीं लड़को के साथ कदम के कदम मिलाकर चल रही है वहीं कुछ ऐसी जगहे भी है जहां पर आज भी लड़कियों को कई चीजें करनी की इजाजत नहीं है।

जी हां ये सच कुछ देश आज भी उसी अंधकार में जी रहे है जो बरसो पहले से चला आ रहा है। यहां पर पर्दा प्रथा के कारण लड़कियो को कई तरह के ऐसे काम भी नहीं करने दिए जाते है।

जिनको करने में कोई खतरा या कोई आपत्ति नहीं होती है। आज हम आपको एक ऐसी ही जगह के बारे में बताएंगे जहां पर पर्दा प्रथा आज भी बहुत तेजी से फालो की जाती है और इस देश में महिलाओं को कार चलाने के लिए मनाही है।

क्या आपकी गाड़ी की पीछे कभी कुत्ते भागे है, जानिए क्यो कुत्ते ऐसा करते है

इसकी इजाजत वहां पर नहीं है। आप सोच रहे होंगे कि इस मॉडर्न जमाने में ऐसा कौन शहर है जो इस बात को आज भी मानता है कि लड़कियों को हमेशा पर्दे में ही रहना चाहिए। आइए जानते है इस देश के बारे में...

सउदी अरब में होता है ये

सउदी अरब में होता है ये

आपको बता दें कि इस अनोखे देश का नाम सउदी अरब है। इस देश में आज भी कुछ ऐसी प्रथाएं है जिसमें लड़कियों को आज भी बहुत से काम करने की आजादी नहीं है। इस देश में लड़कियों के गाड़ी चलाने में भी पाबंदी है। इस देश का कानून ही कुछ इस तरह का है।

खिलजी ने क्यों की थी चित्तौड़ पर चढ़़ाई, क्या है रानी पद्मावती का सही इतिहास

लड़कियों के लिए अलग कानून

लड़कियों के लिए अलग कानून

इस देश की एक खास बात ये है कि यहां पर लड़कियों के लिए अलग और लड़को के लिए अलग कानून बनाया गया है। यहां पर ये जरूरी नहीं है कि जो लड़के करते है वहीं काम लड़के करते है। इसके लिए यहां मनाही है।

महिलाओं को पर्दे में रखा जाता है

महिलाओं को पर्दे में रखा जाता है

आपको बता दे कि इस देश में लड़कियों को पर्दे में रखा जाता है। लड़कियो को बाहर काम करने की मनाही होती है। यहां तक की यहां कि लड़कियां कार तक नहीं चला सकती है। इस अजीब देश के बारे में आपको जरूर जानना चाहिए।

बहुत सख्त है यहां का कानून

बहुत सख्त है यहां का कानून

अगर आप सउदी अरब के कानून की बात करें तो आपको बता दें कि इस देश का कानून पूरे विश्व में सबसे सख्त माना जाता है। यहां पर अगर कोई चोरी करते हुए पकड़ा जाता है तो उसके हाथ काट लेते है। और अगर कोई रेप जैसे घिनौने कृत्य करते हुए पकड़ा गया को उसको बहुत कठोर सजा दी जाती है।

दूसरो का सहारा लेना पड़ता है

दूसरो का सहारा लेना पड़ता है

अगर यहां कि महिलाओं को घर के बाहर जाना होता है तो वो या तो अपने पति के साथ जाएं, ड्राइवर के साथ या अपने भाई के साथ जाएं। इतना आगे होने के बाद भी इनका ये कानून हैरत में डाल देता है।

कानून का है ये मानना

कानून का है ये मानना

इस देश के कानून का ये मानना है कि पुरुषों की अपेक्षा महिलाएं ज्यादा एक्सीडेंट करती है इस कारण उनको गाड़ी चलाने की कोई जरूरत नहीं है। गाड़ी चलाना मर्दों काम है और ये काम मर्द ही करेंगें।

सामाजिक संगठनो ने उठाई आवाज

सामाजिक संगठनो ने उठाई आवाज

आपको बता दे कुछ सामाजिक संगठन ऐसे है जो इस बात को लेकर आंदोलन कर रहे है। इसमें उम्मीद ये है कि हो सकता है आने वाले समय में गाड़ी चलाने का अधिकार महिलाओं को मिल जाए।

English summary

a country where no permission to drive for women

In today's era where girls are walking with step by step with the boys everywhere, there is some such place where girls are not allowed to do many things even today. Yes, some of these countries are still living in the same darkness.
Please Wait while comments are loading...