अपनी होने वाली सास से पहले ही कर लें इन मुद्दों पर चर्चा

By arunima kumari
Subscribe to Boldsky

अगर आप शादी के बाद अपने सपनों को लेकर चिंतित हैं, तो चाहे लव मैरेज हो या अरेंज, शादी से पहले कुछ चीज़ें करने की ज़रूरत है। सबसे पहले आप स्पष्ट रूप से ये जान लें कि आपकी सास आपसे क्या चाहती है। यह सच है कि शादी सिर्फ दो लोगों के बीच नहीं बल्कि दो परिवारों के बीच होती है और सास के साथ अपने रिश्ते को खुशहाल बनाकर रखना किसी भी बहू के लिये बड़ा काम है।

शादी से पहले अक्सर दूल्हा और दुल्हन आपस में बातचीत करते हैं और विचार शेयर करते हैं। वास्तव में, कोई भी यह कोशिश नहीं करता कि दुल्हन भविष्य में अपनी होने वाली सास के साथ सहज हो सके। ऐसी कुछ चीज़े हैं, जिसे लड़कियां अपनी होने वाली सास को बताना या शेयर करना चाहती हैं, लेकिन ऐसा कभी हो नहीं पाता है।

अपने भविष्य की योजना और इच्छाओं को अपनी होने वाली सास के सामने रखने या व्यक्त करने से आप-दोनों का रिश्ता एक स्तर ऊपर जा सकता है और आप-दोनों के बीच तालमेल अच्छी होगी। इससे आपके होनेवाली सास को यह पता चलेगा कि आप खुद के लिये क्या करना चाहती हैं और आपके सपने क्या हैं। आप आनेवाली ज़िंदगी में जो चाहती हैं उसे अपनी सास से स्पष्ट रूप से कह दें। ऐसा करने से शादी के बाद कोई दिक्कत नहीं आती। आप जो चाहती हैं, वो कर सकती हैं क्योंकि उसके बारे में आपने पहले बात कर ली थी।

हमने यहां एक लिस्ट बनाने की कोशिश की है, जिससे यह समझना आसान होगा कि आपको अपनी होने वाली सास से किन बातों पर चर्चा करनी चाहिए। इस लिस्ट में वो खास प्वाइंट्स हैं, जिसपर शादी से पहले अपनी सास से बातचीत करना ज़रूरी है, ताकि बाद में आपको अपनी इच्छाओं को दबाने की ज़रूरत ना पड़े।

तो चलिए जानें वो कौन सी बाते हैं जिन पर शादी से पहले अपनी सास से चर्चा करने की ज़रूरत है।

things-you-need-clear-with-your-would-be-mother-in-law

1. अपनी जीवनशैली के बारे में बताएं

ससुरालवालों को अपनी जीवनशैली के बारे में बताएं यानि कि अपनी होने वाली सास को अपने रोज़मर्रा के काम और आदतों के बारे में बताएं। ससुरालवालों के साथ अच्छे संबंध बनाने के लिए ज़रूरी है कि दोनों तरफ से एक-दूसरे को समझने की कोशिश हो। आपकी लाइफस्टाइल और शादी के बाद जिंदगी को लेकर आपकी उम्मीदों के बारे में जानकर,आपके ससुरालवालों को ये समझने में आसानी होगी कि आप किस तरह की इंसान हैं और आपकी जीवनशैली उनके लिये सहज है या नहीं। ऐसा करना रिश्ते मज़बूत करने में हमेशा बेहतर साबित हुआ है।

आप अपनी सास से इस बारे में चर्चा कर सकती हैं कि ऑफिस से आने के बाद आप क्या कर सकती हैं। आप कुकिंग को लेकर अपनी दिलचस्पी बताएं लेकिन ये स्पष्ट कर दें कि आपका काम पहले आता है और ये भी बताएं कि आप घरेलू कार्यों में कैसे मदद कर सकती हैं।

बातचीत के दौरान फ्रैंक और ईमानदार रहें क्योंकि इस चर्चा से आपको यह समझने में आसानी होगी कि आपकी होने वाली सास आपसे क्या उम्मीद रखती है। शादी से पहले होने वाली सास से बातचीत आप दोनों के बीच पारस्परिक समझ बढ़ाने में मदद करेगी।

