दूध और केला एक साथ ना खाएं नहीं तो होगी ये बीमारियां

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

हम सभी को मिल्कशेक और स्मूदीज़ पसंद होते हैं, है न? गर्मियों के दिनों में मौसमी फल और दूध का मिश्रण ठंडक पहुंचाता है। भोजन के बीच में पेय के रूप में बनाना मिल्कशेक (केले का मिल्कशेक) किसे पसंद नहीं होता?

हालाँकि यह बहुत स्वादिष्ट लगता है परन्तु केले और दूध का एक साथ सेवन करना स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं होता। जी हाँ, आपने सही पढ़ा।

हालाँकि बहुत वर्षों से केले और दूध के मिश्रण से बने ठंडे मिल्कशेक का सेवन किया जाता रहा है परन्तु इससे आपके स्वास्थ्य को बहुत नुकसान हो सकता है। 

आइये जानें कि इस सच्चाई के पीछे क्या तथ्य है और सारी शंकाओं का समाधान करें। हम यहाँ अपने विशेषज्ञों द्वारा दी गयी सलाह के बारे में बता रहे हैं ताकि आप लम्बे समय तक स्वस्थ बने रहे।

केले और दूध का संयोजन - अच्छा या बुरा?

केले और दूध का संयोजन - अच्छा या बुरा?

दूध और केले का मिश्रण शरीर को बहुत नुकसान पहुंचाता है। यद्यपि आप यदि दोनों का सेवन करना चाहते हैं तो पहले दूध पीयें और उसके 20 मिनिट बाद ही केला खाएं।

ना पिएं बनाना मिल्‍क शेक

ना पिएं बनाना मिल्‍क शेक

आपको बनाना मिल्कशेक का सेवन भी नहीं करना चाहिए क्योंकि यह पाचन की प्रक्रिया में बाधा डालता है और आपके नींद के पैटर्न को बिगाड़ता है।

वजन बढ़ाना हो तो खाएं दूध केला

वजन बढ़ाना हो तो खाएं दूध केला

इसके विपरीत हमारे पोषण विशेषज्ञ और मैक्रोबायोटिक हेल्थ कोच कहते हैं, "केले और दूध का संयोजन बॉडी बिल्डर्स या ऐसे लोगों के लिए बहुत अच्छा विकल्प है जो अपना वज़न बढ़ाना चाहते हैं और जिन्हें अधिक तीव्रता वाले कामों के लिए उर्जा की आवश्यकता पड़ती है।

अस्‍थमा वाले ना खाएं इसे

अस्‍थमा वाले ना खाएं इसे

हालाँकि इसकी सलाह उन लोगों को नहीं दी जाती जो अस्थमा जैसी बीमारी से ग्रसित हैं क्योंकि इससे कफ़ बनता है जिसके कारण श्वसन संबंधी समस्या हो सकती है।"

क्या कहता है आयुर्वेद?

क्या कहता है आयुर्वेद?

जहाँ तक आयुर्वेद का सवाल है, प्रत्येक खाद्य पदार्थ का अपना स्वाद (रस), पाचन के बाद परिणाम (विपाका) और गर्म और ठंडी उर्जा (वीर्य) होता है। अत: किसी व्यक्ति अग्नि या गैस्ट्रिक आग से यह निर्धारित होता है कि भोजन कितने अच्छे से या खराब तरीके से पचता है और खाद्य पदार्थों का सही संयोजन बहुत आवश्यक है। आयर्वेद के अनुसार केला और दूध सबसे असंगत खाद्य पदार्थों की सूची में आते हैं।

क्‍या कहती है आयुर्वेदिक की किताब

क्‍या कहती है आयुर्वेदिक की किताब

द कम्प्लीट बुक ऑफ़ आयुर्वेदिक होम रेमेडीज के अनुसार, वासन लाड द्वारा लिखित अ कोम्प्रिहेंसिव गाइड टू एन्शियंट हीलिंग के अनुसार बनाना मिल्कशेक और दूध डालकर बनी हुई फ्रूट स्मूदीज़ का सेवन नहीं करना चाहिए।

साइनस, सर्दी, कफ़ और एलर्जी की समस्‍या हो सकती है

साइनस, सर्दी, कफ़ और एलर्जी की समस्‍या हो सकती है

वसंत लाड द्वारा खाद्य पदार्थों के संयोजन पर दी गयी रिपोर्ट के अनुसार दूध के साथ केला खाने से जठर अग्नि बुझ जाती है, टॉक्सिंस उत्पन्न होते हैं जिससे साइनस, सर्दी, कफ़ और एलर्जी जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

ढेर सारी बीमारियां हो सकती हैं

ढेर सारी बीमारियां हो सकती हैं

यह पाचन की अग्नि को बुझा देता है और आँतों में बाधा पहुंचाता है। इसके कारण जकड़न, सर्दी, खांसी, रैशेस और एलर्जी जैसी समस्याएं होती हैं। यह शरीर में नकारात्मक प्रतिक्रिया उत्पन्न करता है, अतिरिक्त पानी उत्पन्न करता है, शरीर के रास्तों को अवरुद्ध करता है, दिल की बीमारी की संभावना बढ़ाता है, इससे उल्टी और दस्त भी हो सकते हैं।

तो इसका सेवन करें अथवा नहीं?

तो इसका सेवन करें अथवा नहीं?

हमारे विशेषज्ञों के अनुसार केले और दूध का एकसाथ सेवन नहीं करना चाहिए और इससे स्वास्थ्य को गंभीर नुकसान हो सकते हैं। अत: केले को दूध के साथ न मिलाएं और अच्छा होगा कि इनका अलग अलग सेवन करें। दोनों के अपने विशेष गुण हैं जो स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते हैं; हालाँकि दोनों को मिला देने से ये गुण नष्ट हो जाते हैं और शरीर में बीमारी उत्पन्न करते हैं।

English summary

Have You Been Eating Bananas with Milk? You Must Read This

While it tastes amazing, banana and milk might not go well when mixed together. Yes, you read that right.
Please Wait while comments are loading...