LADIES... बार-बार लगती है पेशाब तो कहीं इसका कारण ये तो नहीं....

Posted By:
Subscribe to Boldsky

रात की नींद किसे पसंद नहीं है, लेकिन अगर यही नींद किसी कारण से ख़राब होने लगे तो इससे आपकी सेहत पर असर पड़ता है। सोचिये आप गहरी नींद में हों और अचानक आपको पेशाब लग जाए, तो आपको उठना ही पड़ेगा, और यही नहीं पेशाब कई बार लगे। तो इससे आपकी नींद भी टूटती है और आप ठीक से सो भी नहीं पाएंगे। अगर आपके साथ यह रोज़ होता है तो इसे हलके में मत लीजिये।

रात में पेशाब जानाऔर कई बार जाना सिर्फ पानी पीने से नहीं होता है बल्कि इसके कई कारण हो सकते हैं। बहुत ज्यादा पेशाब लगना उम्र के साथ हॉर्मोन्स में तब्दीलियां आने से भी होता है। इसी कारण रात में ज़्यादा पेशाब होता है। उम्र बढ़ने के साथ पुरुषों के प्रोस्टेट ग्रंथि अक्सर बढ़ने लगती है। बड़ा प्रोस्ट्रेट ट्यूब पर दबाव बना सकता है और इससे पेशाब भी ज़्यादा होता है। आइये जानते हैं ऐसे ही अन्य कारण।

बार-बार लगती है पेशाब तो कहीं इसका कारण ये तो नहीं....

स्लीप एपनिया से पीड़ित हैं?

स्लीप एपनिया में व्यक्ति को सोते वक़्त सांस लेने में दिक्कत होती है जिससे उसकी नींद बीच में ही टूट जाती है। इससे दिन भर नींद आने से ब्लड प्रेशर बढ़ने जैसी दिक्कत के साथ दिल की बीमारी व मधुमेह का खतरा बढ़ जाता है। यह देखा गया इस बीमारी से 50% लोग पीड़ित हैं।

coffee

रात में सोने से पहले कैफीन पीना

जिन लोगों को भी कॉफी पसंद हैं वो इसे जरूर पढ़ें। कॉफ़ी पीने से आप सिर्फ सुबह ताज़गी महसूस ही नहीं करते बल्कि इससे पेशाब भी लगती है। शराब और कॉफ़ी दोनों से शरीर में पेशाब की मात्रा बढ़ जताई है। और अगर आप उनमें से है जो रात में खाना खाने से बाद कॉफ़ी पीते हैं तो यह खतरे की निशानी है।

uti

इंटररिस्टशियल सिस्टाइटिस से रहें सतर्क

इंटररिस्टशियल सिस्टाइटिस एक स्थिति है जिसकी वजह से मूत्राशय में तकलीफ या पीड़ा होती है और बार-बार मूत्र त्याग की जरुरत महसूस होती है। यह पुरुषों की तुलना में महिलाओं में ज्यादा सामान्य है। इसके लक्षण सभी लोगों के लिए अलग-अलग हो सकते हैं। कुछ लोगों को मूत्र त्याग की तीव्र जरुरत के बिना दर्द हो सकता है। अन्य लोगों को केवल दर्द हो सकता है। मासिक धर्म के दौरान महिलाओं की स्थिति ज्यादा खराब हो सकती है। उन्हें संभोग के दौरान भी दर्द हो सकता है।

medicine

दवाइयों का सेवन 

अगर आप सर्दी की दवा खा रहें है तो रात में बार बार पेशाब करने के लिए तैयार रहें। ठंड लगने की दवाओं को इस तरह की बनाया जाता है कि वे किसी भी तरह के अतिरिक्त तरल पदार्थ को मूत्राशय के द्वारा बाहर निकलती है। जिससे बार बार पेशाब लगती है।

यूटीआई भी कारण हो सकता है

 यूटीआई तब होता है, जब बैक्टीरिया या फंगस हमारे पाचन तंत्र से निकल कर या फिर किसी अन्य माध्यम से पेशाब मार्ग की दीवारों पर चिपक जाते हैं और तेजी से बढ़ते चले जाते हैं। यही नहीं पेशाब करतेवक़्त जलन, खुजली, और वजाइनल डिस्चार्ज होता है। इससे पेशाब बेवक़्त लगती है।

English summary

Do you often get up in the middle of the night to pee? 5 reasons why this is happening and drinking water is not one of them

Do you often get up in the middle of the night to pee? 5 reasons why this is happening and drinking water is not one of them Who doesn't like a peaceful night's sleep? But, for some us it's just a dream.
Story first published: Friday, November 10, 2017, 16:12 [IST]
Please Wait while comments are loading...