पाचन रहेगा हमेशा दुरुस्‍त अगर आजमाएंगे ये 7 आयुवेर्दिक टिप्‍स

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

क्‍या आपको हर दिन पाचन सम्‍बंधी समस्‍याएं जैसे - गैस, ऐंठन, पेट में असहज महसूस होना और कब्‍ज होना आदि बनी रहती हैं और आप कछ भी खाने से डरते हैं तो आपको आयुर्वेद अपनान चाहिए और इसके नुस्‍खों और इलाज को ध्‍यान में रखना चाहिए। पाचन के लिए 7 आयुर्वेदिक टिप्‍स निम्‍न प्रकार हैं:

1. मल्‍टीटास्किंग भोजन करना बंद करें -

1. मल्‍टीटास्किंग भोजन करना बंद करें -

कई बार कुछ-कुछ काम करते हुए आप बहुत सारी ऐसी चीजें खा जाते हैं जो आपके लिए हानिकारक हो सकती हैं। ऑफिस में डेस्‍क पर बैठे हुए, ट्रैफिक में फंसकर गाड़ी में बैठे हुए आदि समय पर आप जो खाते हैं वो काफी हानिकारक हो सकता है।

 खाने को एंजाय करें -

खाने को एंजाय करें -

खाने को जितना जरूरी हो उतना खाएं और पूरी तरह से एंजाय करें। आयुर्वेद के अनुसार, शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य को बनाने के लिए आपको पूरे मन से भोजन का सेवन करना आवश्‍यक होता है। जब भी आप खाना खाएं, आराम से बैठकर खाएं और सही मुद्रा में बैठें। इससे आपका पाचन सही रहेगा।

 पाचन फायर को उत्‍तेजित करें -

पाचन फायर को उत्‍तेजित करें -

एक टुकड़ा अदरक का लें और उसमें नींबू का रस मिलाये और इसमें थोड़ा नमक भी मिलाएं, इसे पानी में मिश्रित करके पी जाएं। इससे आपने जो भी गरिष्‍ठ भोजन किया होगा, वो आसानी से पच जाएगा। आयुर्वेद में भोजन को पचाने के लिए कई विधियों को बताया गया है जिनमें से एक विधि इस तरह के मिश्रण का सेवन करना है जिससे वसा भी घटता है और पाचन भी सही रहता है। यह विधि डायजेस्टिव फायर विधि कहलाती है।

 कोल्‍ड ड्रिंक और फूड्स को न खाएं -

कोल्‍ड ड्रिंक और फूड्स को न खाएं -

कोशिश करें कि आप कोल्‍ड ड्रिंक और फास्‍ट फूड का सेवन न करें। ये शरीर में बैड कोलेस्‍ट्रॉल को बढ़ा देती है और वसा भी ज्‍यादा कर देते हैं। साथ ही इससे पाचन प्रक्रिया भी सही नहीं रहती है। आप चाहें तो जूस को कमरे के तापमान पर रखकर पी सकते हैं। इसमें भी बर्फ न डालें तो अच्‍छा रहेगा।

सही दिनचर्या का पालन करें -

सही दिनचर्या का पालन करें -

आयुर्वेद के अनुसार, पाचन क्रिया को दुरूस्‍त बनाने के लिए आपको सही और नियमित दिनचर्या का पालन करना चाहिए। सुबह नाश्‍ता, दोपहर का भोजन और रात्रि में भोजन सही समय पर करें। रात को भोजन करने के तुरंत बाद न सोएं। दिन में भारी भोजन करें लेकिन रात्रि में हल्‍का भोजन लें। सुबह के समय पौष्टिक आहार लें। सुबह 8 बजे तक, दोपहर 1 बजे तक और रात को 8 बजे तक भोजन कर लें। इससे ज्‍यादा देरी करने पर आपकी पाचन क्रिया पर नकारात्‍मक प्रभाव पड़ सकता है।

लस्‍सी का सेवन करें -

लस्‍सी का सेवन करें -

भोजन को पचाने में लस्‍सी बहुत ही फायदेमंद होती है। यदि आपका पेट सही न हो या भोजन ज्‍यादा कर लिया हो, तो आप लस्‍सी पी लें। इससे पाचन सही से हो जाएगा। लेकिन लस्‍सी में इस्‍तेमाल किया जाने वाला दही ठंडा नहीं होना चाहिए और न ही आप इसमें बर्फ डालें।

English summary

7 Best Tips of Ayurveda For Digestion

Do you suffer from everyday digestion problems: gas, bloating, stomach discomfort, occasional constipation, occasional heartburn, or fatigue after eating?
Please Wait while comments are loading...