मधुमेह रोगियों के पैरों में सूजन को कम करने के 7 तरीके

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

मधुमेह के इलाज का मतलब सिर्फ शुगर पर नियंत्रण नहीं है। मधुमेह के कारण और भी बहुत से रोग जन्म ले लेते हैं। इतना ही नहीं मधुमेह से पीड़ित मरीजों के पांवों को भी नुकसान हो सकता है। इसमें पैर की नसें क्षतिग्रस्त हो जाती हैं जिससे रोगी को चोट लग जाने के बाद भी कोई असर नहीं पड़ता।

यही नहीं इसमें खून का दौरा धीरे धीरे होने लगता है, जिससे पैर में लगी हुई चोट काफी दिनों के बाद ठीक होती है, और अगर इन सारी समस्याओं का जल्दी इलाज नहीं किया गया तो यह घातक रूप भी ले सकती हैं जैसे सूजन, पैरों में छाले आदि। ज्यादातर मामलों में शुरवाती लक्षण को जाँच ते ही अगर उनका इलाज किया जा सकता है, तो आयी जाने कुछ ऐसे ही सरल उपाए जो अगर आप करते है तो आप अपने पैरों को स्वस्थ रख सकते हैं।

 7 tips for diabetics to reduce swelling in the feet

1. नियमित रूप से व्यायाम करें

नियमित रूप से व्यायाम करने से आपके पैरों की हड्डी और जोड़ों को मज़बूती मिलेगी और पैरों में ब्लड सर्कुलेशन होने से आपका ब्लड शुगर लेवल भी स्थिर बना रहेगा। लेकिन किसी भी व्यायाम को करने से पहले आपने चिकित्सक से संपर्क जरुर कर लें क्यों कि कठिन व्यायाम करने से पैरों में सूजन बढ़ सकती है।    डायबटीज डायट : क्‍या खाएं और क्‍या न खाएं

2. अपने पैरों को ऊपर उठायें

रोज़ 10-15 मिनट के लिए अपने पैरों को ऊपर उठायें, यह आपके पैरों कि सूजन को कम करेगा। पैरों को ऊपर उठाने से ऊतकों के आस पास जमा तरल पदार्थ बाहर निकल जायेगा और ब्लड सर्कुलेशन भी अच्छा होगा।

3. दबाव बनाने वाले मोज़े और पट्टियों का उपयोग करें

मधुमेह के रोगियों के लिए दबाव बनाने वाले मोज़े और पट्टियां आज बाज़ार में मौजूद हैं, ये प्रभावित क्षेत्र पर दबाव डालती है और द्रव अवरोधन से छुटकारा पाने में मदद करती हैं, बाहरी दबाव के कारण तरल पदार्थ लसीका प्रणाली में वापस लौट जाता है जिसकी वजह से रक्त प्रवाह में सुधार होता है। एक अध्ययन के अनुसार मधुमेह के रोगी अगर हल्के दबाव वाले मोजों का इस्तेमाल करते है तो उनके पैरों में सूजन कम होने लगती है।

4. नमक का सेवन कम करें

मधुमेह के रोगी अगर अपने आहार में थोड़ा सा भी परिवर्तन करते हैं तो उनके पैरों की सूजन में काफी हद तक कमी आ सकती है। मधुमेह के रोगिओं को नमक कम खाना चाहिए क्यों कि नमक ब्लड प्रेशर को बढ़ता है और पैरों कि सूजन को भी, जितना हो सके कम सोडियम वाला आहार ही लें।

5. आरामदायक जूते पहनें

मधुमेह के रोगिओं को तंग जूते नहीं पहने चाहिए, इसलिए जितना हो सके अपने पैरों से बड़े आकार के जूते लें इससे अगर आपके पैरों में सूजन भी होती है तो ब्लड सर्कुलेशन रुकेगा नहीं। इसके अलावा, महिलायों को ऊची हील के जूते पहले से बचना चाहिए।

6. अपने पैरों की मालिश करें

आपने पूरे पैरों कि मालिश करें इससे आपके पैरों में ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होगा और सूजन के वजह से होने वाले दर्द में भी आराम मिलेगी।

7. अपनी मुद्रा के बारे में सावधान रहें

मधुमेह के रोगीओं को अपने बैठने के तरीके का बहुत ज्यादा ध्यान रखना चाहिए क्यों कि अगर वे ज्यादा देर तक बैठे या खड़े रहेंगे तो उन के पैरों में अकड़न हो सकती है। ऐसे लोगों को पालथीमार कर भी नहीं बैठना चाहिए इससे रक्त प्रवाह प्रभावित होता है।

English summary

7 tips for diabetics to reduce swelling in the feet

Mr Bhushan Hemade of Diaped, a chain of multi-disciplinary foot clinics says ‘Foot problems are common in people with diabetes and can quickly become serious.’ They increases the risk of infections and severe complications like foot ulcers and gangrene that can even lead to limb amputation.
Please Wait while comments are loading...