शनि देव के इन मंत्रों से बनेंगे बिगड़े काम, लेकिन भूलकर भी न करें ये काम..

Posted By:
Subscribe to Boldsky
Shani Sade Sati or Dhaiyya ASTRO remedies | शनि की ढईया और साढ़े साती को ऐसे करें दूर | Boldsky

शनि देवता को न्‍याय का देवता भी कहा जाता है। शनि देव की नजर आपके हर कार्य पर रहती है। गलती जाने में हुई हो या अनजाने में लेकिन शनि की नजर एक बार आप पर पड़ गई तो दंड तो आपको भोगना ही होगा। आपने देखा होगा कि कष्‍टों और कर्तव्‍यों से बचने के लिए शनि की पूजा लोग डर में करते हैं लेकिन यह पूरा सच नहीं है। शनिदेव कर्तव्यों के आधार पर किसी मनुष्य की सजा तय करते हैं। आइए जानते है किन तरीको और मंत्रों के जाप से शनि देवता को खुश कर सकते हैं।

क्षमा के लिए शनि मंत्र

क्षमा के लिए शनि मंत्र

अगर आप से जाने अनजाने कोई गलती हो गई है। तो आप शनि देव से क्षमा मांग सकते हैं। शनि का हृदय पापियों के लिए कठोर तो अच्छे व्यक्तियों के लिए उदार है। शनि देव से गलती की मांफी मांगने के लिए आप इस मंत्र का जाप कर सकते हैं।

आपराधसहस्त्राणि क्रियन्तेहर्निशं मया। दासोयमिति मां मत्वा क्षमस्व परमेश्वर।। गतं पापं गतं दुःखं गतं दारिद्र्य मेव च आगता: सुख संपत्ति पुण्योहम तव दर्शनात ।।

स्वास्थ्य के लिए शनि मंत्र

स्वास्थ्य के लिए शनि मंत्र

कहतें हैं जब कोई व्यक्ति लंबे समय तक बीमार है और दवाइयों से ठीक नहीं हो पा रहा है तो कहा जाता है कि व्यक्ति का शनि ग्रह भारी है। इसलिए मनुष्य को शनि-ग्रह की शांति और अच्छे स्वास्थ्य के लिए निम्न मंत्रों का जाप करना चाहिए।

ध्वजिनी धामिनी चैव कंकाली कलाहपरिहा। कंकटी कलही चाउथ तुरंगी महिषी अजा। शनैनार्मनि पत्नीनामेतानि संजपन पुमान। दुखानि नाश्येनितम्म सौभगयमेधतेे सुखमं।।

साढ़ेसाती से बचने के शनि मंत्र

साढ़ेसाती से बचने के शनि मंत्र

शनिदेव के साढ़ेसाती के प्रकोप से बचने के लिए इन मंत्रों का उपयोग करना चाहिए। ॐ त्र्यम्बकं यजामहे पुष्टिवर्धनम। उर्वारुक मिव बन्धनान मृत्योर्मुक्षयी मा मृतात।।

ॐ शनिदेवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये।शंयोरभिश्रवन्तु न:। ॐ शं शनैश्चराय नमः।। ॐ नीलांजनसमाभामसं रविपुत्रं यमाग्रजं छायामार्त्तण्डसंभूतं तं नमामि शनैश्चरम।।

पीपल में जलाएं दीया..

पीपल में जलाएं दीया..

शनिवार को नहा धोकर स्‍वच्‍छ सफेद कपड़े पहनें। और पीपल में शाम के समय तेल का दिया जलाए। इससे शनि देव प्रसन्‍न होते हैं।

नमक न खरीदें

नमक न खरीदें

शनिवार को नमक नहीं खरीदना चाहिए। कहा जाता है कि इस नमक खरीदने से ऋण बढ़ता है।

काले चने बनाएं

काले चने बनाएं

शुक्रवार की रात को काले चने भिगो दे और अगले सुबह स्‍नान करके शनिदेव का पूजन करें। इसके बाद काले चने का सरसों के तेल में छौंक लगाकर शनिदेव को भोग लगाएं। इसके बाद गरीबों और भैंस को दान दें दे।

इस दिन लोहा खरीदने बचें

इस दिन लोहा खरीदने बचें

शनिवार के दिन लोहे की कोई भी चीज नहीं खरीदनी चाहिए। कहा जाता है ये खरीदने से घर में दुर्भाग्य आता है। इस दिन लोहे की चीज दान करनी चाहिए। ऐसा करने से घर में धन-संपत्ति आती है और व्यापार भी फलता-फूलता है।

तेल न खरीदें

तेल न खरीदें

इस दिन तेल भी नहीं खरीदना चाहिए। कहा जाता है कि इस दिन तेल खरीदने से घर में बीमारियां आती हैं। अगर आप पर शनि की साढ़े साती है तो शनिवार को तेल का दान करना चाहिए।

स्‍याही न खरीदें

स्‍याही न खरीदें

शनिवार के दिन स्याही नहीं खरीदनी चाहिेए। शनिवार के दिन स्याही से सम्मान नहीं मिलता। इस दिन पढ़ाई से जुड़ी चीजें खरीदनी चाहिए लेकिन स्याही भूलकर भी नहीं खरीदनी चाहिए।

जानवरों को रोटी खिलाएं

जानवरों को रोटी खिलाएं

शनि देव को खुश करने के लिए गाय और कुत्ते को रोटी खिलाएं। चींटी को आंटा और शक्कर खिलाएं, साथ ही गरीबों की को दान दें।

English summary

How To Please Lord Shani Dev

Hindus are under fear of evil from his planet - Saturn. In Vedic astrology, the planetary position at the time of birth determines the future of a person.
Story first published: Saturday, February 3, 2018, 8:00 [IST]