हफ्ते में सिर्फ 2 घंटे एक्सरसाइज करके इस खतरनाक मानसिक बीमारी से बचा जा सकता है

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

क्या आपने नोटिस किया है आजकल कई तरह के जिम और अन्य प्रकार के अभ्यासों का चलन तेजी से बढ़ गया? यदि हां, तो आपको अब तक एहसास होना चाहिए कि लोग फिटनेस के प्रति जागरूक होते जा रहे हैं। यही कारण है कि वे किसी भी प्रकार की शारीरिक गतिविधि से जुड़ने की कोशिश करते हैं।

रिसर्च...बियर पीने वाले लोग दूसरे लोगों से ज्यादा खुश रहते है

Exercises to boost Brain Power | Sharp Memory | दिमाग को तेज करती है ये ब्रेन एक्सरसाइज ।BoldSky

इन दिनों अधिकांश लोग डेस्क जॉब करते हैं जिससे उन्हें व्यायाम करने के लिए समय नहीं मिल पाता है। काम के बोझ के कारण ज्यादातर लोग व्यायाम में कम ही शामिल होते हैं।

लेकिन आपको पता होना चाहिए कि व्यायाम की कमी मानसिक और शारीरिक दोनों ही तरह की बीमारियों का मूल कारण हो सकती है।

प्रतिदिन एक घंटा जरूर करें व्यायाम

प्रतिदिन एक घंटा जरूर करें व्यायाम

विशेषज्ञों के मुताबिक, औसत व्यक्ति को हर दिन कम से कम एक घंटा व्यायाम करना चाहिए।

व्यायाम के बिना आप मोटापे, उच्च रक्तचाप, उच्च कोलेस्ट्रॉल, जोड़ों में दर्द, पाचन विकार और मानसिक रोग जैसे अवसाद जैसे रोगों से ग्रस्त हो सकते हैं।

यहां तक कि कुछ प्रकार के कैंसर का जोखिम भी होता है।

अवसाद रुक सकता है

अवसाद रुक सकता है

इसलिए अगर आपको स्वस्थ रहना है, तो यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि आप किसी भी प्रकार का व्यायाम करें।

जिसका नियमित आधार पर अभ्यास किया जा सकता है। हाल ही में, एक शोध अध्ययन में पाया गया है कि एक हफ्ते में करीब 2 घंटे व्यायाम करने से अवसाद को रोका जा सकता है। चलिए जानते हैं कैसे।

अवसाद का इलाज कैसे कर सकता है?

अवसाद का इलाज कैसे कर सकता है?

अवसाद बहुत आम है और एक गंभीर मानसिक बीमारी है। इससे दुनियाभर में बहुत से लोग ग्रस्त हैं।

अवसाद दोनों पुरुषों और महिलाओं को समान रूप से प्रभावित कर सकता है। इतना ही नहीं यह युवाओं को प्रभावित कर सकता है।

अवसाद को मनोदशा विकार के रूप में वर्णित किया जा सकता है जिसमें एक व्यक्ति बहुत उदास और चिंतित महसूस करता है।

दासीनता कई कारणों से हो सकती है जैसे, किसी व्यक्ति की अस्वीकृति या मृत्यु, अकेलापन, जीवन की दृष्टि की कमी, वित्तीय मुद्दे, स्वास्थ्य संबंधी मुद्दे, आनुवंशिकता, गर्भावस्था आदि।

अवसाद का तुरंत इलाज है जरूरी

अवसाद का तुरंत इलाज है जरूरी

स्थिति बिगड़ने पर अवसाद से पीड़ित लोगों का इलाज मुश्किल हो सकता है। इसलिए अवसाद का तुरंत इलाज करना बहुत जरूरी है।

ऑस्ट्रेलिया में ब्लैक डॉग इंस्टीट्यूट द्वारा किए गए एक हालिया शोध में कहा गया है कि एक सप्ताह में सिर्फ 2 घंटे तक व्यायाम करने से अवसाद के लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है।

एक हफ्ते में भी निकाल सकते है अभ्यास का समय

एक हफ्ते में भी निकाल सकते है अभ्यास का समय

शोधकर्ताओं के अनुसार, सिर्फ दो घंटे व्यायाम करने से मस्तिष्क में सेरोटोनिन का उत्पादन बढ़ा सकता है।

अवसाद के लक्षणों को कम करने के लिए सेरोटोनिन हार्मोन की बहुत आवश्यकता है।

इसलिए, भले ही आपके पास एक व्यस्त कार्यक्रम हो, एक हफ्ते में अभ्यास के लिए सिर्फ दो घंटे जरूर निकालें, ताकि आप इस खतरनाक समस्या से बच सकें।

English summary

Exercising Just 2 Hours Every Week Can Treat This Common Mental Disorder!

Without exercise, you may suffer from diseases such as obesity, hypertension, high cholesterol, joint pain, digestive disorders and mental illness such as depression.
Please Wait while comments are loading...