इन 10 घरेलू उपायों से तुरंत मिलेगा लकवा से छुटकारा, अपनाइए

By: Salman khan
Subscribe to Boldsky
Paralysis, लकवा | Home Remedies | लकवा होने पर करें ये उपाय | Boldsky

आपने देखा होगा कि आपके घर के आसपास कई लोग ऐसे होगे जो जिनके हाथ पैर टेढ़े हो जाते है और उनको कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। लकवा को आयुर्वेद में पक्षाघात रोग भी कहते हैं। इस रोग में रोगी के एक तरफ के सभी अंग काम करना बंद कर देते हैं जैसे बांए पैर या बाएं हाथ का कार्य न कर पाना।

थायराइड है आपके लिए खतरनाक, ऐसे करें बचाव और जाने इसके कारण

साथ ही इन अंगों की दिमाग तक चेतना पहुंचाना भी निष्क्रिय हो जाता है। और इस रोग की वजह से अंगों का टेढापन शरीर में गर्मी की कमीं और कुछ याद रखने की क्रिया भी नष्ट हो जाती है। लकवा रोग में इंसान असहाय सा हो जाता है। और दूसरों पर हर काम के लिए निर्भर होना पड़ता है। आयुर्वेद में लकवा के प्रभाव को कम करने के अनेक उपाय दिए गए हैं। लकवा एक बहुत ही घातक रोग। इस रोग के होने से रोगी के शरीर के कुछ अंग या फिर पूरा शरीर काम करना बंद कर देता है।

गर्म दूध पीने के ये 10 फायदे आपके शरीर को रखेगें हेल्दी

आइए आपको बताते है कि आपको इससे बचने के लिए क्या करना चाहिए। इसके लिए आपको कहीं बाहर जाने की जरूरत नहीं है बल्कि आपको घरेलू उपाय करके भी आराम मिल सकता है। तो आइए जानके है कि कौन से है वो घरेलू उपाय....

दूध और छुहारा

दूध और छुहारा

आपको बता दें कि दूध आपके लिए तो फायदे मंद होता ही है पर छुहारा भी आपकी सेहत के लिए बहुत ही अच्छा होता है। कुछ दिनों तो रोज छुहारों को दूध में भिगोकर रोगी को देते रहने से लकवा ठीक होने लगता है। आपको 6 दिनों तक इसका सेवन करना है। इन दोनों का मिश्रण रोगी के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद है।

उड़द दाल ौर सोंठ का पानी

उड़द दाल ौर सोंठ का पानी

अगर आपको लकवा की बीमारी है और आप घरेलू उपचार करना चाहते है तो आपको इसके दूसरी असरदार दवाओं के अलावा सौंठ और उड़द को पानी में मिलाकर हल्की आंच में गरम करके रोगी को रोज पिलाने से लकवा ठीक हो जाता है। ये आसान घरेलू उपाय है।

इन रसों का करें सेवनट

इन रसों का करें सेवनट

अगर आपको रोगी को जल्द से जल्द ठीक करना है तो आपको फलों के रस का सेवन भी करना चाहिए। इसके लिए आपको नाशपाती, सेब और अंगूर का रस बराबर मात्रा में एक ग्लिास में मिला लें। और रोगी को देते रहें। कुछ समय तक यह उपाय नित्य करना है तभी फायदा मिलेगा। इसको हर रोज पिलाएं और रोगी को आराम मिल जाएगा।

काली मिर्च और घी का लेप

काली मिर्च और घी का लेप

आपको इसके लिए कुछ आयुर्वेदिक चीजों का भी सेवन करना चाहिए। आपको इसके लिए एक लेप तैयार करना है। इसको तैयार करने के लिए 1 चम्मच काली मिर्च को पीसकर उसे 3 चम्मच देशी घी में मिलाकर लेप बना लें और लकवाग्रसित अंगों पर इसकी मालिश करें। रोजाना ऐसा करने से रोगी को जल्दी ही फायदा मिलेगा और वो ठीक हो जाएगा।

करेला है फायदेमंद

करेला है फायदेमंद

अगर आपको करेला नहीं पसंद है तो खाना शुरु कर दीजिए क्योंकि करेला बहुत फायदेमंद होता है। लकवे के लिए आपको करेले की सब्जी या करेले का रस को रोड खाने अथवा पीने से लकवा से प्रभावित अंगों में सुधार होने लगता है। ध्यान रहे कि ये आपको रोज करना है। इससे आपको जल्द ही आराम मिल जाएगा।

प्याज खाते रहे

प्याज खाते रहे

अगर आपको खाना खाने के समय प्याज खाने का शौक है तो ये बहुत ही अच्छी बात है। पर अगर आप नहीं खाते है तो खाना शुरु कर देना चाहिए। अगर लकवे की बीमारी को ठीक करना है तो आपको प्याज खाते रहने से और प्याज का रस का सेवन करते रहने से लकवा रोगी ठीक हो जाता है।

लहसुन और मक्खन को मिला लें

लहसुन और मक्खन को मिला लें

आपको लकवे से आराम पाने के लिए 6 कली लहसुन को पीसकर उसे 1 चम्मच मक्खन में मिला लें और रोज इसका सेवन करें। इसका रोजाना कुछ समय तक सेवन करने से आपका लकवा ठीक हो जाएगा।

तुलसी और दही का बनाएं मिश्रण

तुलसी और दही का बनाएं मिश्रण

जैसा की आप सभी लोग जानते है कि तुलसी कई चीजों में इस्तेमाल की जाती है और इससे कई रोग ठीक हो जाते है। अगर आपको लकवा की समस्या है तो आपको इसके लिए तुलसी के पत्ते, दही और सेंधा नमक को अच्छे से मिलाकर उसका लेप करने से लकावा ठीक हो जाता है। ये उपाय लंबे समय तक करना होगा।

गरम पानी और तुलसी

गरम पानी और तुलसी

गरम पानी में तुलसी के पत्तों को उबालें और उसका भाप लकवा ग्रस्ति अंगों को देते रहने से लकवा ठीक होने लगता है।

तेल का करें प्रयोग

तेल का करें प्रयोग

आपको एक तेल का प्रयोग करना है और उसके लकवाग्रस्त अंगो में लगाना है। इसको तैयार करने के लिए आपको आधा लीटर सरसों के तेल में 50 ग्राम लहसुन डालकर लोहे की कड़ाही में पका लें। जब पानी जल जाए उसे ठंडा होने दें फिर इस तेल को छानकर किसी डिब्बे में डाल लें। इस तेल को आप रोजाना उसी अंग पर मलें जल्द ही रोगी को आराम मिल जाएगा।

English summary

Top 10 Home Remedies for Paralysis

Paralysis is also called paralysis disease in Ayurveda. In this disease, all the parts of one side of the patient stop working, such as not having the left leg or left hand work. At the same time, consciousness is also inactivated to reach the consciousness of these organs.
Story first published: Tuesday, October 24, 2017, 12:00 [IST]
Please Wait while comments are loading...