For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

इरेक्‍टाइल डिस्‍फंक्‍शन को दूर करता है ये देसी नुस्‍खा, यौन संक्रामक रोगों को भी बचाएं

|

शहद और लहुसन एक ऐसा नुस्खा है। जो, कई हेल्थ प्रॉब्लम्स का घरेलू इलाज है। इसे, स्किन से जुड़ी कई समस्याओं से राहत पाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। तो वहीं ये साधारण सा नुस्‍खा सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने का भी एक अच्छा तरीका है। जी हां, साधारण लेकिन बार-बार प्रयोग किए जाने वाले इस कॉम्बो की मदद आप अपनी सेक्सुअल हेल्थ सुधारने के लिए भी कर सकते हैं।

क्‍या है शहद और लहुसन में

क्‍या है शहद और लहुसन में

दरअसल, लहुसन एक एप्रोडिजिएक या कामोत्तेजना बढ़ाने वाला फूड है। इसके, सेवन से इम्पोटेंसी और प्रीमैच्योर इजैक्युलेशन जैसे सेक्सुअल इश्यूज़ में मदद करता है। जबकि, शहद में बोरोन नामक एक मिनरल तत्व होता है। जो, मेल सेक्स हार्मोन्स यानि टेस्टोस्टेरोन का उत्पादन बढ़ाते हैं।

ऐसे करें लहुसन और शहद का सेवन

ऐसे करें लहुसन और शहद का सेवन

लहुसन को तवे पर अच्‍छे से भून लें। इसके साथ एक चम्मच (शहद) के साथ खाएं। इसे, रोज़ाना खाएं।

Most Read : इन मामूली कारणों से कम होता है स्‍पर्म काउंट, जानें कैसे बढ़ाए

ऐसे भी कर सकते है इसका सेवन

ऐसे भी कर सकते है इसका सेवन

सोने से जवाकुसुम या हिबिस्कस के फूलों के अर्क में शहद और भूने हुए लहुसन को मिलाकर इसका सेवन कर लें। इरेक्टाइल डिस्फंक्शन या प्रीमैच्योर इजैक्युलेशन जैसी समस्याओं से राहत मिलती है। इसे, एक बहुत पुराना नुस्खा माना जाता है। जिसे, पुरुषों की सेक्सुअल प्रॉब्लम्स का एक सेफ और असरदार नुस्खा माना जाता रहा है।पहले इस नुस्खे का सेवन सही माना जाता है।

दरअसल, ये तीनों चीज़ें शरीर में रक्त के संचार या ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने का काम करते हैं। जिससे, जेनाइटल एरिया में ब्लड सर्कुलेशन भी बेहतर होता है। अदरक और शहद में ऐसे अमिनो एसिड्स भी होते हैं जो सेरोटोनिन का स्तर बढ़ाते हैं।

 यौन संक्रामक रोग से रखें दूर

यौन संक्रामक रोग से रखें दूर

कच्‍चे लहुसन में एंटीफंगल और एंटीबैक्‍टीर‍ियल गुण मौजूद होता है ये कैंडीडा जैसे यीस्‍ट को जननांगों में पनपने से रोकते हें। इसके सेवन से आपके प्राइवेट पार्ट पर फंगस और यीस्‍ट की समस्‍या नहीं होगी।

English summary

Garlic and Honey for Erectile Dysfunction

Do garlic and honey really work for reducing instances of erectile dysfunction?