वायरल फीवर है खतरनाक, बदलते मौसम में ऐसे रहें सावधान

Posted By:
Subscribe to Boldsky

बदलते मौसम में आपको की सावधानियां बरतने की जरूरत होती है। क्योंकि इस समय कई तरह की बीमारियां जन्म लेती है। ऐसे मे जो सबसे खतरनाक बीमारी है वो है वायरल फीवर। शरीर का उच्च तापमान इस वायरल इन्फेक्शन वाले बुखार को सामान्य बुखार से अलग बनाता है।

वायरल फीवर संक्रामक हो सकता है जो तेजी से एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति में फैलता है। यह छींक, जम्हाई, खांसी या अति सूक्ष्म तरीके से जिवाणुओं द्वारा प्रभावित व्यक्ति के निकट रहने से होता है। यह दुसरे व्यक्ति में मुंह और नाक के द्वारा प्रवेश कर जाता है।

शरीर में प्रवेश लेने के 16 से 48 घन्टों के भीतर इस रोग के लक्षण सामने आते हैं। बच्चों, बूढों और ऐसे लोग जिनकी प्रतिरोधक क्षमता कम होती है उन्हें इस रोग का खतरा अधिक होता है।

20 ऐसी चीजें जिनको रात में खाने से आते है भयानक सपने, जानिए

आपको बताएंगे की वायरल फीवर में आपको कैसे सावधानी बरतनी चाहिए....

वायरल फीवर के लक्षण

वायरल फीवर के लक्षण

जोड़ों और शरीर में दर्द

अगर आपके मसल्स शरीर और जोड़ों में दर्द रहता है तो ये वायरल फीवर के लक्षण हो सकते है। ऐसे में आपको लापरवाही बिल्कुल नहीं करनी चाहिए और तुरंत इलाज कराना चाहिए।

वायरल फीवर से राहत पाने के लिए अपनी डायट में जरूर शामिल करें ये 5 चीजें

सिर दर्द और कमजोरी

सिर दर्द और कमजोरी

इसके अलावा आपको ऐसे में सिर दर्द होता है और कमजोरी सी लगती है। अगर आपके साथ ऐसा हो तो आपको समझ जाना चाहिए कि आपको वायरल फीवर है। इसके बाद इसमें लापरवाही बिल्कुल ना बरतें।

स्किन रैश और आँखों का लाल होना

स्किन रैश और आँखों का लाल होना

अगर आपकी आखें लाल होती है या आपके स्किन रैसेस होते है तो ये वायरल फीवर के लक्षण है। ऐसे में आपको ध्यान रखना है कि बिना किसी देरी के आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए। वायरल फीवर आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है।

बहती नाक और गले में दर्द

बहती नाक और गले में दर्द

जब आपको वायरल फीवर होता है तो आपकी नाक बहने लगती है और गले में तेज दर्द भी होता है। ऐेसे में आपको ये समझ जाना चाहिए कि आपको वायरल होने वाला है। जिसका इलाज समय से होना ही चाहिए।

ये भी होते है लक्षण

ये भी होते है लक्षण

आपके शरीर में गर्माहट हो जाता है उच्च ज्वर, शरीर का तापमान 104 डिग्री तक हो जाता है।

अगर आपको अचानक खूब तेज ठंड लगे तो ये वायरल के लक्षण है।

अगर आपका चेहरा सूज जाए और आपके थकान रहे तो ये वायरल फीवर के लक्षण है।

वायरल फीवर में ये सावधानी रखें

वायरल फीवर में ये सावधानी रखें

आराम करें

आपको अगर इससे पूरी तरह से राहत चाहिए तो आपको इसके लिए ज्यादा आराम करना चाहिए। उचित आराम शरीर में दवाओं को अपना प्रभाव दिखाने का बेहतर मौका देता है। इससे प्रभावित इम्युनिटी को फिर से बेहतर किया जा सकता है। इसलिए ऐसे में आराम बहुच जरूरी है।

पूरा करें कोर्स

पूरा करें कोर्स

अगर आप वायरल जैसे खतरनाक बुखार को जड़ से खत्म करना चाहते है तो आप इश रोग को जड़ से दूर करने के लिए दवा का कोर्स पूरा करना चाहिए। इसके पूरा कोर्स करने के बाद आपको इससे आराम मिल जाएगा।

अधिक पानी पिएं

अधिक पानी पिएं

अगर आपको डिहाईड्रेशन से बचना है तो आपको ऐसे ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए। ऐसे में शरीर में पानी की कमी नही होनी चाहिए। इसलिए नियमित पानी पीते रहे।

हल्के भोजन खाएं

हल्के भोजन खाएं

ऐसे समय में आपको भारी खाना नहीं खाना है बल्कि जल्दी पचने वाला खाना खाना है। पेट के लिए हलके और सुपाच्य भोजन जैसे खिचड़ी और सूप आदि का सेवन करें। ये आपके लिए ऐसी अवस्था में सही है।

ये ना करें

ये ना करें

आपने देखा होगा कि ऐसे समय में जल्दबाजी करते हुए कई लोग बुखार को गंभीरता से नहीं लेते और किसी भी तरह का बुखार या फ़्लू होने पर बिना जांच करवाए अपनी जानकारी में मौजूद बुखार कि दवा का सेवन कर लेते हैं, जो कि बहुत गलत तरीका है। इससे आपको नुकसान हो सकता है।

अपनी चीजों को दूसरों को इस्तेमाल ना करने दें

अपनी चीजों को दूसरों को इस्तेमाल ना करने दें

अगर आप ऐसे में अपनी चीजों को दूसरों को इस्तेमाल करने देगे तो उनको भी खतरा हो सकता है इसलिए अपना रुमाल, भोजन या अपने प्रयोग की चीजें किसी के साथ साझा ना करें, खास तौर पर बच्चों को खुद से दूर रखें। ये खतरनाक हो सकता है।

ठंड लगने पर ये ना करें

ठंड लगने पर ये ना करें

अगर आपको ठंड लगे तो भारी और चुस्त कपडे पहनने की गलती ना करें बल्कि ऐसे में आपको कंबल ओढ़ना चाहिए और ठंड से बचाव करना चाहिए।

डॉक्टर से सलाह लेकर खाएं दवा

डॉक्टर से सलाह लेकर खाएं दवा

कई बार लोग अपने मन से दवाओं का सेवन करने लगते है। आपको बतां दें कि अगर आपका डॉक्टर आपको एंटीबायोटिक दवाएं ना लिखकर दे तो अपने मन से इनका सेवन ना करें। एंटीबायोटिक दवाएं बैक्टीरिया को ठीक करने में उपयोगी नहीं होती है। ऐसा करना आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है।

English summary

Viral Fever: Symptoms, Complications, and Treatment

You need to take precautions in the changing season. Because many types of diseases are born at this time. The most dangerous disease in those cases is viral fever.
Please Wait while comments are loading...