WWE का सच...जानलेवा लगने वाली ये फाइट असली होती है या fake, हो गया खुलासा....

By Salman khan
Subscribe to Boldsky

वैसे तो ये फाइट विदेशों में होती है पर भारत में wwe की दीवानगी का अलग ही आलम है। शायद ही कुछ ऐसे युवा होगें जो इस फाइट को देखना पसंद ना करते है।

लेकिन कभी-कभी आपको इनके खतरनाक मूव्स देखकर आश्चर्य जरूर होता होगा कि ये लोग इंसान हैं या नहीं? अगर हैं तो क्या इनको दर्द नहीं होता है। आपके इन्ही सवालों के जवाब इस आर्टिकल में छिपे हुए हैं।

इस आर्टिकल में wwe की असलियत का पर्दा उठाया जाएगा। आइए जानते हैं क्या है www की हकीकत....

क्या है इस फाइट की हकीकत

क्या है इस फाइट की हकीकत

आपको ये पता भी नहीं होगा की इस फाइट को राइटर्स के द्वारा लिखा जाता है। कब क्या होगा सब पहले से ही तय कर दिया जाता है।

इसलिए रेसलर कोई भी गलती नहीं करते है। इस फाइट में होने वाली फाइट्स के रिजल्ट फिक्स होते है।

कैसे बॉडी बनाते हैं रेसलर

कैसे बॉडी बनाते हैं रेसलर

wwe के पहलवानों को देखकर एक बात जरूर मन में आती होगी की ये लोग ऐसी बॉडी कैसे बनाते हैं। दरअसल उनके ऊपर ऐसे आरोप लगते रहते हैं कि ये लोग इसके लिए ड्रग्स भी लेते हैं।

इसको रोकने के लिए wwe ने वेलनेस पॉलिसी नाम का एक नियम भी लगाया हुआ है। इसके बावजूद ऐसे मामले सामने आते रहते हैं।

क्या रेसलर्स को दर्द होता है

क्या रेसलर्स को दर्द होता है

जब हम ये फाइट देखते हैं तो ऐसा लगता है कि इतनी बुरी तरह से मार खाने पर उनको बहुत तेद दर्द होता होगा।

पर ऐसा नहीं है रेसलर्स को सालों इसी बात की ट्रेनिंग दी जाती है कि वार कहां पर करना हैं। जिससे उनको तकलीफ कम हो।

कैसा होता है रिंग

कैसा होता है रिंग

आपने रिंग तो जरूर देखा होगा इसको बनाने में लकड़ी और स्प्रिंग का इस्तेमाल किया जाता है। ये इसलिए ऐसा बनाया जाता है ताकि रेसलर्स को चोट ना लगे।

उस मैट के नीचे एक माइक भी फिट किया जाता है, जिससे लड़ाई के दौरान रेसलर्स की आवाज साफ सुनाई दे।

जीतने से ज्यादा हारने पर मिलता है पैसा

जीतने से ज्यादा हारने पर मिलता है पैसा

रेसलिंग के दौरान हथियार के तौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले कुर्सी, मेज और भी कई चीजें अधिकतर असली ही होती है।

लेकिन इनको कमजोर बनाया जाता है। इसके लिए भी रेसलर्स को सालों ट्रेनिंग दी जाती है कि इससे कैसे वार करना है।

ब्लड इंजरी

ब्लड इंजरी

ये फाइट स्क्रिप्टेड होने के बावजूद भी कई ऐसे मामले हुए हैं जिनमें फाइटर्स घायल हो जाते है। ये सब बिल्कुल सच होता है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    truth of WWE fights, real or fake

    Seeing wwe wrestlers, one thing must come to mind how these people make such a body. Actually, they are accusing such people that they also take drugs for this.
    भारत का अब तक का सबसे बड़ा राजनीतिक पोल. क्या आपने भाग लिया?
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more