2. आपकी स्वतंत्रता

अपनी शादी के बाद आपकी जो इच्छा है उसके बारे में अपने ससुराल वालों के साथ चर्चा करें। विवाह के बाद अपनी आज़ादी और अपनी इच्छाओं के बारे में बात करें। उन्हें बताएं कि आप काम करना चाहती हैं या गृहणी बनना चाहती हैं।

अगर आपने कोई कर्ज़ लिया है तो उसके बारे में भी बताएं क्योंकि भविष्य में आपके ससुरालवालों का इस बारे में पता चलना रिश्तों में खटास ला सकता है। और अगर इस बारे में पहले से उन्हें बता देती हैं तो हो सकता है कि वो कर्ज़ चुकाने में आपकी मदद करें। ससुरालवालों की भी वित्तीय स्थिरता के बारे में खुल कर बात करें। यह हमेशा अच्छा होता है कि आप इन चीजों के बारे में खुल कर बात करें। यह शादी के बाद परेशानी को आसान बनाता है। आपको पता चलेगा कि आपके ससुराल वालों की क्या मांग है और उन्हें भी पता चल जाएगा कि शादी के बाद आप किस तरह की आज़ादी और जीवनशैली की उम्मीद कर रही हैं।

3. फैमिली प्लानिंग

अपने ससुराल वालों के साथ विशेष रूप से अपनी सास के साथ फैमिली प्लानिंग को लेकर चर्चा करें। भले ही डिटेल में नहीं लेकिन शादी के बाद परिवार बढ़ाने को लेकर अपने विचार के बारे में उन्हें बताएं। उनसे इस बारे में बात करें कि आप कितने समय बाद बच्चे की योजना करेंगी और अगर आप बच्चा गोद लेना चाहती हैं तो उसके बारे में भी उनसे बात करें और उनकी राय जानें।

इस तरह की चर्चा विवाह के बाद आगे की योजना के लिए बेहतर होती है। हां, इस तरह की बातचीत के दौरान विनम्र रहें। कोशिश करें कि सिर्फ अपनी बात उनके सामने रखने के बजाए उनकी बात भी सुनें और उन्हें समझने की कोशिश करें।

4. ज़िम्मेदारियां

वास्तव में, यह ज़रूरी है कि आप उन घरेलू कार्यों के बारे में चर्चा करें, जिन्हें आप कर सकती हैं और परिवार की मदद में अपना योगदान दे सकती हैं। विवाह कई जिम्मेदारियां लाता है और इसमें घर के कार्यों को संभालने के साथ ही घर के हर सदस्य की ज़रूरतों का ध्यान रखना भी शामिल है। इसलिए ज़रूरी है कि आप अपने होने वाली सास को इस बारे में बताएं कि आप घर का कौन सा काम कर सकती हैं और कौन सा नहीं, इसके अलावा घर के कामों के लिए मेड रखने की ज़रूरत है या नहीं। इस तरह की बातचीत मायने रखती है और ये आपको अपनी ज़िम्मेदारियां सही से निभाने में भी मददगार है। अपनी होने वाली सास को प्रभावित करने के लिये कुछ ऐसा ना करें जो शादी के बाद आप नहीं कर पायें और आपको बाद में पछतावा हो।

5. आपकी धार्मिक मान्यताएं

अपनी धार्मिक मान्यताओं के बारे में बातचीत करें। आप धर्म को जिस तरह से महसूस और फॉलो करती हैं उसके बारे में खुल कर बात करें और शेयर करें। आपको अपनी धार्मिक मान्यताओं और अपने ससुराल वालों की धार्मिक मान्यताओं के बारे में स्पष्टता होनी चाहिए।

इन कुछ खास मुद्दों पर शादी से पहले अपने ससुराल वालों से बातचीत करें। आपकी सास को आपके जीवन से संबंधित कारकों और आप इसका नेतृत्व कैसे करती हैं, इसके बारे में पता होना चाहिए और आपको भी ससुरालवालों की ये बातें पता होनी चाहिए। इससे आपके और ससुरालवालों के बीच संबंध बेहतर होंगे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    Things You Need To Clear With Your Would-Be Mother-In-Law

    Having a chance to talk and express the views and wishes about yourself with your future mother in law takes you another level higher of bonding with her.
    Story first published: Tuesday, May 8, 2018, 15:30 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more