काली चाय पीने के ये 18 फायदे... पिएंगे तो खुद जान जाएंगे

Subscribe to Boldsky
Black Tea: Health Benefits | काली चाय के फायदे | Boldsky

चाय महज नींद भगाने या ताजगी लाने के लिए ही नहीं है बल्कि अगर चाय को सही तरीके से पिया जाए तो उसके कई हेल्थ बेनिफिट्स भी हैं। चाय को बगैर दूध मिलाए (ब्लैक टी) पीने पर उसमें मौजूद फायटोकेमिकल्स, एंटीऑक्सीडेंट्स, फ्लोराइड्स, टेनिन्स जैसे तत्व हेल्थ के लिए फायदेमंद होते हैं।

कोशिश करें कि इसमें शक्कर न मिलाएं या कम मिलाएं। यह हृदय की बीमारी, दस्त, पाचन समस्याओं, उच्च रक्तचाप, टाइप 2 मधुमेह और अस्थमा बीमारियों से लड़ने में भी मदद करती है। चलिए जानते हैं इसके फायदे।

1. हृदय के लिए फायदेमंद

1. हृदय के लिए फायदेमंद

जी हाँ ब्लैक टी आपके दिल के लिए बेहद फायदेमंद है। रोजाना एक कप ब्लैक टी पीना दिल की सेहत को बनाए रखने में आपकी मदद करेगा। इसमें मौजूद फ्लेवेनॉयड्स एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। इसके अलावा ब्लैक टी का प्रयोग हृदय की धमनियों को स्वस्थ रखने में मदद करती है और रक्त के जमने की प्रक्रिया को भी कम करने में सहायक है। एक ताजा शोध में यह बात सामने आया है कि ब्लैक टी में प्रचुरता से पाया जाने वाला एक प्रकार का फलेवनॉयड, क्व र्सटीन, धमनियों को ऑक्सीकरण से होने वाले नुकसान से बचाता है। साथ ही यह हृदयवाहिका से संबंधित बीमारियों की संभावना को भी कम करता है।

2. ओवेरियन कैंसर से बचाये

2. ओवेरियन कैंसर से बचाये

एक शोध में पता चला है कि ब्लैक टी शरीर में कैंसर कोशि‍काओं को खत्म करने में मदद करता है, खास कर ओवेरियन कैंसर। इस समय महिलाओं में ओवेरियन कैंसर तेज़ी से फ़ैल रहा है। जो बीमारी 40 के पार उम्र कि महिलाओं में होता थी आज वह 25 से 30 की उम्र की महिलाओं में देखने को मिल रही है। उसी शोध में यह भी पता चला है कि जो महिलाएं दिन में दो कप से ज्यादा ब्लैक टी पीती हैं उनमें ओवेरियन कैंसर का खतरा ना के बराबर देखने को मिला है।

 3. मधुमेह से बचाये

3. मधुमेह से बचाये

इस चाय में दूध और चीनी नहीं होती है इसलिए मधुमेह के रोगी इसे बिना डरे पी सकते हैं। रोजाना ब्लैक टी के सेवन से डायबिटीज यानि मधुमेह होने की संभावना कम हो जाती है। इसके सेवन से ब्लड सर्कुलेशन सिस्टम से जुड़े तमाम रोग तथा टाइप 2 मधुमेह का भी खतरा बेहद कम हो जाता है।

 4. इम्युनिटी बढाती है

4. इम्युनिटी बढाती है

ब्लैक टी पीने से आपके शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को संक्रमण से लड़ने में बहुत मदद मिलती है। सर्दी-जुखाम जैसी आम बीमारियां ब्लैक टी पीने से एक दम गायब हो जाती हैं। ब्लैक टी में एल्काइलेमाइन एंटीजेंस पाये जाते हैं जो हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करती हैं। इसके साथ ही इसमें टेनिन्स भी पाए जाते हैं, जो वायरस से लड़ने की हमारी क्षमता को बढ़ाते हैं और हमें इंफ्लून्जा, पेट की गड़बड़ी और रोजमर्रा की जिंदगी में वायरस के कारण होने वाले बीमारियों से बचाने का काम करते हैं।

5. हड्डियों को बनाये मजबूत

5. हड्डियों को बनाये मजबूत

ब्लैक टी में पाये जाने वाले तत्वों के कारण यह हड्डियों को मजबूत बनाती है। हड्डियों को मजबूत बनाने और अर्थराइटिस के खतरे को कम करने में ब्लैक टी काफी मदद करती है। ऐसा इसमें पाये जाने वाले फिटोकेमिकल्स के कारण होता है। तो अगर आप 30 की उम्र को पार कर चुके हैं तो ब्लैक टी रोज़ पीएं। इससे बोन डेंसिटी, ऑस्टियोपोरोसिस, और फ्रैक्चर का खतरा कम करने के लिए काफी मदद मिलती है।

