बींस को भिगोकर खाने से होते हैं ये 3 फायदे

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

आपमें से अधिकतर लोग बींस को खाने या पकाने से पहले उसे कई घंटों तक भिगोकर रखते हैं। क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्यों किया जाता है या इससे क्या फायदे हैं? आपको बता दें कि सभी प्रकार के बींस इतने फायदेमंद होते हैं कि इन्हें सुपरफ़ूड की श्रेणी में रखा जाता है।

एक कप बींस से लगभग 15 ग्राम प्रोटीन मिल जाती है जिस वजह से शाकाहारी लोगों के लिए यह प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है। इसके अलावा इसमें विटामिन, मिनरल्स और फाइबर भी अधिक मात्रा में होता है।

फाइबर और प्रोटीन की अधिक मात्रा वजन कम करने में भी मदद करती है और सबसे अच्छी बात कि ये खाने में भी बहुत स्वादिष्ट लगते हैं। इसलिए आप अधिक से अधिक मात्रा में बींस का सेवन करें। इस आर्टिकल में हम आपको भिगोये हुए बींस के फायदों के बारे में बता रहे हैं।

 पेट फूलने की समस्या में कमी :

पेट फूलने की समस्या में कमी :

कई लोगों की ऐसी शिकायत होती है कि बींस खाने के बाद उनका पेट फूलने लगता है या एसिडिटी जैसी समस्या हो जाती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बींस में मौजूद दो कार्बोहाइड्रेट यौगिक स्टेचयोज और रैफीनोज ऐसे होते हैं जिन्हें विघटित करने वाले एंजाइम इंसानों के शरीर में नहीं होते हैं। लेकिन जब आप इन्हें देर तक भिगो देते हैं तो ये कार्बोहाइड्रेट खत्म हो जाते हैं और फिर से आसानी से पच जाते हैं और पेट फूलने जैसी समस्याओं से भी राहत मिल जाती है।

भिगोये हुए बींस पालीफेनोल को खत्म करते हैं :

भिगोये हुए बींस पालीफेनोल को खत्म करते हैं :

बींस में पालीफेनोल की मात्रा तो अधिक होती है लेकिन ये ऐसे एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं जो शरीर द्वारा पोषक तत्वों को अवशोषित करने की क्षमता में बाधा उत्पन्न करते हैं। जब आप बींस को देर तक भिगोकर रखते हैं तो उसमें पॉलीफेनोल ऑक्सीडेज़ नामक एंजाइम की मात्रा बढ़ जाती है जो पॉलीफेनोल को विघटित करने में मदद करता है और इस वजह से शरीर सभी तरह के विटामिन, मिनरल्स और प्रोटीन को अवशोषित करने में सक्षम हो जाता है।

 भिगोये हुए बींस फाईटिक एसिड की मात्रा कम करते हैं :

भिगोये हुए बींस फाईटिक एसिड की मात्रा कम करते हैं :

बींस में फॉस्फोरस, फाइटिक एसिड के रूप में मौजूद रहता है। फाईटिक एसिड शरीर द्वारा आयरन और जिंक को अवशोषित करने की क्षमता को बुरी तरह प्रभावित करता है। आयरन और जिंक की कमी से आपको कई तरह की बीमारियां भी हो सकती हैं। लेकिन जब आप बींस को भिगो देते हैं तो इस एसिड की मात्रा कम हो जाती है। इसके लिए आप बींस को गर्म पानी में भिगोयें।

बींस को भिगोने का सही तरीका :

बींस को भिगोने का सही तरीका :

  • सबसे पहले बींस में से टूटे या सड़े हुए बींस को निकालकर फेंक दें।अब इसे ठंडे पानी से अच्छे से साफ़ करें।
  • एक बर्तन में 2 कप बींस को लगभग 10 कप पानी में भिगोयें।
  • अब इस पानी को तीन मिनट के लिए गर्म करें।
  • उसके बाद इसे 4-5 घंटों के लिए ऐसे ही भिगोये रहने दें।
English summary

3 Health Benefits Of Soaking Dry Beans Before Cooking

It’s common to soak beans before cooking. But many people don’t even know why they do it!
Story first published: Saturday, July 22, 2017, 14:00 [IST]
Please Wait while comments are loading...