आयुर्वेद: खाने से पहले या ठीक बाद में फल खाना क्यों है गलत?

By Lekhaka
Subscribe to Boldsky

आयुर्वेद में हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के हर एक तरीके के बारे में विस्तार से लिखा गया है। उसमें यह बताया गया है कि किस समय उठना चाहिये और दिन भर में कब क्या खाना चाहिये जिससे आपका पाचन तंत्र सही रहे।

आज के समय में अधिकतर लोग पेट से जुड़ी बीमारियों को लेकर परेशान रहते हैं। आपको बता दें कि ऐसा नहीं है वे अच्छी चीज नहीं खाते हैं लेकिन उनका खाने का टाइम इतना गलत होता है जिससे वे फायदों को हासिल नहीं कर पाते हैं।

watermellon

फलों को लेकर भी आयुर्वेद में काफी कुछ लिखा गया है और बताया गया है फलों को खाने का सही वक़्त क्या है। कई लोगों के मन में यह सवाल उठता है कि फल को खाने से ठीक पहले खाना चाहिये या खाना खाने के बाद।

खाने के पहले या बाद में फल खाना : आयुर्वेद में बताया गया है कि जब आप खाने के ठीक पहले या बाद में फल खाते हैं तो उस समय सारा शरीर खाना को पचाने में व्यस्त रहता है। ऐसे में वो फल पेट में उसी तरह पड़ा रह जाता है।

आयुर्वेद में जो टॉक्सिन ठीक से पच नहीं पाते हैं उन्हें अमा का नाम दिया गया है। ऐसे में फल का वेस्टेज जो ठीक से पच नहीं पाता हैं वे आहार नली में जाकर इकठ्ठा होती रहती हैं। जिस वजह से पेट के एसिड का स्त्राव प्रभावित होता है साथ ही अपच और जलन जैसी समस्याएं होती हैं।

जब इसकी मात्रा बहुत बढ़ जाती है तो यह ओवर फ्लो करने लगता है और आस पास के अंगों को प्रभावित करने लगता है। फिर इसी वजह से खाने का संक्रमण या अपच जैसी गंभीर समस्याएँ होती हैं।

 Why Ayurveda Discourages Eating Fruits Before/After Meals

फल खाने का सही तरीका :

1. हमेशा ताजे फल खाएं और इसे दूध, दही या किसी चीज के साथ बिल्कुल भी ना खाएं। इसे खाने के कम से कम आधे घंटे तक कुछ भी ना खाएं।

2. कुछ फल ऐसे होते हैं जिन्हें आप दिन भर में कभी भी खा सकते हैं लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जिन्हें शाम को नहीं खाना चाहिये।

3. फलों को खाने का सबसे सही वक़्त सुबह का होता है। आप सुबह खाली पेट फल खाएं तो वो बहुत फायदेमंद है। सिर्फ सिट्रस या खट्टे फलों को सुबह खाली पेट नहीं खाना चाहिये क्योंकि इससे एसिडिटी की समस्या हो सकती है।केला, सेब और आम जैसे फलों को आप सुबह खा सकते हैं।

4. अगर आप तरबूज खा रहे हैं तो उसके साथ कोई भी दूसरी चीज ना खाएं।

5. सभी तरह के बेरी को जैसे कि ब्लूबेरी, अंगूर, चेरी इत्यादि को आप सुबह नाश्ते में खा सकते हैं। सिर्फ स्ट्रॉबेरी को सुबह ना खाएं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    Why Ayurveda Discourages Eating Fruits Before/After Meals

    From an Ayurvedic perspective, fresh fruit is considered very light and easy to digest – comparatively lighter than other foods. When it is eaten with (or after) heavier foods, it stays in the stomach for as long as the heaviest food takes to digest.
    Story first published: Monday, August 28, 2017, 15:05 [IST]
    भारत का अब तक का सबसे बड़ा राजनीतिक पोल. क्या आपने भाग लिया?
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more