रिसर्च...वायु प्रदूषण से आपकी उम्र 6 साल हो जाएगी कम, क्या क्या होती है समस्या

Subscribe to Boldsky

आपको बता दें कि आपके आसपास का वातावारण आपके जिंदगी के लिए बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है। हाल ही में एक रिसर्च में चौकाने वाले खुलासे हुए है। आपको बता दें कि इसमें पता चला है कि प्रदूषण के कारण आपकी उम्र सामान्य से करीब 6 साल तक कम हो सकती है।

आपको बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी में वायु प्रदूषण अब तक के सर्वोच्च स्तर पर है। मौसम की स्थिति तेजी से बिगड़ती जा रही है। जहरीली वायु के संपर्क में आने पर फेफड़े, रक्त, संवहनी तंत्र, मस्तिष्क, हृदय और यहां तक कि प्रजनन प्रणाली भी प्रभावित हो सकती है।

दिल्ली की आबोहवा पिछले कुछ दिनों से बहुत ही खराब बनी हुई है। ये हालत दिनभर में सबसे ज्यादा सुबह के समय खराब होती होती है।

क्यों होता है कमर का दर्द, जानिए इसके कारण और घरेलू इलाज

आज आपको ये बताएंगेँ कि आपको किस तरह से इस समस्या से बचना है। ये चौकाने वाली रिसर्च होने के बाद लोग डर गए है। आपको अब किसी भी तरह की लापरवाही नहीं करनी है।

वायु प्रदूषण से पड़ने वाले असर

वायु प्रदूषण से पड़ने वाले असर

आपको बता दें कि वायु प्रदूषण बहुत ही खतरनाक है। इसके विषाक्त कण रक्त वाहिनियों की दीवारों से गुजरते हैं और रक्त के प्रवाह को प्रभावित करते हैं। वे थ्रांबोसिस का कारण बन सकते हैं। इसलिए आपको इससे बचने की आवश्यकता है। ये आपके शरीर को नुकसान पहुंचाने के लिए काफी है।

सर्दियों में डिहाइड्रेशन की समस्या से बचने के लिए ऐसे रहे सावधान

हाई बीपी हो सकता है

हाई बीपी हो सकता है

आपको बता दें कि अगर आप ज्यादा प्रदूषण में रहे तो आपको हाई बीपी की समस्या हो सकती है। ये आपके शरीर के संतुलन को पूरी तरह से बिगाड़ सकती है। प्रदूषण के विषाक्त पदार्ध आपके खून के व्यास को कम कर देता है जिस कारण ये समस्या होती है। इससे बचना जरूरी है।

स्ट्रोक का खतरा

स्ट्रोक का खतरा

आपको बता दें कि आपको जहरीली और दूषित वायु के संपर्क में आने से स्ट्रोक भी हो सकता है। ये आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत खतरनाक है। इससे बचने के लिए आपको प्रदूषण से बचना होगा। आपको ऐसे वातावरण में आने से बचना है।

दिल की समस्या

दिल की समस्या

आपको बता दें कि जब आप जहरीली हवा के संपर्क में आने के बाद कई समस्याओं के संपर्क में आते है। हवा में विषाक्त पदार्थों के मिले होने से हृदय की क्रिया प्रणाली प्रभावित हो सकती है और हृदय की रिदम बिगड़ सकती है। इसलिए आपको इससे बचना है और स्वस्थ रहना है।

गर्भवती को समस्या

गर्भवती को समस्या

आपको बता दें कि जहरीली हवा के संपर्क मे आना किसी गर्भवती महिला के लिए सही नहीं होता है। इससे इसको कई तरह की समस्याएं हो सकती है। आपको बता दें कि इससे गर्भपात का भी खतरा होता है।

भ्रूण को दिक्कत

भ्रूण को दिक्कत

वायु प्रदूषण से आपको और आपके पेट में पल रहे बेबी को भी खतरा हो सकता है। आपको बता दें कि इससे उसकी तबियत खराब हो सकती है। डिलिवरी के बाद वो शारीरिक और मानसिक रूप से भी बीमार हो सकता है।

गर्भपात का खतरा

गर्भपात का खतरा

वायु प्रदूषण पूरी तरह से आपके लिए खतरनाक है। ये गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत ज्यादा ध्यान देने वाली बात है। आपको चाहिए कि आप इससे बचके रहें। आपको इस जहरीली हवा से गर्भपात तक हो सकता है।

समय से पहले बच्चे का जन्म

समय से पहले बच्चे का जन्म

आपको ये बात हिला कर रख देगी कि जहरीली हवा से आपके बेबी का जन्म समस से पहले भी हे सकता है जो आपके और आपके बेबी के लिए खतरनाक है। इससे बचें और स्वस्थ रहें।

दमा की समस्या

दमा की समस्या

आजकल जो सबसे आम समस्या है वो है कि आपकी सांस फूल जाती है। दरअसल ये समस्या वायु अधिकतर वायु प्रदूषण के कारण ही होती है। जहरीली वायु आपके फेफडों में जाकर इंफेक्शन पैदा करती है जो आपके लिए दमा का कारण बनता है। इससे बचने की आप को जरूरत है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    Effects of Air Pollution on human

    Let you know that the environment around you is very important for your life. Recently there have been revelations scattered in a research. Let us know that it has been found that due to pollution, your age can be reduced by as little as 6 years.
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more