नामीब रेगिस्‍तान: जहां रेगिस्‍तान और समुद्र का होता है मिलन

Subscribe to Boldsky

 अभी तक अपने दुनिया में ऐसे रेगिस्‍तानों के बारे में सुना होगा या देखा होगा जहां दूर ही दूर तक रेत ही रेत बिखरी रहती है। मीलो दूर तक पानी का नामों निशान तक नहीं होता है। लेकिन हम आपको आज नामीब रेगिस्‍तान के बारे में बताएंगे। जहां दुनिया के सबसे प्राचीन विशाल नामीब रेगिस्‍तान और एंटालांटिक समुद्र के छोर से मिलता है।

दक्षिण अफ्रीका के पूवी नामीबिया में स्थित नामीब रेगिस्‍तान करीब 1, 35000 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। दुनिया का एकमात्र तटीय समुद्र जहां दूर दूर तक कोहरा छाया रहता है। इस लेख के जरिए हम आपको नामीब रेगिस्‍तान की खूबसूरती दिखाएंगे।

 दिखेगा दूर तक समुद्र और रेत

दिखेगा दूर तक समुद्र और रेत

नामीबिया का ये विचित्र नजारा रेगिस्तान के ऊपर यदि फ्लाइट से देखा जाए तो क्या कहने! अगर हवाई जहाज से ये नजारा देखा जाएं तो कुइसेब नदी के किनारों के साथ यहां से रेगिस्तानी टीले दिखाई देते हैं आप जहां तक देखेंगे आपको लगातार एटलांटिक सागर का छोर और रेगिस्‍तान फेले हुए दिखाई देंगे।

दुनिया का सबसे बड़ा रेत का टीला

दुनिया का सबसे बड़ा रेत का टीला

दुनिया का सबसे बड़ा रेत का टीला बिग डैडी यहीं देखने को मिलता है। इस टीले की लम्‍बाई 325 मीटर है। इसके अलावा यहां ड्यून 45 भी है जिसे दुनिया का फोटोजेनिक टीला कहा जाता है।

दो बड़े रेगिस्‍तान

दो बड़े रेगिस्‍तान

नामीबिया में विश्‍व के दो सबसे प्राचीन और विशाल रेगिस्‍तान मौजूद है कालाहारी और 80 मिलियन साल पुराना नामीब रेगिस्‍तान। और यहां साल के 365 दिन में से 300 दिन सूर्य की रोशनी रहती है।


English summary

Namib Desert: Where the Namib Desert meets the Sea

The cold waters of the sea brushing against the dunes of the Namib desert is one of the most surreal sights.
Please Wait while comments are loading...