गर्भवती होने की सुरक्षित आयु

By: Aditi Pathak
Subscribe to Boldsky

गर्भवती होना, हर महिला की जिंदगी का सबसे अच्‍छा अनुभव होता है। हेल्‍दी प्रेग्‍नेंसी के लिए जरूरी होता है कि आप प्रेग्‍नेंट होने से पहले पूरी योजना बना लें। सही उम्र पर गर्भधारण करने से भी कई मुश्किलें स्‍वत: हल हो जाती है और स्‍वस्‍थ बच्‍चे का जन्‍म होता है। गर्भवती होने की सही उम्र के बारे में जानना आवश्‍यक है इससे भावानात्‍मक और शारीरिक लाभ बने रहते है। हर महिला के लिए गर्भधारण की उम्र उसकी शारीरिक क्षमता पर निर्भर करती है। सामान्‍यत: 30 साल से कम उम्र में ही गर्भधारण करना सही माना जाता है। 30 साल की उम्र के बाद गर्भधारण करने से मां और बच्‍चे के लिए कई जटिलताएं पैदा हो जाती है।

Safe Age To Get Pregnant

वैसे भी 35 साल की उम्र के बाद प्रजजन की क्षमता घटने लगती है, साथ ही उम्र के इस दौर में गर्भ धारण करने से कई शारीरिक और मानसिक दिक्‍कतें आती है। इसलिए, सही उम्र में गर्भधारण करना और बच्‍चे को जन्‍म देना सही रहता है। यहां कुछ प्‍वाइंट बताएं जा रहे है जिन्‍हे ध्‍यान में रखना आवश्‍यक है जब आप गर्भधारण करने की सही उम्र के बारे में विचार कर रही हों: -

भावनात्‍मक स्‍वास्‍थ्‍य : प्रेग्‍नेंट होने की सबसे अच्‍छी उम्र तब होती है जब आप इमोशनल तरीके से मैच्‍योर हों। अगर आप बिल्‍कुल नई उम्र की हैं तो बच्‍चे की जिम्‍मेदारी की समझ नहीं होगी, ऐसे में गर्भधारण करना आपको बोझिल लगेगा। इसलिए सबसे पहले अपने आप को इमोशनली स्‍ट्रांग करें।

आर्थिक तंगी न हो : बच्‍चा एक जिम्‍मेदारी है, अगर आप आर्थिक तंगी से जूझ रहे हों तो बच्‍चे के जन्‍म के बारे में न सोचें। गर्भावस्‍था के दौरान कई प्रकार खर्चे होते है, इससे अलावा प्रसव के दौरान भी काफी पैसे लगते है, ऐसे में प्रेग्‍नेंट होने के निर्णय के दौरान अपनी फाइनेंशियल कंडीशन देख लें।

शरीर स्‍वस्‍थ हों : गर्भधारण करने से पहले आपके शरीर का पूरी तरह स्‍वस्‍थ होना अति आवश्‍यक है। अगर आपका शरीर कमजोर है तो गर्भधारण करने के बाद कई दिक्‍कतें होगी और आपका बच्‍चा भी कमजोर पैदा होगा। जब भी प्रेग्‍नेंट होने का विचार करें तो डॉक्‍टरी सलाह लें और पूरे स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण करवा लें।

अपने पार्टनर की हेल्‍थ देखें : प्रेग्‍नेंसी करने से पहले अपनी और अपने पार्टनर की हेल्‍थ पर ध्‍यान दें। अगर आप दोनों स्‍वस्‍थ होगें, तभी एक स्‍वस्‍थ बच्‍चे का जन्‍म होगा।

कॅरियर : ऐसी उम्‍मीद न रखें कि बच्‍चे के जन्‍म के बाद आपकी नौकरी, आपका कॅरियर सब कुछ पहले की तरह रूटीन में आ जाएगा। बच्‍चे के जन्‍म के बाद आपको अपनी प्राथमिकताओं में परिवर्तन लाना होता है। ऐसे में वापस अपने काम उसी तरीके से करना, मुश्किल होता है। अपने कॅरियर को परिवार के साथ न जोड़े और बच्‍चे के जन्‍म के बाद उसे समय देने के लिए मानसिक रूप से तैयार हो जाएं।

आदतें : आपको यह बात अजीब लग सकती है लेकिन यह सच है। आपकी आदतें, आपके गर्भधारण करने पर प्रभाव डालती है। अगर आप धूम्रपान करती है, शराब का सेवन करती है या किसी प्रकार का नशा करती है तो गर्भधारण करने से पहले यह खराब आदतें छोड़ दें।

कार्यस्‍थल का वातावरण : अगर आप कामकाजी है तो वहां के वातावरण को ध्‍यान में रखें। अगर वह वातावरण आपकी प्रेग्‍नेंसी पर नकारात्‍मक असर ड़ाल सकता है तो सु‍रक्षित प्रेग्‍नेंसी के लिए उस जॉब को छोड़ दें। लेकिन सही उम्र पर गर्भधारण करें, इससे कई शारीरिक दिक्‍कतें अपने आप हल हो जाएगी।

Story first published: Friday, December 6, 2013, 19:02 [IST]
Please Wait while comments are loading...