वजन कम करने की 5 आयुर्वेदिक औषधियाँ

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

बदलती हुई जीवन शैली, शारीरिक श्रम ना करना और संतुलित आहार ना लेने के कारण सही वजन बरकरार रखना मुश्किल होता है। परिणामस्वरूप मोटापा बढ़ जाता है। इस मोटापे को नियंत्रित करने के लिए पुराने जमाने से चली आ रही आयुर्वेदिक औषधियाँ कारगर हैं।

READ: 15 दिनों में कैसे वजन कम करता है जीरे का पानी

“आयुर्वेद” शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है, आयु और वेद। “आयु” का मतलब है “ज़िंदगी” और “वेद” का मतलब है “ज्ञान”। आयुर्वेद में युगों से चलते आ रहे कई रहस्य समाये हुये हैं, जिनमें पाचन को स्वस्थ रखने, जहरीले पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने और सम्पूर्ण जीवन जीने की बातें बताई हुई हैं।

आयुर्वेद के अनुसार, आपके दोषों में असंतुलन होने से वजन बढ़ता है और कई अन्य चीजें भी प्रभावित होती हैं। ये तीन दोष हैं वात, पित्त और कफ।

READ: तोंद कम हो जाएगी अगर सोने से पहले पियेंगे ये पेय पदार्थ

आयुर्वेद के अनुसार मनुष्य का शरीर इनमें से किसी एक दोष से बना है। इसलिए, आपके दोष के अनुसार आपको डाइट लेनी चाहिए। वजन कम करने का जो अगला तरीका है वो है आयुर्वेदिक औषधियों का इस्तेमाल करना, जिनसे वजन आसानी से कम किया जा सकता है। हम आपको बता रहे हैं वजन कम करने के लिए 5 बेहतरीन आयुर्वेदिक औषधियाँ। 

 त्रिफला

त्रिफला

त्रिफला वजन कम करने की एक विशेष औषधि है जिसे हरीतकी, बिभिताकी और अमलाताकी को मिलाकर बनाई जाती है। धीरे-धीरे वजन कम करने में भी यह उपयोगी है। त्रिफला का रोजाना सेवन करने से आपकी पाचन क्रिया सुधरती है और शरीर को खाने से ज्यादा पोषण मिलता है इसलिए आपको बार-बार भूख महसूस नहीं होती है।

 गुग्गल

गुग्गल

आयुर्वेद के अनुसार, आपके कफ में असंतुलन होने से वजन बढ़ता है। गुग्गल आंत से कोलेस्ट्रॉल और फैट कम करने में मदद करता है। यह मैटाबोलिज़्म को बढ़ाता है जिससे वजन नहीं बढ़ता है। गुग्गल के सेवन से लिवर भी सही काम करता है और फैट भी सही मैनेज रहता है, इस प्रकार यह वजन कम करता है।

इस्तेमाल

गुग्गल को रोजाना गर्म पानी के साथ लेने से पाचन ठीक होता है।

एलोवेरा

एलोवेरा

यह जहरीले तत्वों को निकालता है, मैटाबोलिज़्म को बढ़ाता है जिससे पाचन क्रिया ठीक होती है और वजन कम करने में मदद मिलती है।

इस्तेमाल

ग्वारपाठे के रस को नींबू के रस और शहद में मिला लें। वजन कम करने के लिए इस मिश्रण का रोजाना सेवन करें।

करी पत्ता

करी पत्ता

करी पत्ता फैट बर्न करने में मददगार है। आयुर्वेद में इस बारे में बताया गया है। वजन कम करने के साथ ही करी पत्ता आपके शुगर लेवल को भी नियंत्रित करता है और इसमें एंटी-इन्फ़्लामेट्री गुण भी होते हैं। ये छोटी आंत और पेट के कार्यों को भी सुचारु करते हैं।

इस्तेमाल

करी पत्ते का इस्तेमाल दाल और सब्जियों में करें। आप इन्हें उबालकर उस गर्म पानी भी पी सकते हैं या पत्तियों को भी चबा सकते हैं।

मेथी

मेथी

मेथी में फाइबर की अधिकता होती है और यह लिवर के फैट को बर्न करने में मदद करती है। इसमें कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट बिलकुल कम होता है इस प्रकार यह वजन कम करने की एक शानदार औषधि है।

इस्तेमाल

एक चम्मच मीठे के दाने रात को भिगो दें। इसे गुनगुने पानी में मिला लें और सुबह खाली पेट इसका सेवन करने। आप मेथी के रोस्टेड बीज भी ले सकते हैं और इसे दही या सलाद में भी डाल सकते हैं।

English summary

five Best Ayurvedic Remedies For Weight Loss

Ayurvedic remedies are the best for weight loss. Read to know which are the remedies to lose weight.
Please Wait while comments are loading...