 6. पार्किंसंस से बचती है

6. पार्किंसंस से बचती है

पार्किंसंस जैसी बिमारी ज्यादातर तनाव, अस्वास्थ्य जीवन शैली, और जीन के कारण होती है। ब्लैक टी में मानसिक शांति पहुंचाने वाले गुण होते ये न सिर्फ यह आपको दिन भर की थकान से राहत दिलाने में मदद करती है, बल्कि एक शोध में यह भी प्रमाण‍ित हुआ है कि ब्लैक टी में पाया जाने वाला एमीनो एसिड एल-थ‍ियानाइन आपको आराम पहुंचाता है और साथ ही एकाग्रता में भी इजाफा करता है। इसका नियमित और संतुलित सेवन तनाव पैदा करने वाले हॉर्मोन कार्टिसोल के स्तर में भी गिरावट लाती है।

7. स्वस्थ पाचन तंत्र

7. स्वस्थ पाचन तंत्र

अगर आप पेट की समस्या से परेशान हैं तो ब्लैक टी आपके लिए काफी फायदेमंद होती हैं। इसमें टेनिन के गुण पाएं जाते हैं जो पाचन शक्ति को दुरस्त रखने में मदद करते हैं। इससे दस्त व गैस इत्यादि पेट से जुड़ी समस्या से छुटकारा मिलता हैं। दिनभर में एक कप का सेवन करने से आंत्र आंदोलन और पाचन तंत्र में सुधार आता है। ब्‍लैक टी से पाचन क्रिया तो मजबूत होती ही है साथ ही यह टेनिन्स आमाशय और आंतों की बीमारियों पर उपचारात्मक प्रभाव भी डालता है। इसलिए ब्‍लैक टी का इस्‍तेमाल नियमित रूप से करें

 8. कोलेस्ट्रॉल को कम करता है

8. कोलेस्ट्रॉल को कम करता है

ब्लैक टी का नित्य सेवन आपके कोलेस्ट्रॉल स्तर को नियंत्रित रखता है। जिसकी वजह से खुद ब खुद कई बीमारियों से बच जाते हैं। शरीर में दो तरह के कोलेस्ट्रॉल पाए जाते हैं पहला खराब कोलेस्ट्रॉल और दूसरा अच्छा कोलेस्ट्रॉल। कई बार गलत खान पान से या ज्यादा टला भुना खाने से शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाता है जिससे ब्लड प्रेशर, स्ट्रोक, इस्केमिक अटैक का खतरा बढ़ जाता है। ब्लैक टी में एंटी हाइपरकोलेस्ट्रोलेमल पाया जाता है जिससे 11.1% तक एलडीएल कोलेस्ट्रॉल कम होजाता है।

9. वजन कम करें ब्‍लैक टी

9. वजन कम करें ब्‍लैक टी

ब्‍लैक टी में पाए जाने वाले और वजन घटाने में प्रभावशाली थीफलेविन्स और थिरोबिगिन्स जैसे तत्वों का असर दूध कम कर देता है। दरअसल, ब्‍लैक टी में मौजूद ये तत्व शरीर की चर्बी घटाने और कोलेस्ट्रॉल कम करने में सहायक होते हैं। लेकिन दूध में प्रोटीन की मात्रा अधिक होने के कारण इनका प्रभाव कम हो जाता है। ब्‍लैक टी पीने से वजन कम होता है क्‍योंकि आप उसमें ना तो दूध मिलाते हैं और ना ही चीनी। ब्लैक टी के लिए हमेशा टी बैग का प्रयोग करें। इस तरह से आप अपनी कैलोरी काउंट कर सकते हैं। यदि आप रोजाना ब्‍लैक टी पीते हैं तो आपका वजन निंयत्रित रहता है जिससे आपको हार्ट स्‍ट्रोक का खतरा कम होगा। इसमें मौजूद फ्लेवेनॉइड खराब कोलेस्‍ट्रॉल को बनने से रोकता है। यानी हम यह कह सकते हैं कि वजन घटाने के लिए बिना दूध वाली चाय लाभकारी है और शरीर में मौजूद अतिरिक्त चर्बी और कॉलेस्ट्रॉल को घटाने में सहायक है।

10. किडनी स्टोन को ठीक करे

10. किडनी स्टोन को ठीक करे

कई लोग ब्लैक टी पीना पसंद करते हैं। तो अगर आप भी किडनी को स्वस्थ रखना चाहते है तो ब्लैक टी पीएं। इससे किडनी प्रॉब्लम्स नहीं होती। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर ब्लैक टी के सेवन से किडनी में स्टोन बनने का खतरा कम होता हैं। इसे साथ आप किडनी स्टोन के लिए आपने डॉक्टर से सलहा भी ले सकते हैं।

