फिट बॉडी पाने के लिए आज से ही बंद कर दें वर्कआउट के दौरान ये 10 गलतियां

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

वजन कम करने के लिए आजकल हर कोई परेशान रहता है और तमाम तरीके अपनाता है। वैसे भी देखा जाए तो वजन कम करने के लिए सबसे अच्छा तरीका है वर्कआउट करना लेकिन कुछ लोग वर्कआउट करके भी अपना वजन कम नहीं कर पाते हैं।

आपको बता दें कि वर्कआउट के दौरान आपकी कुछ गलतियों की वजह से ही आपका वजन कम नहीं हो पा रहा है। इस आर्टिकल में हम आपको बता रहे हैं कि आप कौन कौन सी गलतियां कर रहे हैं।

वर्कआउट के बाद गर्म पानी से नहाना :

वर्कआउट के बाद गर्म पानी से नहाना :

हॉट शावर लेना आपके शरीर को आराम तो देता है लेकिन वर्कआउट के बाद हमेशा गर्म पानी से नहाना आपके लिए नुकसानदायक है। अगर आप वर्कआउट के बाद ठंडे पानी से नहाते हैं तो इससे मांसपेशियों का दर्द कम होता है और इससे आपकी इम्युनिटी पॉवर मजबूत होती है। इसलिए आगे से आप यह ध्यान रखें कि कभी भी वर्कआउट करने के बाद गर्म पानी से ना नहायें।

वर्कआउट के पहले वार्मअप ना करना :

वर्कआउट के पहले वार्मअप ना करना :

अधिकतर लोग इतने आलसी होते हैं कि वे वर्कआउट करने के पहले वार्म अप करना भी ज़रूरी नहीं समझते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगर आप वर्कआउट शुरू करने से पहले 5 मिनट वार्मअप नहीं करते हैं तो इससे मांसपेशियों पर बुरा असर पड़ता है। वार्मअप करने से शरीर का ब्लड फ्लो बढ़ जाता है और फिर जब आप वर्कआउट करते हैं तो यह ज्यादा फायदेमंद होता है। बिना वार्मअप के वर्कआउट करने से क्रैम्प का खतरा बढ़ जाता है।

एक ही रूटीन को फॉलो करना :

एक ही रूटीन को फॉलो करना :

अगर आप रोजाना एक ही एक्सरसाइज रूटीन फॉलो कर रहे हैं तो जान लें कि यह भी गलत तरीका है। ऐसा करने से आपका शरीर इन एक्सरसाइज का आदी हो जाता है और फिर मांसपेशियों में कोई बदलाव नहीं होता है। इस तरह से आपका वजन कम होना बंद हो जाता है। इसलिए हर हफ्ते अपना एक्सरसाइज रूटीन ज़रूर बदलते रहें।

वर्कआउट से बाद स्ट्रेचिंग ना करना :

वर्कआउट से बाद स्ट्रेचिंग ना करना :

वर्कआउट के बाद कुछ लोग बिल्कुल भी स्ट्रेचिंग नहीं करते हैं और उनका मानना है कि सिर्फ वर्कआउट ही वजन कम करने के लिए ज़रूरी है। जबकि ऐसा नहीं है अगर आप वर्कआउट के बाद स्ट्रेचिंग नहीं करते हैं तो इससे मांसपेशियों में देर तक दर्द बना रहता है और ब्लड फ्लो भी प्रभावित होता है। इसलिए वर्कआउट के बाद कम से कम 1 मिनट स्ट्रेचिंग ज़रूर करें। 1 मिनट में स्ट्रेचिंग करने से सारे शरीर में ब्लड फ्लो बढ़ जाता है जिससे वजन कम करने में आसानी रहती है।

वर्कआउट के बाद रेस्ट ना करना :

वर्कआउट के बाद रेस्ट ना करना :

आपने अक्सर नोटिस किया होगा कि एथलीट जब दौड़ लगाते हैं तो दौड़ ख़तम होते ही थोड़ी देर के लिए ज़मीन पर पीठ के बल लेट जाते हैं। ऐसा करना बहुत ज़रूरी होता है क्योंकि इससे सारे शरीर को कुछ देर के लिए आराम मिल जाता है और इंजरी का खतरा कम हो जाता है। इसलिए आप अगली बार जब भी वर्कआउट करें तो उसके कुछ देर बाद रेस्ट ज़रूर करें।

