क्या होगा अगर पूरी दुनिया से मच्छरों को खत्म कर दिया जाए ?

By Lekhaka
Subscribe to Boldsky

मच्छरों का नाम सुनते ही हम सबके दिमाग में मलेरिया और डेंगू जैसे गंभीर रोगों का चित्र उभरने लगता है। इसके अलावा ग्रामीण और शहरी इलाकों में लोग मच्छरों की वजह से ठीक से सो भी नहीं पाते हैं। कुछ लोगों का कहना है कि इनसे निपटने के लिए ऐसी दवा बना देनी चाहिये जिससे पूरी धरती से इनकी प्रजाति ही खत्म हो जाए।

आपको बता दें कि हाल में वैज्ञानिकों ने इस विषय पर सोचा भी कि मच्छरों का हमारे इकोसिस्टम में क्या रोल है और अगर ये पूरी तरह खत्म हो जाते हैं तो इसका क्या प्रभाव पड़ेगा। रिसर्चर की टीम ने बताया कि बेशक ये इंसानों के लिए किसी काम के नहीं हैं लेकिन आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि ये कई अलग तरह की स्पीसीज के लिए एक खाद्य सामग्री भी है। अगर इन्हें पूरी तरह से खत्म कर दिया जायेगा तो कई और जीव प्रजातियों के खान-पान पर बुरा असर पड़ेगा।

mosquitoes

यूएस स्टेट ऑफ़ इंडिआना के परड्यू यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर कैथरीन हिल बताती है कि हमारे इकोसिस्टम के कई जीव, मच्छरों को खाकर ही जी रहे हैं ऐसे में अगर ये पूरी तरह खत्म हो गये तो उनके जीवन पर भी संकट में बादल मंडराने लगेंगे।

इसलिए ऐसा कोई नॉन लेथल पेस्टिसाइड बनाना जो मच्छरों की प्रजाति को खत्म कर देगा वो बाकियों के लिए भी हानिकारक हो सकता है। उनका मानना है कि मच्छरों की प्रजाति खत्म करने की तुलना में बीमारियों को एक से दूसरे में फैलाने की उनकी क्षमता को खत्म करना ज्यादा कारगर और प्रभावी तरीका है। इससे इंसानों को फिर मच्छरों से कोई नुकसान नहीं होगा।

इस समय दुनिया के कई हिस्सों में छोटी मछलियाँ मच्छरों को भोजन के रूप में ग्रहण करती हैं वहीँ कई तरह के पक्षी, मेंढक और कीडेमकोडे भी मच्छरों को खाकर जिंदा रहते हैं। इसलिए इन्हें पूरी तरह से खत्म नहीं किया जा सकता है।

कैथरीन हिल का कहना है कि पूरी दुनिया में मच्छरों की हजारों प्रजातियां हैं और उनमें से बस कुछ ही ऐसी हैं जो बीमारियों को एक जगह से दूसरी जगह फैलाती हैं। बाकी प्रजातियों से इंसानों को कोई नुकसान नहीं है इसलिए इनके समूचे खात्मे की बात करना गलत है।

English summary

क्या होगा अगर पूरी दुनिया से मच्छरों को खत्म कर दिया जाए ? | Why Eradication Of Mosquitoes Is Not The Best Idea

Mosquitoes, who play a major role in various ecosystems, should not be simply wiped out -- instead their ability to transmit diseases should be suppressed, a team of scientists has said.
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more