For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

क्या है सिस्टीन हेयर ट्रीटमेंट? जानें इसके फायदे और नुकसान

|

घने, मुलायम और मजबूत बाल किसे नहीं पसंद होते है, लेकिन हर किसी के बाल घने और मुलायम नहीं होते है। महिलाएं घने और मुलायम बालों के लिए क्या कुछ नहीं करती है लेकिन इसके बाद भी बाल ड्राई रहते है। बालों को सिल्की और चमकदार बनाने के सिस्टीन ट्रीटमेंट ले सकते हैं। इन दिनों सिस्टीन ट्रीटमेंट काफी पॉपुलर है। इस ट्रीटमेंट में फ्रिजी और डैमेज बालों को प्रोटीन दिया जाता है। नेचुरल प्रोटीन देकर बालों को स्ट्रेट किया जाता है। सिस्टीन ट्रीटमेंट में बाल में चमक आती है साथ ही बाल मुलायम हो जाते है। चलिए जानते हैं सिस्टीन ट्रीटमेंट के फायदे और खर्च के बारे में।

सिस्टीन ट्रीटमेंट

सिस्टीन ट्रीटमेंट

इनदिनों सिस्टीन ट्रीटमेंट भी काफी पॉपुलर है, लेकिन सिस्टीन ट्रीटमेंट के बारे में बहुत ही कम लोगों को पता है। सिस्टीन ट्रीटमेंट कुछ सालों में पॉपुलर हुआ है। इस ट्रीटमेंट में बहुत ही कम केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है जिससे बालों को नुकसान नहीं होता है। सिस्टीन ट्रीटमेंट को तीन स्टेप में किया जाता है। इस ट्रीटमेंट की शुरुआत में बालों को वॉश किया जाता है। इसके बाद बालों चमक और शाइन के लिए क्रीम का इस्तेमाल किया जाता है। इसके बाद हेयर वॉश किया जाता है। इसके बाद बालों में प्रोटीन क्रीम का इस्तेमाल किया जाता है। इसके बाद बालों को स्ट्रेट किया जाता है। जिसके बाद बाल 3 से 4 महीने तक स्ट्रेट रहते हैं।

शाइनी और घने बालों के लिए घर पर बनाएं ग्रीन टी हर्बल शैंपू, जानें रेसिपी

 सिस्टीन ट्रीटमेंट का खर्च

सिस्टीन ट्रीटमेंट का खर्च

सिस्टीन ट्रीटमेंट में बालों को नेचुरल अमीनो और प्रोटीन दिया जाता है। नेचुरल प्रोटीन और अमीनो से बालों में चमक आती है। इस ट्रीटमेंट में बहुत ही कम केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है। इस ट्रीटमेंट में डैमेज बालों को प्रोटीन देकर बालों को स्मूथ और शाइनी बनाया जाता है। यह ट्रीटमेंट भी केराटिन ट्रीटमेंट की तरह होता है लेकिन इस ट्रीटमेंट बेहद कम केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है। इस ट्रीटमेंट में 4 हजार से लेकर 10 हजार तक का खर्च आता है।

गीले बालों में कंघी करना सही है या गलत, जानें क्या है सच

सिस्टीन ट्रीटमेंट के फायदे

सिस्टीन ट्रीटमेंट के फायदे

इस ट्रीटमेंट के बाद बालों को मैनेज करना आसान होता है। सिस्टीन ट्रीटमेंट लेने के बाद बालों में शाइन आती है। ट्रीटमेंट लेने के बाद बाल स्ट्रेट हो जिसे आसानी से कैरी किया जा सकता है। सिस्टीन ट्रीटमेंट लेने के बाद बाल का टूटना भी कम होता जाता है।

ये लक्षण बताते है कि आपकी स्कैल्प ऑयली है या नहीं

सिस्टीन ट्रीटमेंट के नुकसान

सिस्टीन ट्रीटमेंट के नुकसान

-केराटिन प्रोटीन ट्रीटमेंट के बाद स्पेशल शैंपू, कंडिशनर का यूज करना चाहिए। किसी भी हेयर ट्रीटमेंट के बाद उसी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना चाहिए।

-ट्रीटमेंट लेने के बाद तेज धूप और प्रदुषण की वजह से बालों से प्रोटीन कम हो जाता है जिसके बाद बाल पहले जैसे ड्राई और फ्रिजी हो जाते है।

-सिस्टीन ट्रीटमेंट के बाद ऑयली हो जाते है।

-सिस्टीन ट्रीटमेंट बालों में केवल 3 से 4 महीने तक ही रहता है।

सफेद बालों का जड़ से हटाने के लिए इस्तेमाल करें कलौंजी हेयर मास्क, जानें रेसिपी

English summary

What is Cysteine Hair Treatment: All You Need To Know About Cysteine Hair Treatment In Hindi

What is Cysteine Hair Treatment: All You Need To Know About Cysteine Hair Treatment Process In Hindi. Read On.