इस राज्य में होती है कुत्ते की पूजा, जानिए कहां है कुकुरमंदिर...

By: Salman Khan
Subscribe to Boldsky

आपने कई तरह के मंदिरों के बारे में सुना होगा। यदि आप से कहा जाए कि एक ऐसी जगह भी जहां कुत्ते का मंदिर है

और वहां के लोग कुत्ते की पूजा करते है तो शायद आपको इस बात का विश्वास नहीं होगा। पर ये सच है,

दरअसल ये मंदिर छत्तीसगढ़ में स्थित है। आइए जानते है कि आखिर क्या है इस मंदिर की कहानी......

क्या है इसकी कहानी

Where is the dog worshiping

मान्यता है कि एक बंजारा था जिसने अपना कुत्ता एक साहूकार के यहां गिरवी रखा था।

क्यूंकि उस गांव में अकाल पड़ा था और बंजारे के पास पैसे की तंगी थी। एक बार साहूकार के यहां चोरी हो गई और चोरों ने लूटा हुआ माल एक जगह छिपा दिया और भाग गए।

कुत्ते ने लूटा हुआ माल ढ़ूढ़ निकाला। इस बात से खुश होकर साहूकार ने वो कुत्ता बिना पैसे लिए बंजारे को देने का विचार बनाया और एक चिट्ठी लिखकर कुत्ते के गले में टांगी और बंजारे के पास भेज दिया।

Where is the dog worshiping

गुस्से में बंजारे ने कुत्ते को मार दिया

बंजारे ने कुत्ते को जब घर आते देखा तो गुस्से में उसे लाठी और डंडे से पीट-पीट कर मार डाला।

बाद में जब बंजारे ने गले में लटकी चिट्ठी पढ़ी तो बहुत पछताया। बंजारे ने अपने प्रिय वफादार कुत्ते की वहां समाधि बना दी।

आज वही जगह कुकुरमंदिर के नाम से जानी जाती है।

English summary

This state contains dog worship, know where is the kukurmandir

there is a place in chhattisgarh where is a dog's temple and the people the worship the dog
Story first published: Monday, September 4, 2017, 18:25 [IST]
Please Wait while comments are loading...