For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

अंडे की जर्दी खाना जरुरी है या नहीं, जानें यहां

|

अंडे प्रोटीन का मुख्‍य स्‍त्रोत में से एक हैं। एक दिन में एक साबुत या उबला हुआ अंडा आपको 13 विभिन्न आवश्यक विटामिन और पोषक तत्व प्रदान करते हैं। लेकिन आजकल कई लोग अंडे के पीले हिस्से जिसे यॉर्क कहते हैं, इसे खाने की बजाय फेंकना पसंद करते हैं। क्‍योंकि कई लोग इसे अनहेल्‍दी और हाई कोलेस्ट्रॉल से जोड़कर देखते हैं। यह प्रवृत्ति फिटनेस के प्रति उत्साही लोगों में अधिक आम है जो मांसपेशियों को बनाने या वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं। मगर सच्‍चाई ये है क‍ि अंडे के पीले ह‍िस्‍से को नहीं खाने से आप अपने शरीर को कई पोषक तत्वों से नहीं मिल पाते है। जिस वजह इस सूपरफूड को डाइट में भी शामिल करने से आपको सिर्फ इसका आधा लाभ ही मिलता है।

अंडे की जर्दी में क्‍या होता है?

अंडे की जर्दी में क्‍या होता है?

अंडे की जर्दी में सभी पोषक तत्व होते हैं। अंडे के सफेद भाग में जर्दी की तुलना में कम पोषक तत्व होते हैं। एक पूरा अंडा विटामिन ए, डी, ई, के, और छह अलग-अलग बी विटामिन से भरा होता है। जब खनिजों की बात आती है, तो वे आयरन, कैल्शियम, फॉस्फोरस, जिंक और फोलेट से भरे होते हैं। लेकिन इन विटामिनों और खनिजों का वितरण भी नहीं होता है। जर्दी में सफेद की तुलना में बहुत अधिक पोषक तत्व होते हैं और उन पर गायब होने का मतलब है कि आपको शरीर द्वारा अपने आंतरिक कार्यों को पूरा करने के लिए आवश्यक पर्याप्त पोषक तत्व नहीं मिल रहे हैं। सफेद भाग केवल प्रोटीन से भरपूर होता है।

अंडे की जर्दी से जुड़ा मिथक

अंडे की जर्दी से जुड़ा मिथक

अधिकांश लोग जर्दी को खाने से बचते हैं क्योंकि इसमें कोलेस्ट्रॉल, वसा और सोडियम की मात्रा अधिक होती है। लेकिन अगर आप सीमित मात्रा में अंडे का सेवन करते हैं, स्वस्थ आहार का पालन करते हैं और नियमित रूप से व्यायाम करते हैं, तो आपको कोलेस्ट्रॉल और वसा की मात्रा के बारे में चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है।

चाहे आप वजन कम करने या मांसपेशियों का निर्माण करने की कोशिश कर रहे हों, आपको कई उद्देश्यों के लिए कोलेस्ट्रॉल और वसा दोनों की आवश्यकता होती है। कोलेस्ट्रॉल टेस्टोस्टेरोन बनाने के लिए आवश्यक है, जो ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने और मांसपेशियों के निर्माण में मदद करता है। यह विटामिन डी के निर्माण में भी मदद करता है जब त्वचा सूरज की रोशनी के संपर्क में आती है। डी विटामिन हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है।

जहां तक अंडे में मौजूद फैट की बात है तो यह ज्यादातर हेल्दी होता है। वसा का सेवन आपको गर्म रखने में मदद करता है और आपको लंबे समय तक भरा हुआ महसूस कराता है।

अंडे की सफेदी और पूरे अंडे की पोषण सामग्री:

अंडे की सफेदी और पूरे अंडे की पोषण सामग्री:

एक अंडे की सफेदी और एक पूरे अंडे की पोषण सामग्री में बहुत बड़ा अंतर होता है। यहाँ पोषक तत्वों को विभाजित किया गया है:

8 अंडे का सफेद भाग

प्रोटीन: 28 ग्राम

कार्ब्स: 2 ग्राम

वसा: 0 ग्राम

कैलोरी: 137

4 पूरे अंडे

प्रोटीन: 28 ग्राम

कार्ब्स: 2 ग्राम

वसा: 21 ग्राम

कैलोरी: 312

काम की बात

काम की बात

जब आप एक अंडे का सेवन कर रहे होते हैं, तो इसके सभी पोषक तत्व प्राप्त करने के लिए एक पूरा अंडा खाना हमेशा बेहतर होता है। पीले भाग को त्याग कर अधिक सफेद खाने से आप कई पोषक तत्वों से वंचित रह जाएंगे। 4 अंडे की सफेदी लेने के बजाय 2 साबुत अंडे खाएं। 4 अंडे की सफेदी की तुलना में आपको 2 पूरे अंडे से अधिक पोषक तत्व प्राप्त होंगे।

English summary

Side-effects of not eating egg yolks in Hindi

What happens when you eat only egg whites and discard the yolk? Read on to know the Side-effects of not eating egg yolks in Hindi.
Story first published: Wednesday, January 19, 2022, 16:00 [IST]
Desktop Bottom Promotion