गर्भावस्था के दौरान फूड क्रेविंग से निपटने के 6 आसान तरीके

Subscribe to Boldsky

कई महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान कई प्रकार के खाद्य पदार्थ खाने की इच्छा होती है और यदि आप भी ऐसा महसूस कर रही हैं तो निश्चिंत रहिये - आप अकेली नहीं हैं।

अगर प्रेगनेंसी में लगे मार्निंग सिकनेस, तो आजमाएं ये नुस्‍खे

क्रेविंग क्यों होती हैं?

अध्ययनों से पता चला है कि विश्व में लगभग 84 प्रतिशत महिलायें गर्भावस्था के दौरान फ़ूड क्रेविंग की समस्या से ग्रसित होती हैं, इनमें से कुछ बहुत आश्चर्यजनक होती है! तो ऐसा क्या है जो अचानक एक पैकेट चिप्स के लिए आपको घुटने पर बैठने के लिए मजबूर कर देता है?

खैर, विशेषज्ञ ऐसा मानते हैं कि सामान्यत: फ़ूड क्रेविंग आहार में कमी का संकेत होती है। इसका अर्थ यह अहि कि जब आपके शरीर में किसी विशेष पोषक तत्व की कमी हो जाती है तो यह क्रेविंग के रूप में बाहर आती है। फ़ूड क्रेविंग वास्तव में एक तरीका है जिसके द्वारा शरीर यह बताता है कि कुछ विशेष प्रकार की कमी है।

जानें, गर्भवती महिलाओं को किस ओर करवट कर के सोना चाहिये?

यह कहानी का केवल एक हिस्सा है - कुछ अन्य विशेषज्ञों का विश्वास है कि हार्मोन्स में परिवर्तन होने के कारण फ़ूड क्रेविंग होती हैं। हार्मोन्स जैसे एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन का प्रभाव ब्रेन पर पड़ता है जिसके कारण इस प्रकार की इच्छाएं हो सकती हैं जिन्हें रोका नहीं का सकता।

गर्भावस्था के तीसरे महीने में क्‍या खाना चाहिये?

ऐसा विश्वास है कि हार्मोन्स में होने वाले उतार चढ़ाव के कारण गर्भवती महिलाओं में गंध और स्वाद संबंधी चेतनाएं बढ़ जाती है जो गर्भावस्था के दौरान होने वाली क्रेविंग के लिए एक अन्य कारण है।


फ़ूड क्रेविंग का अर्थ:

फ़ूड क्रेविंग का अर्थ:

रेड मीट खाने की इच्छा - इसको सीधे प्रोटीन की कमी से जोड़ा जा सकता है।
आडू खाने की इच्छा - आपके शरीर में बीटा कैरोटीन की कमी है।
चॉकलेट खाने की इच्छा - आप मैग्नेशियम की कमी से ग्रस्त हैं।
बर्फ़ खाने की इच्छा - अध्ययनों से पता चलता है कि बर्फ़ खाने की इच्छा होने से तातपर्य है कि आप में लोहे की कमी है।

स्वयं का ध्यान विचलित करें:

स्वयं का ध्यान विचलित करें:

यदि आप सोचते हैं किसी विशेष प्रकार की क्रेविंग से आपको या आपके होने वाले बच्चे को नुकसान हो सकता है तो उससे अपना ध्यान हटा दें (उदाहरण के लिए शराब, सिगरेट आदि)।

जंक फूड से रहें दूर

जंक फूड से रहें दूर

जहाँ कुछ मम्मियों को पोषक खाद्य पदार्थ जैसे स्ट्रॉबेरीज़, चीज़, फिश, दूध और ऑरेंज खाने की इच्छा होती है वहीँ कुछ को चिप्स, मीट और मीठे पेय आदि खाने की इच्छा होती है। यहाँ तरीका यह है कि अन्हेल्दी खाद्य पदार्थों को हेल्दी फूड्स से बदला जाए।

क्रेविंग का कारण जानने की कोशिश करें

क्रेविंग का कारण जानने की कोशिश करें

एक अन्य तरीका यह है कि अपनी क्रेविंग के कारण जानने का प्रयत्न करें और इसके पैटर्न जानने का प्रयत्न करें - क्या जब आपकी आपके पति के साथ लड़ाई होती है तब आपका चॉकलेट खाने का मन करता है? याद रखें - चॉकलेट खाने से यह मामला हल तो नहीं होता।

खाली ना बैठें

खाली ना बैठें

गर्भावस्था के दौरान शारीरिक रूप से सक्रिय रहना बहुत आवश्यक है। अन्हेल्दी क्रेविंग से बचने के लिए वॉक पर जाएँ और खुली हवा में सांस लें।

 एसेंशियल फैटी एसिड की आवश्यकता को पूरा करें -

एसेंशियल फैटी एसिड की आवश्यकता को पूरा करें -

खोज से यह पता चला है कि गर्भावस्था के दौरान फ्लेक्स ऑइल या फिश ऑइल सप्लीमेंट्स लेने से फ़ूड क्रेविंग को कम करने में सहायता मिलती है।

Story first published: Tuesday, March 21, 2017, 17:23 [IST]
English summary

6 Simple Ways To Deal With Food Cravings During Pregnancy

most pregnant women tend to experience food cravings during pregnancy, and if you’re going through it, relax- you’re not alone.
Please Wait while comments are loading...