For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

एक्‍सरसाइज बाइक vs ट्रेडमिल: वर्कआउट के ल‍िए दोनों में से क्‍या है आपके ल‍िए बेहतर?

|

जिम में कई तरह के आधुन‍िक वर्कआउट मशीनें उपलब्ध हैं, जो कैलोरी बर्न करने के साथ ही आपको बेहतर वर्कआउट में मदद करते हैं। अगर आपका मकसद एक्‍सरसाइज के जरिए हार्ट को हेल्‍दी रखना है तो आप आपकी पसंद दो- स्‍टेशनरी बाइक और ट्रेडमिल तक सीमित हो सकती है।

ये दोनो ही अलग तरह से काम करते हैं और आपकी मसल्‍स को अलग तरह से हेल्‍दी रखने में मदद करते हैं। इन दोनों ही वर्कआउट मशीन पर जाने से पहले कई लोगों के मन में ये ही सवाल आता है क‍ि दोनों में से कौनसी मशीन बेस्‍ट है।

दोनों कैसे हैं अलग?

दोनों कैसे हैं अलग?

इसमें कोई संदेह नहीं है कि यदि आप अपने घर के आराम में कार्डियोवैस्कुलर एक्‍सरसाइज का लाभ लेना चाहते हैं, तो ट्रेडमिल और स्‍टेशनरी बाइक दोनों ही बेस्‍ट विकल्प हैं। वे दोनों आपके लोअर बॉडी की मांसपेशियों को टारगेट करके आपकी कई्र टन कैलोरी बर्न करने में मदद करते हैं।

इनमें जो मुख्‍य बड़ा अंतर है वो है आपके जोड़ों और मांसपेशि‍यों के समूहों को प्रभावित करने का तरीका है। दोनों ही मशीनों का अलग-अलग फायदे हैं। यहां हम ये ही तुलना करेंगे कि आपकी फिटनेस आवश्यकताओं के अनुसार कौन सी मशीन आपके ल‍िए बेस्‍ट है? आपके लिए सबसे उपयुक्त होगा।

कैलोरी बर्न करने के ल‍िए

कैलोरी बर्न करने के ल‍िए

पहली चीज जो हम सभी देखते हैं, वह यह है कि किसी विशेष कसरत को करते समय कितनी कैलोरी बर्न होती है। चाहे आपका मकसद कुछ किलो कम करना हो या शेप में आना हो, इनके ल‍िए कैलोरी बर्न करना आवश्यक है। आप जितनी अधिक कैलोरी बर्न करेंगे, उतनी ही तेजी से आपका वजन कम होगा।

कैलोरी बर्न करने के ल‍िए हम यहां आपको ट्रेडमिल चुनने की सलाह देंगे। यहां तक ​​कि अगर आप झुकी हुई सतह ( inclined surface) पर चल रहे हैं या जॉगिंग कर रहे हैं, तो आप प्रति घंटे 600 या 700 कैलोरी तक आसानी से बर्न कर सकते हैं। जब क‍ि स्‍टेशनरी बाइक को आप क‍ितनी ही तेजी से क्‍यों नहीं चला लें। आप प्रति घंटे केवल 400 कैलोरी बर्न कर सकते हैं।

चोट का खतरा क‍िसमें?

चोट का खतरा क‍िसमें?

इन दोनों ही वर्कआउट मशीन में एक खतरा चोट लगना भी है। अगर आप चाहते हैं क‍ि आपको चोट नहीं लगे तो आपका फॉर्म सही होना जरुरी है। चाहे आप साइकिल चलाते हों या ट्रेडमिल पर दौड़ते हों, दोनों ही मामलों में अगर आपका फॉर्म खराब होता है तो आप घायल हो सकते हैं। लेकिन बाइक चलाने की तुलना में ट्रेडमिल पर जोखिम थोड़ा अधिक होता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि ट्रेडमिल पर दौड़ना एक 'हाई इम्‍पेक्‍ट एक्टिविटी' है, यहां थोड़ा सा संतुलन खोने और खुद को चोटिल करने का जोखिम हमेशा बना रहता है। जबक‍ि स्‍टेशनरी बाइक से चोट लगने का खतरा काफी कम होता है। इसमें गिरने से केवल कूल्‍हों, घुटने और कंधे के दर्द का अनुभव कर सकते हैं, जो आसानी से ठीक हो जाता है।

वर्कआउट वैरिएशन

वर्कआउट वैरिएशन

अपने वर्कआउट रुटीन में बदलाव लाने के ल‍िए जरुरी है क‍ि आप अपने वर्कआउट में वैरिएशन लेकर आए जिससे क‍ि आपको वर्कआउट करने में आनंद भी आएगा।

स्‍टेशनरी बाइक पर, आप बस स्‍पीड और प्रतिरोध को बढ़ा सकते हैं। ट्रेडमिल में आपके बस एक्‍सपैरिमेंट करने के ल‍िए स्‍वतंत्रता होती है। स्‍पीड बढ़ाने के साथ ही आप डिफरेंट टाइप के एक्‍सरसाइज कर सकते हैं।

मांसपेशियों के ल‍िए

मांसपेशियों के ल‍िए

ट्रेडमिल बेशक एक उत्कृष्ट कार्डियो वर्कआउट है जो आपके पेट की चर्बी को कम करने, आपकी हड्डियों, हृदय की मांसपेशियों को मजबूत करने और शरीर को टोन करने में मदद करता है। यह मुख्य रूप से आपके घुटनों और अन्य जोड़ों पर काम करता है। वहीं स्‍टेशनरी बाइक आपके ग्लूट्स, पिंडलियों और जांघों पर काम करती है। यह मांसपेशियों को टोन करने, वजन कम करने, हृदय की मांसपेशियों को मजबूत करने और फेफड़ों की क्षमता बढ़ाने के लिए अच्छा है। स्‍टेशनरी बाइक आपके ऊपरी शरीर के विकास पर काम करती है।

क्‍या है दोनों में से बेहतर?

क्‍या है दोनों में से बेहतर?

कुल मिलाकर ट्रेडमिल और बाइक दोनों ही आपको फिट रखने में मदद करते हैं। यदि आप लाइट एक्‍सरसाइज तक सीमित रहना चाहते है तो हम आपको एक स्‍टेशनरी बाइक चुनने की सलाह देंगे। हालांकि, अगर आप दौड़ने के मूड में हैं, तो ट्रेडमिल एक बेहतर विकल्‍प है। ज्‍यादा वजन घटाने और कैलोरी बर्न करने के लिए भी ट्रेडमिल एक आदर्श विकल्प होगा।

English summary

Exercise bike vs Treadmill: Which one will get a better workout? Know in hindi

Exercise bike vs Treadmill: here we will compare which one will suit you the best according to your fitness needs.
Story first published: Thursday, September 16, 2021, 10:00 [IST]