पितृपक्ष में कौए के इन संकेतों से टल जाती है विपत्तियां, जानिये कैसे

Subscribe to Boldsky
Pitru Paksha: Crow Significance: पितृपक्ष में कौए के इन संकेतों से टल जाती है विपत्तियां | Boldsky

भाद्रपक्ष माह की पूर्णिमा से पितृपक्ष की शुरुआत हो जाती है। यह समय पितरों की मोक्ष प्राप्ति का होता है। भाद्रपद पूर्णिमा से लेकर अश्विन अमावस्या तक लोग अपने पितरों की आत्मा की शांति के लिए श्राद्धकर्म करते हैं। पितृपक्ष पूरे सोलाह दिनों तक चलता है। आपको बता दें इस बार पितृपक्ष 24 सितंबर से 8 अक्टूबर तक रहेगा।

कहते हैं पितृपक्ष के दौरान हमारे सभी पूर्वज कौए का रूप धारण करके पृथ्वी पर आते हैं। इस बात का वर्णन विष्णु पुराण में भी किया गया है इसलिए पूरे सोलह दिनों तक कौए को भोजन कराया जाता है ताकि आपने पितरों को तृप्त कर उनका आशीर्वाद पाया जा सके। आज अपने इस लेख में हम आपको बताएंगे कि किस तरह पितृपक्ष में कौए हमें कई ऐसे संकेत देते हैं जो हमारे लिए बेहद शुभ होते हैं। तो आइए जानते हैं उन संकेतों के बारे में।

1. सुअर की पीठ पर बैठा कौआ

1. सुअर की पीठ पर बैठा कौआ

यदि पितृपक्ष के दौरान आपको सुअर की पीठ पर कौआ बैठा दिख जाए तो समझ लीजिये माता लक्ष्मी आपसे बेहद प्रसन्न है और जल्द ही आप पर धन की वर्षा होने वाली है।

Most Read:क्यों दूसरे ग्रहों की तरह तेज़ नहीं चलते शनिदेव

2. कौए की चोंच में फूल-पत्ती

2. कौए की चोंच में फूल-पत्ती

अगर आपको घर के आस पास कौआ दिखायी दे और उसकी चोंच में फूल और कोई पत्ती हो तो समझ लीजिये आपकी कोई मनोकामना जल्द ही पूरी होने वाली है।

3. गाय की पीठ पर कौआ

3. गाय की पीठ पर कौआ

अगर आपको किसी गाय की पीठ पर कौआ बैठा दिखाई दे और वह गाय की पीठ पर अपनी चोंच रगड़ रहा हो तो आप पर माता अन्नपूर्णा की कृपा बनी रहेगी और आपको अच्छे भोजन की प्राप्ति होगी।

4. हरे-भरे वृक्ष पर बैठा कौआ

4. हरे-भरे वृक्ष पर बैठा कौआ

हरे भरे वृक्ष या फिर घर की छत पर बैठा कौआ इस बात की और इशारा करता है कि आपको अचानक कहीं से वित्तीय लाभ मिलने वाला है।

Most Read:सूर्यदेव को जल चढ़ाते हुए, इन गलतियों को दोहराने से बचें वरना हो जाएगा अनर्थ

5. अनाज के ढ़ेर पर बैठा कौआ

5. अनाज के ढ़ेर पर बैठा कौआ

अनाज के ढेर पर बैठा कौआ भी धन लाभ का संकेत देता है।

6. चोंच में सूखा तिनका

6. चोंच में सूखा तिनका

कौआ अगर चोंच में सूखा तिनका लाता हुआ दिखाई पड़ जाए तो समझ लीजिये कि जल्द ही आपकी आर्थिक समस्या दूर होने वाली है और आपके रुके हुए कार्य बिना बाधा के पूर्ण होने वाले हैं।

7. जब बायीं तरफ से भोजन ग्रहण करे कौआ

7. जब बायीं तरफ से भोजन ग्रहण करे कौआ

यदि कौआ बायीं तरफ से आकर भोजन ग्रहण करता है तो आपकी यात्रा और उससे जुड़ा कार्य बिना किसी बाधा के संपन्न होता है।

Most Read:अर्जुन नहीं कोई और था द्रौपदी का पहला प्‍यार उसी से करना चाहती थी शादी, जानिए कौन था ये महारथी?

इन बातों का रखें ध्यान

इन बातों का रखें ध्यान

1. पितृपक्ष में पिंडदान ज़रूर करना चाहिए ताकि भगवान के साथ साथ पितरों का भी आशीर्वाद प्राप्त हो सके।

2. पितृपक्ष में अपने पितरों का पसंदीदा भोजन बनाना ही शुभ माना जाता है और इस भोजन को कौओं को खिलाना चाहिए क्योंकि इन्हें ही पितरों का प्रतिनिधि माना जाता है।

3. इस दौरान मांस मछली, लहसून, प्याज़ आदि का सेवन नहीं करना चाहिए।

4. पितृपक्ष में गीता का पाठ करना शुभ माना जाता है।

5. इस अवधि में झूठ, ईर्ष्या, अपशब्द बोलना, क्रोध आदि जैसी चीज़ों से व्यक्ति को बचना चाहिए। इससे पितरों के साथ साथ देवता भी रुष्ट होते हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    pitru paksha crow signs according to the shastra

    According to the latest belief the crows are the only birds which can communicate and act as a messenger to the pitru loka. And Today we will discuss their signs of good or bad luck from their move.
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more