सिर्फ कार्डियो एक्सरसाइज करना :

सिर्फ कार्डियो एक्सरसाइज करना :

कुछ लोग जिम में सिर्फ कार्डियो एक्सरसाइज करते हैं और वेट लिफ्टिंग करने से परहेज करते हैं। आपको बता दें कि ऐसा करना आपकी सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक है। वेट लिफ्टिंग करने से मांसपेशियां मजबूत होती है और उन्हें बेहतर शेप मिलता है। इससे आपका मेटाबोलिज्म भी बेहतर होता है। पुरुष औरत महिलाओं दोनों को ही जिम में कार्डियो के साथ वेट लिफ्टिंग ज़रूर करना चाहिए।

रनिंग शूज ना बदलना :

रनिंग शूज ना बदलना :

अच्छी सेहत के लिए दौड़ना तो बहुत ज़रूरी है लेकिन अगर आपने पिछले कई महीनों से अपने जूते नहीं बदले हैं तो समझ लें कि इसके कारण भी आपको इंजरी हो सकती है। खराब या पुराने जूतों से पैर की मांसपेशियों में खिंचाव हो सकता है और गंभीर इंजरी भी हो सकती है। इसलिए ये बहुत ज़रूरी है कि हर 1000 किमी दौड़ पूरी करने के बाद आप अपने जूतों को ज़रूर बदलें। इसके अलावा दौड़ने के लिए हमेशा अच्छी गुणवत्ता और अपनी साइज़ के हिसाब से ही जूते खरीदें। छोटे या बड़े साइज़ के जूतों से आपके पैर में चोट लग सकती है।

बोरिंग तरीके से वर्कआउट करना :

बोरिंग तरीके से वर्कआउट करना :

वर्कआउट को अगर आप रोजाना का एक कम समझ कर करने जाते हैं तो कुछ बाद यह बोरिंग लगने लगेगा और फिर आप जिम जाने से कतराने लगेंगे। इसलिए ज़रूरी है कि वर्कआउट को मनोरंजक तरीके से करें जिससे आपका मन लगा रहे और रोजाना जाते रहें। छोटे छोटे गोल सेट करें और उन्हें हासिल करने के बाद फेसबुक या अन्य सोशल साइट्स पर उसे शेयर करें। दोस्तों को अपनी प्रोग्रेस के बारे में बताएं।

विटामिन डी का सेवन ना करना :

विटामिन डी का सेवन ना करना :

अगर आपकी डाइट में विटामिन डी की कमी है तो समझ लें कि इससे आपकी हड्डियां कमजोर पड़ सकती हैं और आगे चलकर आपको गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं। रोजाना पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी ना मिलने से आप काफी कमजोरी महसूस करने लगते हैं। इसलिए रोजाना कुछ देर धूप में बैठें और डाइट में विटामिन डी युक्त चीजों को शामिल करें।

गलत कपड़े पहनना :

गलत कपड़े पहनना :

जैसे अच्छी सेहत के लिए वर्कआउट के दौरान अच्छे जूते ज़रूरी हैं उसी तरह अच्छे कपड़े भी बहुत ज़रूरी हैं। अगर आपके कपड़े आरामदायक नहीं हैं और उनमें से हवा आर पार नहीं जा रही है जो इससे स्किन से जुड़ी बीमारियां हो सकती हैं। ऐसे कपड़ों में बैक्टीरिया बहुत जल्दी पनप जाते हैं और फिर स्किन पर रैशेज पड़ने लगते हैं। इसलिए बाज़ार में खासतौर पर वर्कआउट के लिए बनाये गये कपड़ों को खरीदें।

English summary

10 Bad Workout Habits You Need to Drop Right Now!

Do you have these bad workout habits? If yes, you need to drop them ASAP as they are sabotaging your weight loss goals!
Story first published: Tuesday, November 7, 2017, 18:30 [IST]
Please Wait while comments are loading...