11. अस्थमा से राहत

11. अस्थमा से राहत

जब भी अस्थमा का अटैक आता है तो हवा का संचार करने वाली नालियों में सूजन हो जाती है जिसके कारण उनके आसपास की मसल्स टाइट हो जाती हैं। हांफना, तेजी से साँसों का चलना, खांसी आना और बात करने में तकलीफ होना अस्थमा के मुख्य लक्षण होते हैं। मा के मरीज को दौरे के दौरान ब्लैक टी तुरंत फायदा पहुंचा सकती है। कड़वी चाय अस्थमा अटैक को रोकने में मददगार साबित हो सकती है और इसे दमा के मरीजों के लिये शुरुवाती इलाज के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। ऐसा इसलिये क्योंकि शरीर के प्रत्येक कोशिका में टेस्ट रिसेप्टर होते हैं। इस कारण से अटैक के समय ब्लैक टी का कड़वा स्वाद, मसल्स को फैला देता है जिससे सांस लेना आसान हो जाता है।

 12. फ्री रैडिकल

12. फ्री रैडिकल

ब्लैक टी में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट्स जिससे शरीर से विषाक्त अणुओं को बाहर करने में मदद मिलती है। शरीर में फ्री रैडिकल प्रदूषण, और धूम्रपान के अधिक प्रभाव से होता है। नींबू के साथ ब्लैक टी को पीने से और भी फायदे होते हैं।

13. बैक्टीरिया को मारे

13. बैक्टीरिया को मारे

ब्लैक टी बॉडी में बैक्टीरिया को पनपने से रोकती है। ब्लैक टी में पाए जाने वाले एंटीऑक्सिडेंट और अन्य फ़िएंट्रिएन्ट्स में एंटीबायोटिक गुण होते हैं। जिससे शरीर में बैक्टीरिया संक्रमण को ठीक किया जा सकता है।

 14. तनाव से राहत

14. तनाव से राहत

ब्लैक टी में अमीनो एसिड एल-थेनीन होता है जो एकाग्रता का निर्माण करने में मदद करता है, मानसिक सतर्कता में सुधार करता है और आपकी स्मृति को बढ़ाता है यह तनाव का स्तर भी कम करता है और आपको आराम करने में मदद करता है।

15. अल्जाइमर रोग

15. अल्जाइमर रोग

एक नए अध्ययन से ये पता चला है कि ब्लैक टी में पाए जाने वाले केमिकल्स की मदद से या उनके सेवन से अल्जाइमर रोग के खतरों को कम किया जा सकता है। यूनिवर्सिटी ऑफ लीड्स के वैज्ञानिकों ने इसके बारे में अध्ययन किया जिसमें उन्होंने पाया है कि जो कुछ हानिकारक प्रोटीन के कारण न्यूरॉन्स पर अटैक किया जाता है। जिससे अल्जाइमर की बीमारी से बचा जा सकता है।

16. ओरल हेल्थ

16. ओरल हेल्थ

ब्लैक टी दांतो में प्लॉक का बनना रोकती है। साथ ही ब्लैक टी का सेवन बैक्टीरिया के विकास को रोकता है। ये बैक्टीरिया कैविटी और दांतों के सड़ने का कारण बनते हैं। ब्लैक टी में फ्लोराइड भरपूर मात्रा में होता है जो मुँह की दुर्गन्ध को दूर करता है और मुँह को नुकसानदायक जीवाणुओं से बचाता है।तो बस ब्लैक टी पीजिए और फैलाइए सांसों की खुशबू ना कि बदबू।

17. दिमाग सतर्क करती है

17. दिमाग सतर्क करती है

अधिकतर लोग सिर दर्द होने पर दूध वाली चाय पीना पसंद करते हैं लेकिन इसकी जगह आप बिना दूध वाली मतलब ब्लैक टी पीएं तो यह न केवल सिर दर्द ठीक करती है बल्कि अन्य काफी फायदे भी देती है। ब्लैक टी के सेवन से तनाव कम होता हैं। यह हमारे याददाश्त को बढ़ाने में भी मदद करती हैं। जिससे दिमाग सतर्क रहता है।

18. डायरिया ठीक करे

18. डायरिया ठीक करे

दस्त लगना या डायरिया एक बहुत ही कॉमन प्रॉब्लम होती है। खाने या पानी को लेकर कि गई थोड़ी सी लापरवाही भी इस समस्या का कारण बन सकती है। दस्त लगने पर शरीर के मिनरल्स और पानी शरीर से तेजी से बाहर हो जाते हैं, जिससे मरीज को कमजोरी महसूस होने लगती है। ऐसे में भोजन खाना और नुक्सान देह हो सकता है। इसलिए ब्लैक टी पीएं, इसमें एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं जिससे पाचन तंत्र ठीक रहता है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    18 Health Benefits of Having Black Tea

    Black tea health benefits include beneficial impact on boosting heart health, diarrhea, digestive problems, high blood pressure, lowering the risk of Type 2 diabetes and asthma.
    Story first published: Friday, November 17, 2017, 15:31 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more